कब आएगा ‘केजरी स्‍वराज’?

अरविंद केजरीवाल जी, आपने दिल्ली में जनलोकपाल बिल और स्वराज बिल पास करने का वादा किया था! 49दिन की सरकार के 48वें दिन (13-02-2014) आपकी अध्यक्षता में दिल्ली मंत्रिमंडल ने स्वराजबिल पास भी किया था, लेकिन अगले ही दिन आपने स्तीफा दे दिया! अब आपके पास ऐतिहासिक बहुमत है लेकिन एक वर्ष बाद भी आपने स्वराजबिल को विधानसभा से पास नहीं कराया!

आपने जनलोकपाल बिल और स्वराज बिल के नाम पर आंदोलन किया! जनलोकपाल और स्वराज बिल के नाम पर पार्टी बनाई और वादा किया था कि बहुमत मिलने पर 30 दिन के अंदर जनलोकपाल और स्वराज बिल पास कर देंगे! आपकी टोपी पर लिखा होता था “मुझे चाहिए जनलोकपाल” और “मुझे चाहिये स्वराज”, लेकिन ऐतिहासिक बहुमत मिलने के बाद भी आपने जनलोकपाल और स्वराज बिल को अभीतक मूलरूप में पास नहीं किया!

आपने जिस प्रकार जनलोकपाल बिल के नाम पर एक लूला-लंगड़ा-कमजोर बिल पास किया और स्वराज बिल को भूल गये, उससे स्पष्ट हैं कि आप भ्रष्ट नेताओं को बचा रहे हैं! विधायकों के मुकदमों को फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में भेजने के लिए अभी तक आपने दिल्ली हाईकोर्ट को चिट्ठी भी नहीं लिखी, इससे स्पष्ट हैं कि न तो आपकी नीयत ठीक है और न ही नीति!

मैं आपसे विनम्रतापूर्वक निवेदन करता हूँ कि आज से शुरू हो रहे विधानसभा सत्र में स्वराज बिल को पास करें और विधायकों के मुकदमों को फ़ास्टट्रैक कोर्ट में भेजने के लिए तत्काल हाईकोर्ट को चिट्ठी लिखें!

Web Title: kab aayega kejriwal ka Janlokpal?
Keywords: अरविंद केजरीवाल| केजरीवाल| केजरीवाल का स्‍वराजबिल| जन लोकपाल| लोकपाल| Jan Lokpal Bill| Arvind kejriwal news|

Comments

comments

About the Author

Ashwini Upadhyay
Ashwini Upadhyay
Ashwini Upadhyay is a leading advocate in Supreme Court of India. He is also a Spokesperson for BJP, Delhi unit.


Be the first to comment on "LARGEST SINGLE PARTY Vs A COMBINATION WITH MAJORITY SUPPORT"

Leave a comment

Your email address will not be published.

*