व्यंग्य

कर्नाटक चुनाव के बाद सिंघम मोदी के डर से जयकांत सिकरे फरार! एयरपोर्ट पर देखा गया!

मैं रील लाइफ में विलन था! रे मोदिया तूने मुझे रियल लाइफ में विलन बना दिया! बु..हु.हु..हु! हाथ में छाता लिए, बगल में…


शुक्र है शेखर गुप्ता कि कर्नाटक में भाजपा की सरकार नहीं है, अन्यथा क्लब से फेंके जाने पर आप पूरी दुनिया में भारत को बदनाम कर चुके होते!

बुरा मान भी लोगे तो क्या करोगे…? कर्नाटक विधानसभा चुनाव-2018 का प्रचार जोरों पर है। बड़े-बड़े लुटियन पत्रकार चुनाव कवरेज के लिए कर्नाटक…


यदि मैं लोकसभा में 15 मिनट बोलूंगा तो…!’ सोनिया गांधी के नमूने हो जाओ शुरु और ठोको..ताली!

बुरा मान भी लोगे तो क्या करोगे…? मूर्खता में भी संभावना की तलाश जो कर सकता है, वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ही…


राष्ट्रहित की पत्रकारिता को सपोर्ट करें!

 

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है। देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें! धन्यवाद !