Watch ISD Live Now Listen to ISD Radio Now

Author: Ravi Kumar Bhadra

0

कविता- तय कर लो, जाना किधर है…

तय कर लो! जाना किधर है एक तरफ काँटों का रास्ता पर तरफ दूसरी उजाले की चमक है सोच लो चलना किधर है एक तरफ नरम घास सा रास्ता तरफ दूसरी अँधेरे का असर...

ताजा खबर
The Latest