Watch ISD Live Now Listen to ISD Radio Now

Category: भारत निर्माण

0

देशद्रोह की सीमा लांघती जा रही ‘मास्टरस्ट्रोक प्रजाति’!

व्यक्तिवाद में राष्ट्रद्रोह की सीमा लांघ चुके कुछ राष्ट्रद्रोहियों (मास्टरस्ट्रोक प्रजाति) को मैं कहना चाहता हूं कि जरा सर्च कर पढ़ो:- १) वाजपेई जी को उनके सुरक्षा सलाहकार ब्रजेश मिश्रा ने कैसे डुबोया था?...

0

हे सनातनियों, तेरा कल्याण सिर्फ गुरु, गोविंद और ग्रंथ ही कर सकता है, कोई नेता, बाबा या व्यक्ति नहीं।

असुरों के गुरु शुक्राचार्य की एक शुकनीति परसों लिखी थी- “दंड के भय से ही प्रजा अपने धर्म में स्थिर रहती है। अतः प्रशासक को दंडधर ही बने रहना चाहिए।” इस पर एक मित्र...

0

प्रधानमंत्री द्वारा अपनी मां के लिए लिखा ब्लॉग अब हर भाषा में उपलब्ध!

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा अपनी मां के 100वें जन्मदिवस पर उनके लिए लिखे ब्लॉग, जिसमें उनके बचपन के साथी अब्बास का भी जिक्र है, उसे हर भाषा में अनुवादित कर उनकी टीम ने मीडिया वालों...

0

आज के ऋषि राम बहादुर राय और उनकी पुस्तक ‘भारतीय संविधान: अनकही कहानी’!

आशीष कुमार अंशु। जॉर्ज अब्राहम ग्रियर्सन के भाषा सर्वेक्षण के सौ सालों के बाद भारत में प्रो जीएन देवी ने इस सर्वेक्षण की जिम्मेवारी ली। जब भाषा सर्वेक्षण का काम पूरा हुआ, जीएन देवी...

0

अग्निपथ योजना में क्या देश जलने की प्रतीक्षा कर रही थी सरकार?

सैन्य विभाग के अतिरिक्त सचिव लेफ्टिनेंट जनरल अरुण पुरी जी का यह बयान बेहद गैरजिम्मेदाराना है कि ” आयु में छूट, CRPF, असम राइफल्स आदि में अग्निवीरों के लिए 10% आरक्षण की व्यवस्था, पुलिस...

0

PM Modi के लिए अब भस्मासुर साबित होने लगे हैं ‘सरकारी हिंदू’!

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चाहते हैं कि देश-दुनिया और समाज उन्हें संपूर्णता में लें, उनका हिंदू पक्ष के साथ-साथ उनका मुस्लिम पक्ष भी जानें। लेकिन ‘मास्टरस्ट्रोकवादी सरकारी हिंदू’ अपनी चापलूसी में पीएम मोदी के इस...

0

मां के 100वें जन्मदिन पर PM Modi ने अपने बचपन के साथी अब्बास को किया याद!

संदीप देव । आज अपनी मां के 100वें जन्मदिन पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अंग्रेजी में लिखे अपने संस्मरण में (PM ने स्वयं ट्वीट किया है) अपने बचपन के एक साथी अब्बास को याद...

0

अग्निपथ-अग्निवीर योजना को लेकर मेरे कुछ सवाल और सुझाव!

भारत का मुस्लिम समुदाय #अग्निवीर योजना का खुलकर समर्थन कर रहा है और संगठित रूप से कर रहा है‌। एक ही तरह के मैसेज अलग-अलग एकाउंट से पूरे सोशल मीडिया पर फ्लोट हो रहा...

1

बुकर पुरस्कार विजेता गीतांजलि श्री एक कम्युनिस्ट लेखिका हैं।

रामेश्वर मिश्र पंकज। हिन्दू समाज की विकृतियों और कमजोरियों का ही निरंतर चित्रण करने वाली ngoया मीडिया रिपोर्ट तथा साहित्य को लगातार विदेशी पुरस्कार मिलने के विरुद्ध भारतीयों को और हिंदुओं को अपना क्रोध...

0

चंद्रप्रकाश द्विवेदी जी आइए आपको भाषा का इतिहास समझाएं!

