झूठे वादे और खोटी नियत वाली आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की जनता को वादों के अलावा कुछ नहीं दिया!



Ashwini Upadhyay
Ashwini Upadhyay

लोक लुभावन वादों का मीठा चूरन खिला कर अरविन्द केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री तो बन गए लेकिन किये गए वादों की लंबी फेहरिस्त के हर विभाग में जनता को केवल मायूसी ही मिली है जानते हैं अरविन्द केजरीवाल वाली आम आदमी पार्टी के वादों के बारे में …

■ दिल्ली में फ्री वाईफाई देने का वादा किया था लेकिन अभी तक कुछ नहीं किया!

■ दिल्ली में 18 लाख सीसीटीवी कैमरा लगाने का वादा किया था लेकिन अभी तक कुछ नहीं किया!

■ दिल्ली में सबको टोटी से पानी देने का वादा किया था लेकिन अभी तक कुछ नहीं किया!

■ दिल्ली में 500 नए स्कूल बनाने का वादा किया था लेकिन अभी तक 5 स्कूल भी नहीं बनाये!

■ दिल्ली में 40 नए कॉलेज और 6 स्टेट यूनिवर्सिटी बनाने का वादा किया था लेकिन अभी तक कुछ नहीं किया!

■ दिल्ली में वैट की दर आधी करने का वादा किया था लेकिन अभी तक पूरा नहीं किया!

■ दिल्ली में स्वराज बिल पास करने का वादा किया था लेकिन अभीतक कुछ नहीं किया!

■ दिल्ली में भ्रष्टाचार समाप्त करने का वादा किया था लेकिन अभीतक कुछ नहीं किया!

■ दिल्ली में 2 लाख पब्लिक टॉयलेट बनाने का वादा किया था लेकिन अभीतक कुछ नहीं किया!

■ दिल्ली से ठेकेदारी शिक्षक प्रथा समाप्त करने का वादा किया था लेकिन अभीतक कुछ नहीं किया!

■ दिल्ली के लोगों को झुग्गी-झोपडी की जगह पक्के मकान देने का वादा किया था लेकिन अभीतक कुछ नहीं किया!

■ वादा किया था दिल्ली के विधायक बिना बंगला-गाडी और 25000₹ सैलरी पर जनता की सेवा करेंगे, वह भी झूठा निकला !

■ दिल्ली में अन्ना का जनलोकपाल बिल पास करने का वादा किया था लेकिन अभी तक पूरा नहीं किया!

■ गरीबों को मुफ्त गैस सिलिंडर देने वाली मोदीजी की उज्जवला योजना को लागू करने में सहयोग नहीं किया!

गरीबों के लिए बनी जनधन योजना को लागू करने में सहयोग नहीं किया

किसानों की ऋण माफी योजना में सहयोग नहीं किया

गरीबों को ऋण देने के लिए बनी मुद्रा योजना को लागू करने में सहयोग नहीं किया

गरीबों के लिए 2 लाख का जीवन बीमा और 2 लाख का दुर्घटना बीमा वाली योजना को लागू करने में सहयोग नहीं किया!

नगर-निगम के कर्मचारियों का वेतन रोक लिया!

भ्रष्टाचारी,बलात्कारी,फर्जी डिग्रीधारी विधायक,मंत्रियों पर कोई कार्यवाही नहीं की!

क्या ऐसी झूठी-पाखंडी पार्टी को वोट देंगे?


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !

About the Author

Ashwini Upadhyay
Ashwini Upadhyay
Ashwini Upadhyay is a leading advocate in Supreme Court of India. He is also a Spokesperson for BJP, Delhi unit.