अरुण जेटली ने घुटने टेके, काम आया मोदी का स्वामी अस्त्र !

Posted On: June 28, 2016

#अनुजअग्रवाल,संपादक,डायलॉगइंडिया

मोदी का स्वामी ब्रह्मास्त्र काम कर गया। डायलॉग इंडिया की यह खबर कि मोदी मंत्रिमण्डल विस्तार में जेटली कैम्प का सफाया कर सकते हें और सुब्रमणियम स्वामी के कंधे पर बन्दूक रख मोदी जेटली केम्प के लोगों पर निशाना साध रहे हें, ने जेटली कैम्प में हड़कंप मचा दिया। संकट में कुर्सी जान जेटली एक दिन पहले ही चीन का दौरा पूरा कर भारत वापस लौटे और मोदी के आगे समर्पण कर दिया।

भारत में इंग्लैंड और अमेरिका के भोंपू टाइम्स ऑफ़ इंडिया ग्रुप के न्यूज़ चैंनल पर आनन् फानन में जेटली ने मोदी का इंटरव्यू आयोजित कराया और वो चैनल जो मोदी पर हावी रहता था और जेटली के ईशारों पर काम करता था आज मोदी के आगे दुम हिलाता नज़र आया। जेटली अपने पश्चमी आकाओ को यह संदेश देना चाहते थे के उनकी मोदी सरकार पर पकड़ बरकरार है और मोदी के लिए यह अवसर था जब नाटो देशों को संकेत दे सके के अब देश के वित्त मंत्रालय पर उनका नियंत्रण स्थापित हो गया है और वे जेटली को अपने कब्जे में कर चुके हें और यह उन्होंने बखूबी दे दिया।

जेटली की फिलहाल की कवायद शायद उनका मंत्री पद तो बचा दे किंतू अब उनका न तो पहले जैसा रुतबा बचेगा और न ही अधिकार। मोदी अगले तीन चार महीनों में वित्त और सुचना प्रसारण मंत्रालयों पर अपना कब्ज़ा जमा और जी एस टी पास करा जेटली और उनके प्यादों को चलता कर सकते हें। जिसकी शुरुआत आगामी मंत्रिमंडल फेरबदल से हो सकती है। जहाँ तक स्वामी का प्रश्न है, भले ही मोदी ने औपचारिक इंटरव्यू में उन्हें उलाहने दिए हो किंतू अंदरखाने अभी भी वो मोदी की पहली पसंद हें और उनकी बिना मंत्री पद के भी प्रभावी भूमिका बनी रहेगी।

Comments

comments



Be the first to comment on "विषैले राजनीतिक विचारों के प्रचार में चलाया जाता रहा है उच्च शिक्षा के लिए दिया जाने वाला बजट !"

Leave a comment

Your email address will not be published.


*