Budget 2019 के बहाने प्राचीन भारत के अर्थतंत्र की यात्रा!

देश की पहली महिला पूर्णकालिक वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने पहले बजट में मध्य वर्ग को सीधे-सीधे टैक्स स्लैब्स में तो छूट नहीं दी, लेकिन घर और वाहन खरीद पर राहत का ऐलान जरूर किया। वहीं, अमीरों की कमाई पर सेस बढ़ाने और बैंक खाते से सालाना 1 करोड़ रुपये से ज्यादा की निकासी पर 2 प्रतिशत पहली बार सेस लगाने का ऐलान किया गया। वित्त मंत्री ने बजट भाषण की शुरुआत में ही ‘मजबूत देश के लिए मजबूत नागरिक’ का नारा दिया। आइए जानते हैं कि इस बजट के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विजन क्या है? इस बजट के बहाने आपको यह बताता हूं कि वैदिक सनातन भारत में धन और वैभव को लेकर समृद्धि का दर्शन क्या रहा है?

आदरणीय पाठकगण,

News Subscription मॉडल के तहत नीचे दिए खाते में हर महीने (स्वतः याद रखते हुए) नियमित रूप से 100 Rs. या अधिक डाल कर India Speaks Daily के साहसिक, सत्य और राष्ट्र हितैषी पत्रकारिता अभियान का हिस्सा बनें। धन्यवाद!  

For International members, send PayPal payment to [email protected] or click below

Bank Details:
KAPOT MEDIA NETWORK LLP
HDFC Current A/C- 07082000002469 & IFSC: HDFC0000708  
Branch: GR.FL, DCM Building 16, Barakhamba Road, New Delhi- 110001
SWIFT CODE (BIC) : HDFCINBB
Paytm/UPI/ WhatsApp के लिए मोबाइल नं- 9312665127
ISD Bureau

ISD Bureau

ISD is a premier News portal with a difference.

You may also like...

1 Comment

  1. Avatar Avishekh Mrinal says:

    Sir,
    There is nothing for msme .. The automobile industry is going through a very baby phase since last 2 to 3 months , the industries are closing for 10 days or more in a month.. Hows labor family will run…. So in my view govt should have taken major steps in this budget to provide us temporary relief…for me this budget is very bad but i have given bite to modi Ji… Today i am thinking what i have done… Dont let tomorrow every one think what we have done

Write a Comment

ताजा खबर