Warning: Cannot modify header information - headers already sent by (output started at /nfs/c12/h04/mnt/223577/domains/indiaspeaksdaily.com/html/wp-content/themes/isd/includes/mh-custom-functions.php:277) in /nfs/c12/h04/mnt/223577/domains/indiaspeaksdaily.com/html/wp-content/plugins/wpfront-notification-bar/classes/class-wpfront-notification-bar.php on line 68
संविधान एवं कानून की समीक्षा Archives - India Speaks Daily: Pressing stories behind the Indian Politics, Legislature, Judiciary, Political ideology, Media, History and society.

संविधान एवं कानून की समीक्षा

यूपी शिया केंद्रीय वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने समान नागरिक संहिता का किया समर्थन!

एक बार फिर देश में समान नागरिक संहिता पर बहस छिड़ने वाली है। लेकिन इस बार सरकार की तरफ से नहीं न ही…


इस देश में लोकतंत्र नहीं भीड़तंत्र है! जो संविधान में है, वह लागू नहीं है और जो संविधान में नहीं है वह भीड़ के दबाव में लागू है!

साथियों, हमारे देश में लोकतंत्र की नहीं बल्कि भीड़तंत्र है। यदि भीड़ इकट्ठी हो जाए तो सुप्रीम कोर्ट का फैसला बदल दिया जाता…


अल्पसंख्यकों के नाम पर दोहरी नीति क्यों? दशकों से कई राज्यों में बहुसंख्यक मुसलिमों को मिल रहा अल्पसंख्यकों का लाभ!

देश के जिन आठ प्रांतों में हिंदू अल्पसंख्यक है उनमें लक्ष्यद्वीप, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मिजोरम, मेघालय, मणिपुर, जम्मू-कश्मीर और पंजाब शामिल है।लेकिन इनमें…


आठ राज्यों में हिंदुओं को मिल सकता है अल्पसंख्यक का दर्जा! मुल्ले-मौलवी और पादरी कर रहे हैं विरोध!

देश के जिन आठ राज्यों में हिंदुओं की जनसंख्या कम है वहां उन्हें अल्पसंख्यक का दर्जा मिल सकता है। राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग (National…


फेक न्यूज पर केंद्र को निर्देश देने की याचिका सुप्रीम कोर्ट में दाखिल !

फेक न्यूज पर केंद्र सरकार के कदम पीछे खींच लेने के बाद भाजपा के एक नेता अश्विनी उपाध्याय ने सुप्रीम कोर्ट में फेक…


वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे ने कहा, प्रशांत भूषण और कपिल सिब्बल सीरीखे वकीलों के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट को कड़ी कार्रवाई करने की है जरूरत!

इन दिनों जिस प्रकार देश की न्यायपालिका और सुप्रीम कोर्ट को अपमानित करने का अभियान चल रहा है उसे देखते हुए वरिष्ठ वकील…


CJI Dipak Misra का एक निर्णय और मां-बेटे राजनीति से हो जाएंगे बाहर! इसीलिए डरी हुई है सोनिया-राहुल गांधी और उनकी लॉबी!

कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ महाभियोग लाने के लिए इतना बेचैन क्यों है? उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडु ने महाभियोग…


जाति और मजहब की जगह बाबा साहब अंबेडकर के सपनों को पूरा करने के लिए मतदान करें!

इस बार विधानसभा चुनाव में अपना वोट जाति या धर्म के आधार पर नहीं बल्कि बाबा साहब अंबेडकर के सपनों को पूरा करने…


समान शिक्षा नीति लागू किए बिना, भारतीय संविधान का कोई मतलब नहीं!

क्या वर्तमान शिक्षा व्यवस्था सबको समान अवसर उपलब्ध कराती है? क्या आप भी सहमत हैं कि बाबा साहब अंबेडकर और दीनदयाल उपाध्याय जी…



कानून में बदलाव किए बगैर Agustawestland‬ घोटाले में में घिरी ‘सिग्नोरा गांधी’ को सजा दिलाना नामुमकिन!

आदरणीय प्रधानमंत्री जी, आप तो यह जानते हैं कि सोनिया-मनमोहनजी के 10 साल के कार्यकाल में 10 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा का…


लोकतंत्र या लोभतंत्र!

वोटबैंक की राजनीति के कारण भारतीय संविधान अभीतक लगभग 75% ही लागू किया गया ! अनुच्छेद-44 (समान नागरिक संहिता), अनुच्छेद-48 (गौ हत्या प्रतिबंध),…


मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट को चेतावनी दे डाली कि वह समान नागरिक संहिता लागू करने की कोशिश न करे!

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) ने साफ शब्‍दों में सुप्रीम कोर्ट को चेताया है कि वह समान नागरिक संहिता लागू करने की कोशिश…


बाबा साहब अंबेडकर का अधूरा सपना!

संविधान निर्माता बाबासाहब अंबेडकर, सरदार पटेल, श्यामाप्रसाद मुख़र्जी, डाo राजेंद्र प्रसाद, सर्वपल्ली राधाकृष्णन और देश के शहीदों को सबसे बड़ी श्रद्धांजली यह होगी…