प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव से पहले महंगाई खत्म करने का ढूंढा स्थायी समाधान



ISD Bureau
ISD Bureau

जिस जीएसटी को लेकर अभी तक कांग्रेस समेत विरोधी दल मोदी सरकार की आलोचना करते थे, उसी जीएसटी के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव से पहले महंगाई खत्म करने का स्थायी समाधान ढूंढ निकाला है। मोदी ने इसका खुलासा रिपब्लिक टीवी द्वारा आयोजित सम्मेलन के उद्घाटन संबोधन में किया है। मोदी ने अपने इस संबोधन के दौरान महंगाई खत्म करने को लेकर बहुत बड़ी घोषणा की। उन्होंने कहा कि बहुत जल्द ही आम लोगों के उपयोग वाली सभी वस्तुओं समेत 99 प्रतिशत उत्पादों को माल और सेवा कर (जीएसटी) के 18 प्रतिशत स्लैब के नीचे कर दिया जाएगा । इसके लिए उनकी सरकार पूरी तरह तैयार है। मोदी ने कहा कि जीएसटी की होने वाली आगामी बैठक के लिए हमारी सरकार ने इस संदर्भ में अपना सुझाव भेज भी दिया है। मोदी की इस घोषणा को चुनाव से पहले महंगाई खत्म करने के स्थायी समाधान के रूप में देखा जा रहा है।

जीएसटी के बारे में बोलते हुए मोदी ने कहा कि जब जीएसटी लागू की गई थी तब किसी पार्टी ने इसका विरोध नहीं किया था। लेकिन बाद में यही लोग बगैर तथ्य जाने जीएसटी को लेकर सरकार को घेरना शुरू कर दिया। जबकि जीएसटी के कारण ही पंजीकृत उद्यमों की संख्या में 55 लाख की वृद्धि हुई है। मोदी ने कहा कि पहले देश में महज 65 लाख उद्यम ही पंजीकृत थे जो अब बढ़कर 120 लाख हो गए हैं। ऐसा इसलिए संभव हो पाया है क्योंकि हमारी सरकार उद्यमों के लिए जीएसटी को अधिक से अधिक सरल करने में जुटी है। उन्होंने कहा है कि जीएसटी लागू होने के कारण ही उद्यमियों को इंस्पेक्टर राज से मुक्ति मिल है और देश का कारोबार पारदर्शी हुआ है।

इसके साथ ही मोदी ने यह भी संकेत दिया कि अब देश में काफी कम लग्जरी वस्तुएं ही 28 प्रतिशत जीएसटी स्लैब में रहेंगी। यह तो जाहिर सी बात है कि जब 99 प्रतिशत वस्तुएं 18 प्रतिशत जीएसटी स्लैब से नीचे आ जाएंगी तो कम वस्तुएं ही 28 प्रतिशत स्लैब के लिए बचेंगी।

मोदी ने अपने संबोधन के दौरान कहा कि यह देश दशकों से जीएसटी लागू करने की मांग कर रहा था, लेकिन पूर्ववर्ती सरकारों ने कभी देश की मांग की तरफ ध्यान नहीं दिया। आज यह कहते प्रसन्नता हो रही है कि जहां जीएसटी लागू होने से व्यापार में बाधाएं दूर हुई हैं बल्कि हमारी अर्थव्यवस्था भी पारदर्शी हुई है।

मोदी ने रिपब्लिक समिट में अपने उद्घाटन भाषण से एक प्रकार से देश में होने वाले आम चुनाव का एजेंडा भी सेट कर दिया है कि मोदी सरकार किस रूप में और किस मुद्दे के सहारे चुनाव में आने वाली है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री मोदी ने देश के भविष्य के मानचीत्र खींचने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि देश का भविष्य काफी उज्जल है। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार साल 2014 से देश तीव्र गति से हर क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है उसे देखते हुए आसानी से कोई भी अंदाजा लगा सकता है कि भविष्य में भी भारत और तरक्की करने वाला है।

मालूम हो कि इसी जीएसटी को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गब्बर सिंह टैक्स कहा था। ध्यान रहे कि जब जीएसटी बिल को संसद में पास कराने के लिए रखा गया था सभी दलों ने एकमत से इसे पास किया था। लेकिन बाद में राहुल गांधी ने इसकी आलोचना करनी शुरू कर दी। उन्होंने तो इसमें सुधार करने तक की मांग की थी। उन्होंने कहा था कि जीएसटी के सारे स्लैब को हटाकर हर वस्तु के लिए कर का एक स्लैब कर देना चाहिए। उनके मुताबिक एक चादर और एक हवाईजहाज पर एक ही प्रकार का जीएसटी लगना चाहिए। ये तर्क सिर्फ राहुल गांधी ही दे सकते हैं, कोई और नहीं। वहीं मोदी हैं,  जिस जीएसटी का विरोध होना शुरू हो गया था, उसी जीएसटी के माध्यम से देश से महंगाई खत्म करने का स्थायी समाधान निकाल लिया है।

प्वाइंट वाइट समझिए

मोदी ने ढूंढा महंगाई का समाधान

* प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ढूंढा महंगाई खत्म करने का स्थायी समाधान

* देश में होने वाले आम चुनाव से पहले खत्म हो जाएगी महंगाई की मार

* आम उपयोग वाली सभी 99 प्रतिशत वस्तुएं 18% जीएसटी स्लैब के नीचे होंगी

* जीएसटी पर होने वाली बैठक के लिए सरकार ने भेज दिया है अपना सुझाव

* 18%जीएसटी स्वैब से नीचे आते ही सारी वस्तुओं के दाम अपने आप हो जाएंगे कम

* जीएसटी के विरोध करने वालों को प्रधानमंत्री मोदी ने दिया करारा जवाब

* जीएसटी लागू होने से व्यापार से दूर हुई बाधाएं, पारदर्शी हुई देश की अर्थव्यवस्था

* देश में 65 लाख उद्यमों की संख्या से बढ़कर 120 लाख उद्यम पंजीकृत हो गए हैं

* राहुल गांधी कर रहे हैं जीएसटी के लिए मोदी सरकार का विरोध

* राहुल गांधी ने ही जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स कहा था

* जीएसटी के सारे स्लैब हटाकर सभी वस्तुओं के लिए एक स्लैब रखने को कहा था

URL : Modi seeks permanent solution to end inflation before Lok Sabha polls!

Keyword : Big Announcement, End Inflation, Prime Minister, Narendra Modi, GST, Republic Summit, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, जीएसटी, महंगाई


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !

About the Author

ISD Bureau
ISD Bureau
ISD is a premier News portal with a difference.