जो काम काशी में संजय गांधी नहीं कर पाए, वही काम मोदी-योगी की जोड़ी करने में सफल रही!



राम बहादुर राय काशी एक उत्सव फोटो प्रदर्शनी में
ISD Bureau
ISD Bureau

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र के डायरेक्टर तथा पत्रकारिता की दुनिया में चिरपरिचित नाम मान्यवर राम बहादुर राय ने “काशी एक उत्सव” फोटो प्रदर्शनी का निरीक्षण किया। नोएडा के सेक्टर दो स्थिति आईआईपी की फोटो गैलरी में काशी को जीवंत करने वाली फोटो प्रदर्शनी ‘काशी एक उत्सव’ अब अपने अवसान की ओर बढ़ चुका है। तीन नवंबर 2018 को इस फोटो प्रदर्शनी का समापन भी हो जाएगा।

मुख्य बिंदु

* वरिष्ठ पत्रकार राम बहादुर राय ने फोटो प्रदर्शनी के निरीक्षण के दौरान इसे और परिपूर्ण बनाने की प्रेरणा दी

* फोटो एकत्रित करने के इस दुष्कर कार्य की जहां सराहना की वहीं प्रयासों में हुई चूक की ओर भी इंगित किया

इस अवसर पर राम बहादुर राय ने कहा कि जो काम काशी में आपातकाल के दौरान संजय गांधी नहीं कर पाए, वही काम मोदी और योगी की जोड़ी करने में सफल रही है। उन्होंने कहा कि ललिता घाट से काशी विश्वनाथ मंदिर तक चौड़ी सड़क बनाने का सपना संजय गांधी ने देखा था। लेकिन वह पूरा नहीं हो पाया। उसी सपना को मोदी और योगी की युगल सरकार पूरा कर रही है।

काशी के ललिता घाट से बाबा विश्वनाथ मंदिर तक की सड़क की चौड़ीकरण। उन्होंने बताया कि यह काम संजय गांधी ने शुरू किया था। लेकिन बसावट इतनी घनी थी और इसके लिए इतने घरों को तोड़ना पड़ता कि विवाद भी हो सकता था। हालांकि संजय गांधी उसे पूरा करना चाहते थे। लेकिन जैसे ही इस बात की सूचना तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को मिली उन्होंने इस विकास कार्य को रुकवा दिया। लेकिन वही काम मोदी-योगी सरकार अब पूरा करने वाली है। कार्य की गति को देखते हुए कहा जा सकता है कि यह सड़क चुनाव से पहले बनकर तैयार हो जाएगी। इस सड़क के पूरा होती ही श्रद्धालु ललिता घाट से अपनी कार से काशी विश्वनाथ मंदिर तक दर्शन करने जा सकते हैं।

सवाल उठता है कि यह कार्य पूरा कैसे हो पाया? जब उस समय में विवाद का डर था तो फिर आज विवाद क्यों नहीं हुआ? इस संदर्भ में उनका कहना था कि इस सरकार में जमीन अधिग्रहण करने की नीति ही ऐसी बनाई है कि किसी को विकास के कार्य के लिए अपनी जमीन देने में दिक्कत ही नहीं होती। अब तो लोग मुआवजा के लालच में विकास कार्य के लिए खुश-खुशी अपनी जमीन देने को तैयार बैठे रहते हैं। इसी नीति के तहत योगी सरकार ने इस रास्ते में पड़ने वाले मकान मालिकों को इतना मुआवजा दिया है कि सभी लोग खुशी खुशी अपने घर छोड़ने को तैयार हो गए हैं।

अगर सभी कुछ ठीक रहा तो अगले चुनाव से पहले यह सड़क बनकर तैयार हो जाएगी। जो काम आपातकाल के दौरान दिवंगत संजय गांधी नहीं पूरा कर पाए उसे मोदी-योगी सरकार पूरा कर दिखाने वाली है।

URL: In ‘Kashi Ek Utsav’ photo exhibition IGNAC director Ram Bahadur Rai gave an exclusive at Kashi

Keywords: Kashi Ek Utsav, hoto exhibition, Ram Bahadur Rai, IGNAC director Ram Bahadur Rai, photo exhibition in noida, IIP Institute, UNRWA, IIP foundation, photo exhibition, काशी एक उत्सव, फोटो प्रदर्शनी, राम बहादुर राय, नोएडा में फोटो प्रदर्शनी, आईआईपी संस्थान, आईआईपी फाउंडेशन, आगामी फोटो प्रदर्शनी,


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !

About the Author

ISD Bureau
ISD Bureau
ISD is a premier News portal with a difference.