Author: Sanjeev Joshi

स्थानीय लोगों की वनों पर निर्भरता का कम होना है! उत्तरांचल के जंगलों में फैलती आग!

उत्तरांचल के जंगलों में लगने वाली आग जैसी घटनायें कोई नयी नहीं है, पिछले कई दशकों से इस तरह की घटनायें होती आ रही हैं, जो जन जीवन के साथ साथ पर्यावरण के लिए...

सिंहस्थ कुम्भ में भारत स्वच्छ मिशन को नया आयाम देने की डेटॉल और हार्पिक की एक ईमानदार पहल

  भारत स्वछता मिशन के तहत सिंहस्थ कुम्भ में जानी मानी उत्पाद डेटॉल और हार्पिक के प्रयास से स्वछता का अभियान चलाया जा रहा है, लाखों की संख्या में पहुंचने वाले श्रद्धालुओं को साफ़...

आत्मविश्वास की अलख जगाता – प्रतिष्ठा संस्थान

सड़कों पर नंगे पांव हाथ में कटोरा पकडे छोटे छोटे बच्चे हमें हर सड़क पर भीख मांगते दिख जाते हैं,दया वश हम कभी एक आध रूपया दे देते हैं या फिर झिड़क देते हैं...

सम-विषम के गणित में फेल होती आम आदमी पार्टी

15 तारीख से फिर शुरू हुई श्री अरविन्द केजरीवाल की महत्वाकांक्षी सम-विसम योजना, जिसका फर्क न ट्रैफिक पर पड़ा और नहीं प्रदूषण ही कम हो पाया, बड़ी है तो सिर्फ आम जनता की परेशानियां....

0

क्रिकेटर बना पॉप -स्टार एक करोड़ लोगों ने देखा वीडियो

टी ट्वेंटी (T20) विश्वकप की दूसरी बार चैम्पियन बनी वेस्टइंडीज की टीम वाकई चैम्पियन की तरह खेली, मैदान में मनोरंजन करने के लिए हमेशा से विख्यात वेस्टइंडीज के खिलाडी फिर से चर्चा में है....

लातूर जल संकट: सूखा तो हर साल आता है लेकिन मीडिया इसी साल आई है!

जो बीते सालों में नहीं हुआ वह अब हो रहा है! बात करते हैं महाराष्ट्र के सुख ग्रस्त क्षेत्रों की। मुंबई और उससे सटे पुणे में इन दिनों ग्रामीण परिवेश के लोगों की हलचल...

होली गीत – आओ खेलें कुमाऊंनी होली रे रसिया…

होली गीत – कुमाऊंनी होली भारत की सांस्कृतिक विरासत कश्‍मीर से लेकर कन्याकुमारी तक विविधता में एकता की छटा बिखेरता है। रंगों का त्‍यौहार होली भी इस विविधता से बचा नहीं रह पाता। कहने...

महिला जीवटता और उसके समर्पण की तस्वीर प्रस्तुत करती है ‘नीरजा’

नीरजा फिल्‍म रिव्‍यू संजीव जोशी। महिला जीवटता, और उसके समर्पण की पूरी तस्वीर प्रस्तुत करती है राम माधवानी की फिल्म नीरजा। तेईस साल की उम्र में देश और लोगों के प्रति उनके देखने का...

ताजा खबर