इतिहास

इरफ़ान हबीब असली इतिहास पढें, मुगलों की किताब में दर्ज है कि हिंदुओं की पहचान मिटाने के लिए उन्होंने बदले थे शहरों के नाम!

आज जब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज किया है तो एक बार फिर इरफान हबीब जैसे इतिहासकार…


भारतीय महिलाओं में जीजाबाई वाले जज्बे की जरूरत है, न कि तनुश्री जैसा ‘क्रिप्टो-प्रोपोगंडाई’ फितरत की!

आज जब भारतीय स्त्रियों और पुरुषों को लेकर के शिकारी और शिकार की ही कहानी बन गयी है, ऐसे में बहुत जरूरत है…


बादशाह अकबर की बीबी और उसके बेटे जहांगीर के बीच अवैध यौन संबंध को ढंकने के लिए गढ़ी गई सलीम-अनारकली की दास्तान-ए-मोहब्बत!

आज सलीम अनारकली, एक मुगल शहजादे सलीम, जो बाद में बादशाह जहांगीर बना और महल की बांदी अनारकली के मुहब्बत की कहानी को…


गांधी जी और शास्‍त्री जी में कुछ समानता, लेकिन ढेर सारी असमानता!

महात्‍मा गांधी व लालबहादुर शास्‍त्री- दोनों की जयंती एक ही दिन होती है। दोनों में कुछ बातें समान थीं, जैसे- दोनों बेहद सादगी…



लालबहादुर शास्त्री की मौत से पर्दा उठाने के तीन गंभीर प्रयास!

शास्त्री की मौत को लेकर हाल-फिलहाल तीन गंभीर प्रयास किए गये हैं। पहला, केंद्रीय सूचना आयोग ने शास्त्री जी के अंतिम संस्कार और…


सारागढ़ी युद्ध- 21 सिख सूरमाओं के अद्भुत शौर्य की गाथा!

वामपंथी इतिहासकारों ने भारत के भूतकाल से बहुत छल किया! भारत के गौरवशाली अतीत को अपने चाटुकारिता वाले शब्दों से भरे इतिहास के…


‘दशराज्ञ महायुद्ध’- ऋग्वेद में वर्णित दुनिया का पहला युद्ध!

डा आंबेडकर ने ‘शूद्र कौन’ पुस्तक में ऋग्वेद में वर्णित दसराज्ञ युद्ध के आधार पर साबित किया है कि आर्य मूल रूप से…


छल से वेदांत के बहाने डॉ राधाकृष्णन ने ईसायत को स्थापित करने का किया था प्रयास!

कल शिक्षक दिवस था। देश के पहले उपराष्ट्रपति डॉ राधाकृष्णन की याद में मनाए जाने वाले इस दिवस के दिन उनके असली चेहरे…


अचरज…कैलाश पर्वत की तलहटी में एक दिन होता है ‘एक माह’ के बराबर!

कैलाश की दिव्यता खोजियों को ऐसे आकर्षित करती रही है, जैसे खगोलविद आकाशगंगाओं की दमकती आभा को देखकर सम्मोहित हो जाते हैं। शताब्दियों…


भारतीय शिक्षा प्रणाली- पाठ्यपुस्तक लिखने वालों को काटे हुए है एक विचारधारा का कीड़ा!

सूर्य सिद्धांत स्पष्ट करता है कि – “सर्वत्रैय महीगोले स्वस्थामुपरिस्थितम्। मन्यन्ते खेयतो गोलस्तस्यक्कोर्ध्वक्कवोप्यध:” अर्थात यह पृथ्वी गोल है इसलिये हम सभी अपने अपने…



वामपंथी और तथाकथित बुद्धिजीवियों ने प्राचीन भारतीय विमान प्रौद्योगिकी पर तथ्यहीन शोध पत्र के झूठ को फैलाया!

मेरे आलेख “वैमानिक शास्त्र – कल्पना और विचारधारा” से असहमत मित्र ने एक शोधपत्र भेजा – “अ क्रिटिकल स्टडी ऑफ द वर्क –…


वैदिक विमान- जब दुनिया ठीक से नेकर सिलना नहीं जानती थी, भारतीय ग्रंथों में सैंकडो बार वायु-मार्ग और विमान शब्द का हुआ था प्रयोग!

वैमानिक शास्त्र में मेरी जिज्ञासा थी। इसका कारण पुष्पक विमान नहीं बल्कि वामपंथी खेमे के पत्र-पत्रिकाओं व वेबसाईट पर प्रकाशित वे आलेख थे…


9 अगस्त की क्रांति, कम्युनिस्टों का देशद्रोह और नेहरू की अंग्रेज भक्ति!

आज 9 अगस्त है। आज ही के दिन 1942 में महात्मा गांधी ने ‘अंग्रेजों भारत छोड़ो’ को क्रियान्वित किया था। आज राहुल गांधी…



प्राचीन भारत अतिशयोक्ति का भंडार या षड्यंत्र का शिकार? पढ़िये चीनी प्रोफेसर का अद्भुत विश्लेषण!

Pak L. Huide। जो देश अपने इतिहास पर गर्व नहीं कर सकता वह कभी तरक्की नहीं कर सकता। चीनी मूल के कनाडा में…


मुसलमान और ईसाई जगन्नाथ मंदिर में घुसने के लिए इतने उतावले क्यों?

उड़ीसा की पुरी स्थित जगन्नाथ मंदिर में गैर हिंदुओं के प्रवेश को लेकर एक हिंदू वकील मृणालिनी पाधी ने याचिका दायर की है।…


क्यों न नेहरु के नाम पर बने फुटबाल स्टेडियमों का दोबारा नामकरण हो, नेहरु ने ही किया था भारतीय फुटबॉल का बेड़ा गर्क!

फीफा वर्ल्ड कप फुटबॉल टूर्नामेंट का कल समापन हुआ। अक्सर लोगों के मन में सवाल उठता है कि भारत जैसा बड़ा देश आखिर…


अमेरिकी पुरातत्वविद ने माना कि ताजमहल एक हिंदू भवन है।

भारत के मशहूर इतिहासकार पुरुषोत्तम नागेश ओक ने ताजमहल को हिंदू संरचना साबित किया था। तब नेहरूवादी और मार्क्सवादी इतिहासकारों ने उनका खूब…