यूपीए सरकार का एक और विमान खरीद घोटाला आया सामने, ईडी ने पूर्व यूपीए मंत्री को भेजा समन



Awadhesh Mishra
Awadhesh Mishra

यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी नियंत्रित पूर्व यूपीए सरकार के कार्यकाल के दौरान हुए घोटाले की सूची इतनी लंबी है कि अभी तक उसका खुलासा हो रहा है। यूपीए सरकार के कार्यकाल के दौरान भारतीय वायु सेना के लिए खरीदे गए 43 विमान में भी घोटाला सामने आया है। इसी मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने यूपीए सरकार के तत्कालीन सिविल एविएशन मंत्री को समन भेजा है। इस मामले में जिस एयरबस इंडस्ट्री से 43 विमान खरीदे गए थे ईडी ने उसे भी नोटिस भेजा है। आरोप है कि भारत सरकार से विमान खरीद के लिए हुए समझौते का उसने सम्मान नहीं किया। इस घोटाला मामले में तत्कालीन सिविल एविएशन मंत्री प्रफुल्ल पटेल तथा पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम जांच के घेरे में हैं।

मुख्य बिंदु

* यूपीए सरकार के तत्कालीन सिविल एविएशन मंत्री पर एयरबस इंडस्ट्री को 175 मिलियन डॉलर का लाभ पहुंचाने का आरोप

* ईडी ने विमान खरीद डील की शर्तों का उल्लंघन करने के लिए एयरबस इंडस्ट्री को भी भेजा नोटिस, इसी कंपनी से खरीदे गए थे 43 विमान

इस मामले की जानकारी वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद कुमार सिंह ने अपने ट्वीट में दी है। उन्होंने अपने ट्वीट में यह भी लिखा है कि इस खरीद घोटाले की हुई जांच के दौरान ईडी ने पाया है कि एयरबस इंडस्ट्री ने विमान खरीद समझौते के तहत जो शर्तें तय की गई थी उसका सम्मान नहीं किया। ईडी का कहना है कि एयरबस इंडस्ट्री ने विमान खरीद समझौते की शर्तों का उल्लंघन किया है। समझौते से इनकार करने के लिए ईडी ने उसे भी नोटिस जारी कर दिया है । ईडी का कहना है कि इस विमान खरीद में उस कंपनी को 175 मिलियन का लाभ पहुंचाया गया है।
ईडी के मुताबिक विमान खरीद  समझौते के तहत एयरबस इंडस्ट्री को प्रशिक्षण केंद्र खोलने के लिए 175 मिलियन डॉलर निवेश करना था, लेकिन उन्होंने न तो को प्रशिक्षण केंद्र खोला न ही शर्तों के अनुसार 175 मिलियन डॉलर का निवेश किया।

मालूम हो कि भारतीय वायु सेना के लिए 43 विमान खरीदने के लिए इस डील को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की यूपीए सरकार ने ही मंजूरी दी थी। इतना ही नहीं वित्त मंत्री होने के नाते एफआईपीबी की मंजूरी पी चिदंबरम ने दी थी।

URL : ED to summon former UPA ministers in aircraft purchase scam!

Keyword : ED to summon former ministers, UPA Era, aircraft purchase scam, airbus industry, civil aviation minister, finance minister, prafulla patel, p chidambaram, विमान खरीद घोटाले, एयरबस उद्योग, नागरिक उड्डयन मंत्री, प्रफुल्ल पटेल, वित्त मंत्री, पी चिदंबरम


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !