सोफे पे पड़ा हुआ है केजरीवाल देख लो, पानी की कमी से दिल्ली को बेहाल देख लो!



Kejriwal and Ministers
ISD Bureau
ISD Bureau

अरविंद केजरीवाल की दिल्ली के पूर्ण राज्य न होने के बहाने और काम नहीं करने देने के जुमले पर, कपिल मिश्रा ने कविता के माध्यम से केजरीवाल पर हमला किया हैं, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है! कविता के अंत में कपिल ने कुछ सवाल उठाये हैं जो अक्षरशः नीचे दिए हुए हैं!

1- दिल्ली में पानी की समस्या को दूर करने के लिए पूर्ण राज्य होना आवश्यक है… नहीं
2- क्या बिजली के लिए पूर्ण राज्य होना आवश्यक है … नहीं!
3- सड़क के लिए … नहीं!
4- अस्पतालों के लिए … नहीं
5- क्या प्रदुषण दूर करने के लिए पूर्ण राज्य होना आवश्यक है … नहीं!
6- डेंगू स्वाइन फ्लू के से लड़ने के लिए पूर्ण राज्य बनाना जरूरी है … नहीं!

पानी की कमी से दिल्ली को बेहाल देख लो,
सोफे पे पड़ा हुआ है केजरीवाल देख लो!

पानी के लिए क्या हमको पूर्ण राज्य चाहिए?
जी नहीं, जी नहीं बस नेक नियत चाहिए!
न बिजली है न सड़क न अस्पताल देख लो!
सोफे पे पड़ा हुआ है केजरीवाल देख लो!

CBI ने जब से फाइलें उठाई हैं,
केजरीवाल को तब से नींद नहीं आई है!
न जाते हैं असेम्बली, न करते कोई काम हैं,
मोदी-मोदी, मोदी -मोदी जपते सुबह शाम हैं!
घोटाला कर तिहाड़ में साढू का लाल देख लो,
सोफे पे पड़ा हुआ है केजरीवाल देख लो!

गेस्ट टीचर से जो बोला झूठ, वह भी खुल गया,
लोकपाल और स्वराज गुप्ता जी में घुल गया,
डीटीसी के कर्मियों के पीठ पर वार देख लो!
प्रॉफिट वाले जलबोर्ड का घाटे में हाल देख लो!
सोफे पे पड़ा हुआ है केजरीवाल देख लो!

URL: Kapil Mishra trolls CM Arvind Kejriwal With his latest poem

KeyWords: कपिल मिश्रा, कपिल मिश्रा ट्वीट, अरविन्द केजरीवाल, दिल्ली एल जी हाउस, सोशल मीडिया, Kapil Mishra, poem on kejriwal, Delhi LG house, Arvind Kejriwal,


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !

About the Author

ISD Bureau
ISD Bureau
ISD is a premier News portal with a difference.