कठुआ रेप कांड के नाटक से उठने लगा है पर्दा, पीड़ित परिवार ने वकील दीपिका सिंह राजावत को हटाया!



Deepika Singh Rajawat (File Photo)
ISD Bureau
ISD Bureau

कठुआ रेप कांड को लेकर वामी-कांगी पीडी पत्रकारों की मिलीभगत से रचे गए नाटक से अब पर्दा उठने लगा है। पीड़ित परिवार ने बलात्कारी तालिब हुसैन की सहयोगी वकील दीपिका सिंह राजावत को इस मामले से हटा दिया है। इतना ही नहीं पीड़ित परिवार ने जेएनयू एक्टिविस्ट शेहला राशिद के साथ मिलकर उगाही की गई दान राशि भी देने को कहा है। पीड़ित मासूम बच्ची की लाश पर उगाही गई दान राशि पर की गई अय्याशी का भी खुलासा होने लगा है। वैसे इंडिया स्पीक्स डेली वेबसाइट ने उगाही गई दान राशि पर शेहला राशिद की अय्यासी का खुलासा बहुत पहले कर चुकी है।

मुख्य बिंदु

* कठुआ रेप कांड को लेकर वामी-कांगी पीडी पत्रकारों की मिलीभगत से रचे गए नाटक से अब पर्दा उठने लगा है

* जेएनयू एक्टिविस्ट शेहला राशिद के साथ मिलकर उगाही की गई दान राशि भी देने को कहा है

इस मामले का ट्वीट के सहारे खुलासा करते हुए सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल उमराव ने लिखा है कि कठुआ रेप कांड के पीड़ित परिवार ने बलात्कारी तालिब हुसैन की सहयोगी रही दीपिका सिंह राजावत को इस मामले से हटा दिया है। इसके साथ ही पीड़ित परिवार ने शेहला राशिद के साथ
मिलकर मदद करने के नाम एकत्रित की गई दान राशि की भी मांग की है।

कठुआ कांड की जिस स्वघोषित वकील दीपिका सिंह राजावत को इस केस से हटाया गया है उसका ध्येय कभी पीड़ित परिवार को न्याय दिलाना था ही नहीं। उसकी मंशा तो इस मामले के सहारे अपना यूएसपी बढ़ाना था। तभी तो इतने दिनों में उसने इस मामले में महज दो से तीन बार कोर्ट में हाजिर हुई हैं। उसे तो यह दिखाना था कि उसने कितना बड़ा जोखिम उठा लिया कि उसकी जान तक पर बन आई है? यह नाटक उसे काम भी आया। बलात्कारी तालिब हुसैन तथा फंड कलेक्टर शेहला राशिद के साथ उसे कई सम्मान और पुरस्कार तक मिले। जबकि पीड़ित परिवार को मृतक बच्ची के नाम पर उगाहे गए चंदा में से फूटी कौड़ी तक नहीं मिली। क्योंकि सारे पैसे तो ये लोग अपनी अय्याशी पर खर्च कर लिए और हजम कर गए।

लेकिन ताज्जुब की बात है कि जो कांगी-वामी पीडी पत्रकार उस समय हंगामा करने में आगे थे आज जब सही मायने में पीड़ित परिवार की मदद करने का समय है तो कहीं दिखाई तक नहीं देते। इस से साबित हो जाता है कि वे लोग सिर्फ और सिर्फ राजनीतिक हित साधने के लिए हिंदुओं और उनके देवताओं को बदनाम करना चाहते थे। अगर मृतक बच्ची और पीड़ित परिवार की मदद करने का इरादा होता तो आज सामने आते।

URL: Curtain started raising on Kathua case, lawyer Deepika Singh Rajawat removed

Keywords: kathua rape case, Kathua case lawyer, deepika rajawat, deepika rajawat removed, jammu rape case,
कठुआ बलात्कार का मामला, कठुआ केस वकील, दीपिका राजवत, जम्मू बलात्कार का मामला


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !

About the Author

ISD Bureau
ISD Bureau
ISD is a premier News portal with a difference.