हाउसफुल-३; गर्मी के मौसम में कॉमेडी की ठंडी फुहार !

Posted On: June 7, 2016

हाउसफुल फिल्म श्रृंखला की तीसरी कड़ी ले कर आ रहे हैं साजिद नाडियाडवाला,२०१०,२०१२ में भी हाउसफुल १ और २ से दर्शकों को गुदगुदा चुके हैं !

हाउसफुल सीरीज की तीसरी फिल्म इस शुक्रवार को रिलीज हो गयी, इंग्लैण्ड की लोकेशन में फिल्माई हाउसफुल-३ का सबसे मजबूत पक्ष इसकी लोकेशन है; हाउसफुल सीरीज मल्टी कलाकारों के लिए भी जानी जाती है! हॉउसफुल-३ में इस बार अभिषेक बच्चन को लाया गया है; कॉमेडी के तड़के को बढ़ाने के लिए, बोमन ईरानी अपने पिछले किरदार बटुक पटेल के साथ न्याय करते नजर आएंगे ।

फिल्म की कहानी हंसी-ठहाकों के साथ आगे बढ़ती है; इंटरवल से पहले की कहानी में आप कही-कहीं जबरदस्ती हंसने के लिए मजबूर हो सकते हैं लेकिन इंटरवल के बाद जैकी श्रॉफ के आगमन द्वारा फिल्म की कहानी में सस्पेंस का तड़का लगाने की कोशिश की है; जो आपको सीट से उठने नहीं देगी। जैकी श्रॉफ की बीती जिंदगी जुर्म से थी। कॉमेडी,रहस्य के तड़के को परदे पर उतारने की कोशिश की गयी है। यह सच है सिनेमाहॉल से निकलते समय दर्शकों की चहरे में हंसी साफ़ झलक रही थी खासकर बच्चों के ।

कॉमेडी बनाना अपने आप में एक मुश्किल काम है; अक्षय कॉमेडी को इतना आसान बना देते हैं कि सह-कलाकारों में से दवाब हट जाता है! रितेश देशमुख ने भी अपनी कॉमेडी को सहज बना लिया है या यों कह लीजिए कॉमेडी इनका सबसे मजबूत पक्ष है; हिंदी फिल्मों की बात बिना हीरोइन की करना बेईमानी है! जैकलीन,लीज़ा और फाकरी अपने दोनों किरदारों में खूबसूरत लग रही हैं।

अगर आप सोशल मीडिया से भली भांति जुड़े हैं; तो आप को लगेगा कि कुछ संवाद आपने पहले सुने हैं जैसे ‘जिंदगी सीधी होनी चाहिए उल्टा तो तारक मेहता का चश्मा भी है’; कुल मिलाकर हाउसफुल-३ गर्मी की इस मौसम में कॉमेडी की ठंडी फुहारों से गुदगुदाएगी। आपको लगेगा आपके पैसे बर्बाद नहीं हुए बस शर्त यह है कि आप कॉमेडी में लॉजिक नहीं ढूढते हों ।

Comments

comments



Be the first to comment on "केजरीवाल के नकलची राहुल, पीएम मोदी पर आरोप लगाने से पहले सुप्रीम कोर्ट का बयान तो पढ़ लेते!"

Leave a comment

Your email address will not be published.

*