DDA के भ्रष्‍टाचार की भेंट चढ़ी द्वारका की सड़क!

Category:

Delhi Development Authority (DDA) के भ्रष्‍टाचार का नमूना यदि कहीं देखना हो तो आप द्वारका की सड़कों पर निकल जाइए। करोडों की लागत से जिन सड़कों का निर्माण कराया गया है, उनमें जमकर घटिया मेटेरियल का उपयोग हुआ है। बनने के साथ ही सड़कों पर पड़ने वाले खड्डे डीडीए के भ्रष्‍टाचार का जीता-जागता सबूत है।

हद तो यह है कि स्‍थानीय निवासियों की शिकायत के बावजूद डीडीए अधिकारी निर्माण में लगी निजी एजेंसी को पूरा पेमेंट करते चले जा रहे हैं। जनता के मेहनत की कमाई को भ्रष्‍टाचार की भेंट चढ़ाया जा रहा है। लोगों का आरोप है कि डीडीए अधिकारियों ने निजी कंपनी के साथ सांठगांठ की है और उनके साथ मिलकर जनता के धन का गबन किया है। सच क्‍या है, यह आपको वहां की सड़क को देखकर ही पता चलेगा। देखिए आखिर किस तरह से डीडीए के नाक के नीचे घटिया सड़क का निर्माण चल रहा है-

Comments

comments



Be the first to comment on "महात्मा गांधी के सपने को साकार कर रहे हैं सुलभ इंटेरनेशनल के संस्थापक डॉक्टर बिंदेश्वर पाठक!"

Leave a comment

Your email address will not be published.

*