सनातन हिंदू धर्म

क्रिश्चियनिटी में मेरी सिर्फ जीसस की जननी हैं जबकि सनातन धर्म में दुर्गा जगत जननी!

वर्तमान कभी पूर्ण नहीं होता वह इतिहास और भविष्य का संधि स्थल होता है। जहां इतिहास उसे सबल बनता है वहीं अपने भविष्य…



जानिए, नवरात्र में घट स्थापना और अखंड ज्योति प्रज्वलित करने का शुभ मुहर्त !

पं. हेमंत रिछारिया। 10 अक्टूबर से शारदीय नवरात्र प्रारंभ होने जा रही है। नवरात्र के यह नौ दिन मां दुर्गा की पूजा-उपासना के…


हरतालिका तीज और हिंदू दर्शन!

आज हमारे यहां हरतालिका तीज है। गांव में मां, और यहां दिल्ली में श्रीमती श्वेता देव और मेरे छोटे भाई की पत्नी मीनू…


यदि शेर अकेला हो तो कुत्ते भी उसका शिकार कर लेते हैं, जरूरी है ‘हिंदू’ एक हों!

स्वामी विवेकानंद के शिकागो में ऐतिहासिक भाषण की 125वीं वर्षगांठ के मौके पर एक बार फिर शिकागो में ही विश्व हिंदू सम्मेलन का…


पांच हज़ार साल से जलमग्न द्वारका न केवल कृष्ण की वास्तविकता पर मोहर लगाती है बल्कि ये भी बताती है कि सबसे पहले भारतीयों ने समुद्र की छाती चीरकर घर बनाना सीखा था।

प्राचीन काल में दो निर्माण ऐसे हुए, जिनसे भारतीयों की विलक्षण इंजीनियरिंग का पता चलता है। रामसेतु और द्वारिका नगरी के निर्माण की…


क्या हैं कृष्ण की 16 कलाएं जो उन्हें सम्पूर्ण बनाती है!

राम 12 कलाओं के ज्ञाता थे तो भगवान श्रीकृष्ण सभी 16 कलाओं के ज्ञाता हैं। चंद्रमा की सोलह कलाएं होती हैं। सोलह श्रृंगार…


श्रीकृष्ण और बलराम की कथा से बुना गया है सारे अरबी मजहब का ताना-बाना!

अभिजीत सिंह। महाभारत युद्ध की समाप्ति के पश्चात् जब युधिष्ठिर का राजतिलक हो रहा था तब ये सब देखकर अपने पुत्रों को खो…


कृष्ण के प्रेम में देह नहीं थी! जिसको समझना केवल योगियों के बस में है।

मधुसूदन व्यास। कृष्ण के व्यक्तित्व की विशेषता है,जो मिला उसे तत्काल छोड़ता गया मिटाता गया। मथुरा मिली छोड़ दी। महाभारत युद्ध में शस्त्र…


जगन्नाथपुरी की रथ यात्रा: विश्व में केवल यही एक मंदिर है जहाँ भगवान शरीर बदलते हैं।

Govind Raj Naidu। जगन्नाथपुरी की रथ यात्रा हिन्दू कैलेंडर के अनुसार आषाढ़ मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीया में प्रारम्भ होती है। हिन्दू…


पैगंबर मोहम्मद का जब जन्म भी नहीं हुआ था, तब से अमरनाथ गुफा में हो रही है पूजा-अर्चना! इसलिए इस झूठ को नकारिए कि अमरनाथ गुफा की खोज एक मुसलिम ने की थी!

कल बाबा बर्फानी के दर्शन के अमरनाथ यात्रा शुरू हो गयी है। अमरनाथ यात्रा शुरू होते ही फिर से सेक्युलरिज्म के झंडबदारों ने…



एक राजा जो अपनी न्यायप्रियता के कारण बन गया न्याय का देवता ग्वैल उर्फ गोलूदेव!

भारत परंपराओं और आस्था का देश है। यदि मानवता के लिए किसी ने कभी कुछ किया है तो जन सामान्य उसे सम्मान देने…



आर्य समाज कौन से पुराणों को मानता है और कौन से नहीं ?

चारों वेदों के चार व्याख्या ग्रंथ हैं जिनको ब्राह्मणग्रंथ कहते हैं! जो हैं ऐतरेय, तैत्तरीय, शतपथ एवम गोपथ। इन्हीं ब्राह्मणग्रंथों को पांच नामों…



ॐ का उच्चारण एक सम्पूर्ण योग है, जो शरीर में मौजूद पञ्चतवों को नियंत्रित करता है!

संयुक्त राष्ट्र के 175 देशों की सर्वसम्मति 21 जून को विश्व योग दिवस घोषित किया है. प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की विशेष प्रयास…


हिंदू धर्म को जानना है तो पहले वैदिक साहित्य को समझिए!

वेद पूरे भारतीय—यूरोपीय भाषा परिवार के प्राचीनतम साहित्य के रूप में समादृत रहे हैं। इनके रचनाकाल का निर्धारण बड़ी कठिन समस्या रही है।…