ज़्यादा जीना चाहते हैं तो इन तरीकों को अपना कर देखें!



Pedestrian matters (File Photo)
Manisha Pandey
Manisha Pandey

बेशक ज़्यादा चलने से आपकी चप्पल घिस जाए मगर ये आप कि ज़िन्दगी को और बढ़ा सकती है। अगर आप चलने से कतराते हैं तो अब चलना शुरू कर दीजिये क्योंकि चहलकदमी की रफ्तार तेज़ कर आप अपने जीवन के कुछ साल और बढ़ा सकते हैं। ऐसा हम नहीं बल्कि ऑस्ट्रेलिया की एक रिपोर्ट कह रही है। यूनिवर्सिटी ऑफ़ सिडनी के वैज्ञानिकों का कहना है कि जल्दी मौत के खतरे को तेज गति से चलने से बहुत हद तक कम किया जा सकता है। एक रिपोर्ट के मुताबिक हल्की चहलकदमी की तुलना में औसत गति की चाल किसी भी कारण से होने वाली मौत में 20 प्रतिशत तक कमी करती है,
जबकि तेज गति से चलने से इस खतरे को 24 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है।

एक नए अध्ययन के मुताबिक, चाल की गति के प्रभाव को बुजुर्गों में ज्यादा स्पष्ट तौर पर देखा गया। औसत गति से चलने वाले 60 साल या उससे ज्यादा उम्र के व्यक्तियों में दिल संबंधी बीमारियों से होने वाली मौत के जोखिम में 46 प्रतिशत कमी दर्ज की गई वहीं तेज चलने वालों में यह कमी 53 प्रतिशत रही। ऑस्ट्रेलिया की यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी के एमैनुएल स्टैमाटाकिस ने कहा, “आम तौर पर तेज गति यानि प्रति घंटे पांच से सात किलोमीटर चलना चाहिए। हालांकि यह चलने वाली की सेहत के स्तर पर भी निर्भर करता है। इसका एक वैकल्पिक सूचक यह है कि ऐसी गति से चलें जिससे रुकने पर आपकी सांस फूले या आपको पसीना आए!” इसका मतलब आप औसत गति से चल रहे हैं। यह अध्ययन ब्रिटिश जर्नल ऑफ स्पोर्ट्स मेडिसिन में प्रकाशित हुआ है।

तो फिर आप सोच क्या रहे हैं? अगर छोटी-छोटी दूरी तय करने से आप अब तक बचते आ रहे हैं तो आज से ही अपने चलने कि प्रवृति को बढ़ाना शुरू कर दीजिये।

URL: Research said keep walking for increase life

Keywords: व्यायाम, स्वास्थ्य विज्ञान, स्वास्थ्य युक्तियाँ, Pedestrian matters, Exercise, Health Sciences, health tips, daily walking, daily walk benefits


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !