अहमद पटेल के नजदीकी संदेसरा बंधु की स्टर्लिंग बायोटेक के खिलाफ ईडी ने नई चार्जशीट दाखिल की!



Nitin Sandesara (File Photo)
ISD Bureau
ISD Bureau

जिस भगोड़ा संदेसरा बंधु की कंपनी स्टर्लिंग बायोटेक में सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल के बेटे फैजल पटेल और दामाद इरफान सिद्दीकी शामिल हैं उसके खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने नया चार्जशीट दाखिल किया है। मालूम हो कि इसी मामले में गिरफ्तार होने के डर से स्टर्लिंग बायोटेक कंपनी के मालिक चेतन संदेसरा अपने भाई और पत्नी के साथ दुबई से भी भाग निकले हैं। पहले ईडी ने आंध्रा बैंक से 5000 करोड़ रुपये लोन लेकर उसे नन परफॉर्मिंग एसेट (एनपीए) बनाने के मामले में इन लोगों को आरोपी बनाया था। अब ईडी ने दिल्ली के कोर्ट में स्टर्लिंग बायोटेक के खिलाफ पांच हजार करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में नई और पूरक चार्जशीट दाखिल की है।

मुख्य बिंदु

* संदेसरा बंधु की इस कंपनी पर 5000 करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग करने का आरोप लगाया है

* गिरफ्तारी से बचने के लिए ही महमद पटेल के काफी करीबी संदेसरा बंधु दुबई से भी भाग निकले

गौरतलब है कि स्टर्लिंग बायोटेक वही कंपनी है जिसमें अहमद पटेल की हिस्सेदारी होने की बात कही जा रही है। ऐसी आशंका इसलिए भी जताई जा रही है कि क्योंकि अहमद पटेल का आवास ही इस कंपनी का आधिकारिक पता है। इस कंपनी के सारे लेन-देन इसी पते से होते थे। इसी मामले में ईडी ने अहमद पटेल के बेटे और दामाद को भी आरोपी बनाया था।

ईडी ने संदेसरा समूह की इस कंपनी के खिलाफ जो चार्जशीट दाखिल की थी उसमें आंध्रा बैंक से 5000 करोड़ रुपये लोन लेकर उसे एनपीए बनाने का आरोप लगाया था। लेकिन इस बार दिल्ली के कोर्ट में जो पूरक और नई चार्जशीट दाखिल की है उसमें स्टर्लिंग बायोटेक कंपनी पर पांच हजार करोड़ रुपये की मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगाया है। इसके साथ जांच एजेंसी ईडी ने अतिरिक्त सेशन जज सतीश कुमार अरोड़ा के सामने अपनी नई जांच रिपोर्ट भी सौंपी है।

URL: ED Files a fresh charge sheet against ahmed patel nearest sandesara brothers sterling biotech

Keywords: ED, money laundering, sterling biotech, sandesara group, nitin sandesara, chetan sandesara, ahmed patel, money laundering, ईडी, मनी लॉन्ड्रिंग, स्टर्लिंग बायोटेक, समूह, नितिन संदेसरा, चेतन संदेसरा, अहमद पटेल, मनी लॉन्ड्रिंग


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !

About the Author

ISD Bureau
ISD Bureau
ISD is a premier News portal with a difference.