भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है जहाँ सभी धर्मों का सम्मान होता है; इरफ़ान खान !

Category:
Posted On: June 30, 2016

इरफ़ान खान की गिनती देश के कुछ संवेदनशील कलाकारों में होती है. आज कल वह अपनी आने वाली फिल्म मदारी के प्रमोशन के लिए जयपुर में है. १५ जुलाई को उनकी फिल्म सिनेमा घरों में प्रदर्शित होगी !

मदारी के प्रमोशन के दौरान उन्होंने कहा की भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है जहाँ सभी धर्मों का सम्मान होता है, वे खुशकिस्मत है की उन्होंने यहाँ जन्म लिया है ! उन्होंने कहा की ज्यादातर धर्मों ने अपने रीती रिवाजों को गलत अर्थ में ले लिया है,किसी धर्म की सम्पूर्ण जानकारी से ही धर्म का सम्मान हो सकता है.

इरफ़ान ने ‘ईद उल जुहा’ में दी जाने वाली कुर्बानी के विषय में कहा हर आदमी अपने दिल से पूछे की कैसे किसी और की जान लेने से उसे पुण्य मिल सकता है! वैसे भी खरीद कर दिए जाने वाले बकरे की कुर्बानी कैसे क़ुबूल हो सकती है जबकि कुर्बानी का मतलब अपनी किसी प्यारी चीज को बलिदान करना होता है, दो दिन पहले खरीदे गए बकरे से कैसे लगाव हो सकता है और कैसे उसकी कुर्बानी से दुआ कबूल हो पायेगी !

Comments

comments



Be the first to comment on "पंडित मदन मोहन मालवीय ने सनातन धर्म के लिए ठुकरा दिया था गवर्नल जनरल का आग्रह !"

Leave a comment

Your email address will not be published.

*