आखिर किस हैसियत से राजस्थान के मुख्यमंत्री चयन में जुटी हैं प्रियंका, जहां उनके पति राबर्ट वाड्रा के खिलाफ चल रही है जांच?

एक तरफ राजस्थान के मुख्यमंत्री के चयन प्रक्रिया में राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी शामिल हैं वहीं दूसरी तरफ जमीन घोटाले को लेकर उनके पति राबर्ट वाड्रा के खिलाफ जांच चल रही है। ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर प्रियंका गांधी किस हैसियत से राजस्थान के मुख्यमंत्री चयन प्रक्रिया में शामिल हुई हैं? क्या कांग्रेस लोकतंत्र की हत्या नहीं कर रही है? क्या कांग्रेस सोनिया गांधी की तरह ही प्रियंका गांधी को संविधानेत्तर तरजीह और अधिकार नहीं दे रही है?

इस संदर्भ में ओपीइंडिया वेबसाइट की संपादक नुपूर जे शर्मा ने अपने ट्वीट में कांग्रेस की इस प्रक्रिया को फेंटास्टिक बताया है। उन्होंने लिखा है कि प्रियंका गांधी उस प्रक्रिया का हिस्सा हैं जो यह तय करने वाली है कि राजस्थान में किसे मुख्यमंत्री बनाया जाए। जबकि राजस्थान वही राज्य हैं जहां जमीन सौदे को लेकर उनके पति राबर्ट वाड्रा के खिलाफ जांच चल रही है।

मीडिया में प्रकाशित कई रिपोर्ट में कहा गया है कि जब राहुल गांधी के निवास पर मध्य प्रदेश और राजस्थान के लिए मुख्यमंत्र चयन की मंत्रणा चल रही थी तब वहां प्रियंका गांधी भी मौजूद थी। रिपोर्ट में यह भी सामने आया है कि जब राहुल गांधी से मिलने के लिए अशोक गहलोत और सचिन पायलट उनके निवास पर पहुंचे तब भी वहां प्रियंका गांधी उपस्थित थीं।

जब उनके पति राबर्ट वाड्रा के खिलाफ राजस्थान में जमीन डील मामले में जांच चली रही है, ऐसे में वहां के मुख्यमंत्री के चयन की प्रक्रिया में प्रियंका का शामिल होना कतई उचित नहीं कहा जा सकता है।

मालूम हो कि राजस्थान के बिकानेर जमीन डील के तहत मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी ने राबर्ट वाड्रा को हाल ही में तीसरी बार समन भेजा है। तीसरी बार इसलिए समन भेजा गया है क्योंकि वाड्रा दो बार पहले भेजे गए समन पर हाजिर ही नहीं हुए थे।

गौरतलब है कि ईडी ने साल 2015 के सितंबर में पीएमएलए (प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट) के तहत आपराधिक मुकदमा दर्ज किया था। इस आपराधिक मामले के तहत ईडी ने आरोप लगाया है कि राबर्ड वाड्रा के स्वामित्व वाली कंपनी स्काई लाइट हॉस्पिटैलिटी ने बिकानेर और कोलायत में सस्ते दर पर जमीन खरीदकर उसे अवैध तरके से ऊंची कीमत पर बेचा है। जबकि स्काई लाइट हॉस्पिटैलिटी ने यहां पर गरीबों के पुनर्वास कराने के नाम पर जमीन खरीदी थी। इस प्रकार के मामले हरियाणा में चल रहे हैं।

सवाल उठता है कि कहीं प्रियंका गांधी अपने पति को बचाने के लिए ही तो नहीं राजस्थान में मुख्यमंत्री चयन प्रक्रिया में शामिल होकर मोलभाव करने में जुटी हैं?

 

प्वाइंट वाइज समझिए

मुख्यमंत्री चयन में प्रियंका की दखलंदाजी

* राजस्थान के मुख्यमंत्री चयन प्रक्रिया में कैसे शामिल हो रही प्रियंका गांधी

* राजस्थान में प्रियंका के पति राबर्ट वाड्रा के खिलाफ हो रही जमीन डील की जांच

* प्रवर्तन निदेशालय ने हाल ही में राबर्ट वाड्रा के खिलाफ भेजा है तीसरी बार समन

* पहले दो बार ईडी के जारी समन पर हाजिर नहीं हुए हैं राबर्ट वाड्रा

* ऐसे में मुख्यमंत्री के चयन में प्रियंका गांधी की दखलंदाजी से प्रश्न उठना जायज

* आखिर किस हैसियत से प्रियंका गांधी सीएम चयन प्रक्रिया का हिस्सा बन रही हैं

* कहीं सोनिया गांधी की तरह ही प्रियंका गांधी को संविधानेत्तर अधिकार तो प्राप्त नहीं

URL : In what capacity Priyanka is part of selection process of Congress CM!

Keyword: Congress CM, Selection process, priyanka gandhi, robert vadra, rahul gandhi, आपराधिक मामले, जमीन घोटाला

आदरणीय पाठकगण,

News Subscription मॉडल के तहत नीचे दिए खाते में हर महीने (स्वतः याद रखते हुए) नियमित रूप से 100 Rs डाल कर India Speaks Daily के साहसिक, सत्य और राष्ट्र हितैषी पत्रकारिता अभियान का हिस्सा बनें। धन्यवाद!  



Bank Details:
KAPOT MEDIA NETWORK LLP
HDFC Current A/C- 07082000002469 & IFSC: HDFC0000708  
Paytm/UPI/ WhatsApp के लिए मोबाइल नं- 9312665127

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताजा खबरे