पृथ्वीराज चौहान की असफलता पर आत्ममंथन करने की जगह इसके निदेशक डॉ चंद्रप्रकाश द्विवेदी भारत की संस्कृति, भाषा और इतिहास को ही नकारने के रास्ते पर चल पड़े हैं। पृथ्वीराज चौहान में अत्यधिक ऊर्दू...

0

भीड़ का साथ देती राज सत्ता!

भारत की राज सत्ता हमेशा प्रो-मुस्लिम रही है, जिस कारण भारत बंटा भी और आज तक मजहबी अराजकता का शिकार भी है। नुपुर के पक्ष में खड़े इस छात्र अशरफ का साथ देने की...

0

भोजपुरी को संवैधानिक मान्यता भारतीयता की जीत होगी: प्रो. राम बहादुर राय.

नई दिल्ली : भोजपुरी हमारी मातृभाषा है वर्तमान भाजपा सरकार का रवैया मातृभाषाओं के प्रति सकारात्मक है हमें उम्मीद है कि भोजपुरी को उसका उचित न्याय जल्द मिलेगा। उक्त बातें भाजपा के सांसद और...

0

पृथ्वीराज की असफलता से शायद डॉ चंद्रप्रकाश द्विवेदी को पता चल गया होगा कि अहंकार ईश्वर का भोजन है!

आज जब पृथ्वी राज चौहान 100cr से अधिक का घाटा सह चुकी है, और दशक की सबसे विफल फिल्मों में शामिल हो चुकी है तो मेरे मन में एक सत्य उद्घाटित करने की इच्छा...

0

डॉ. किरण बेदी की पुस्तक “निर्भीक प्रशासन” का लोकार्पण

अर्चना कुमारी । डॉ. किरण बेदी द्वारा लिखित ‘फीयरलेस  गवर्नेंस’ पुस्तक का हिंदी संस्करण “निर्भीक प्रशासन” का लोकार्पण किया गया । जन आकाक्षाओं के प्रति जनादेह, न्याय संगत, प्रसाशन का व्यवहारिक पक्ष इस पुस्तक...

0

योगी लाओ धर्म बचाओ

योगी लाओ  धर्म बचाओ ,   देश को  हिंदू – राष्ट्र  बनाओ ; पार्टी वालो ! अब तो संभलो ,  वरना चले  भाड़ में जाओ । धूल में  तुम सब  मिल  जाओगे ,  एक  नया...

0

क्या पश्चिम में फेमिनिज्म से उकताकर परम्परागत पत्नियों की भूमिका पुन: लिखी जा रही है ?

सोनाली मिश्रा । क्या पश्चिम में फेमिनिज्म से उकताकर परम्परागत पत्नियों की भूमिका पुन: आरम्भ होने जा रही है?  यह प्रश्न इसलिए उभर कर आया है कि पिछले दिनों एक ट्रेंड दिखाई दिया, और...

0

अब न रेत पर नाव चलेगी

जिस नेता का चिड़िया दिल हो , वो नेता पद के योग्य नहीं ; तुरंत  हटाओ  नेता-पद से ,   ये तो  किसी भी  योग्य नहीं । हमें  चाहिये  शेर – दिल नेता ,  योगी...

0

पिछले दरवाजे से जम्मू कश्मीर में फिर लौटा 370 और 35A!

कल एडवोकेट अंकुर शर्मा जी ने जम्मू-कश्मीर में 370 हटने के बाद के हालात पर जो बताया, वह बेहद चौंकाने वाला था! १) जम्मू को दक्षिणी कश्मीर के आतंकी इलाके से कॉरिडोर बना कर...

0

डॉ. ओमेन्द्र रत्नू की कालजयी पुस्तक ‘महाराणा: सहस्र वर्षों का संघर्ष’ यदि हिन्दू नही पढ़ेंगे तो उनकी आने वाली पीढियां पछतायेंगी

पुस्तक : महाराणा: सहस्र वर्षों का संघर्ष लेखक: ओमेंद्र रत्नू प्रकाशक : प्रभात पेपरबैक्स मूल्य : 500 रुपये (प्रिंट) क्या कभी किसी लुटेरे, आतंकवादी और निर्दोषों के हत्यारे को ‘महान’ कहा जा सकता है?...

ताजा खबर