मेनस्ट्रीम मीडिया

प्रेस क्लब बना गुंडों का अड्डा! रवीश का नया संपादक शाहिला और कन्हैया! पत्रकार कलम-कैमरे से नहीं लात-घूंसों से करेंगे बात!

एक पत्रकार होने के नाते अपनी ही बिरादरी के लोगों को सार्वजनिक रूप से भला-बुरा कहना ठीक नहीं है। लेकिन गौरी लंकेश की…



गौरी लंकेश हत्या का निहितार्थ!

पत्रकारों की हत्या दुर्भाग्यपूर्ण है, लेकिन पत्रकारों का आतंकियों, अलगाववादियों, नक्सलियों, देश तोड़ने वाले तत्वों से सांठ-गांठ भी बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है! अभी-अभी देश…


नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बने तीन साल से अधिक हो चुके हैं, लेकिन आज भी मीडिया उनके साथ शत्रुओं जैसा व्यवहार कर रही है! अब तो हाईकोर्ट ने भी इसे माना है!

कल पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने मीडिया पर जो टिप्पणी की है, वह कहीं न कहीं गैर जिम्मेदार और तानाशाही रवैया अख्तियार करने…


लुटियन्स मीडिया के लिए अहमद पटेल की जीत के मायने यदि समझना है तो आप मेरी आपबीती से समझ सकते हैं!

कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी के राजनीति सचिव अहमद पटेल राज्यसभा में जीतने में सफल रहे। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की लगायी…


रवीश कुमार आपको सीबीआई अधिकारी की घुटन की बड़ी चिंता है?

कई बार सोचता हूं अपने मालिक पर हो रही कानूनी कारवायी को पत्रकारिता पर हमला कह कर हंगामा मचाने और ड्यूटी के दौरान…


रवीश! निष्पक्ष बहस करने की NDTV की हैसियत नहीं और बात करते हो आमने-सामने कैमरा लाइव की? बहस करोगे, है हिम्मत?

एनडीटीवी पर सीबीआई छापे के विरोध में उसके बकैत एंकर रवीश कुमार ने अपने फेसबुक पोस्ट के जरिए फिर से लफ्फाजी कर शहीद…


राममंदिर को लेकर दैनिक भास्कर की एजेंडावादी पत्रकारिता जारी है।

रामगोपाल। दैनिक भास्कर के 13 अप्रैल, 2017 के अंक में ‘संविधान के अनुकूल नहीं है संघ प्रमुख की दलील’ शीर्षक से संपादकीय पढ़…


प्रधानमंत्री मोदी का रोड शो, अखिलेश-राहुल से ज्यादा उर्मिलेश यादव-राजदीप सरदेसाई को खल रहा है!

पत्रकारिता की आड़ में एजेंडा चलाने वाले उर्मिलेश सॉरी उर्मिलेश यादव बेचैन हैं कि उनका यादवराज उप्र से कहीं ढह न जाए! वैसे…


मीडिया की अंदरूनी लड़ाई सड़क पर उतरी, भाजपा के पक्ष में सर्वे छापते ही दैनिक जागरण के खिलाफ सभी अंग्रेजी व वाम मीडिया ने खोला मोर्चा!

उत्तरप्रदेश के पहले चरण में 73 सीटों पर हुए चुनाव के बाद देश के सबसे बड़े हिंदी अखबार दैनिक जागरण ने मतदाताओं से…