indian constitution

यदि संविधान को तत्काल सौ प्रतिशत लागू नहीं किया तो 20-25 साल के बाद भारत की स्थिति बहुत खतरनाक हो जाएगी; अश्विनी उपाध्याय

साथियो… देश की एकता और अखंडता के लिए देश के संविधान को शत-प्रतिशत लागू करना बहुत जरूरी है, अगर तत्काल संविधान को सौ…


अल्पसंख्यकों के नाम पर दोहरी नीति क्यों? दशकों से कई राज्यों में बहुसंख्यक मुसलिमों को मिल रहा अल्पसंख्यकों का लाभ!

देश के जिन आठ प्रांतों में हिंदू अल्पसंख्यक है उनमें लक्ष्यद्वीप, अरुणाचल प्रदेश, नागालैंड, मिजोरम, मेघालय, मणिपुर, जम्मू-कश्मीर और पंजाब शामिल है।लेकिन इनमें…


आठ राज्यों में हिंदुओं को मिल सकता है अल्पसंख्यक का दर्जा! मुल्ले-मौलवी और पादरी कर रहे हैं विरोध!

देश के जिन आठ राज्यों में हिंदुओं की जनसंख्या कम है वहां उन्हें अल्पसंख्यक का दर्जा मिल सकता है। राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग (National…




No Picture

उत्तर प्रदेश के चुनावी दंगल में मोदी सरकार का ‘भोजपुरी’ दांव!

उम्मीद है कि उत्तरप्रदेश चुनाव से पूर्व मोदी सरकार भोजपुरी भाषा को संवैधानिक मान्यता प्रदान कर पूर्वी उप्र में एक बड़ा चुनावी दाव…



बाबा साहब अंबेडकर का अधूरा सपना!

संविधान निर्माता बाबासाहब अंबेडकर, सरदार पटेल, श्यामाप्रसाद मुख़र्जी, डाo राजेंद्र प्रसाद, सर्वपल्ली राधाकृष्णन और देश के शहीदों को सबसे बड़ी श्रद्धांजली यह होगी…