किसी को नहीं मालूम क्यों शुरू किया ‘TalkToAMuslim’ अभियान?

पिछले तीन दिन से ‘टॉक टू मुस्लिम’ अभियान ने देश में कहर बरपा रखा है। मुस्लिमों से बात करने का ये आग्रह 17 जुलाई को यानि ठीक दो दिन पहले शुरू हुआ। ये वही दिन था जब ज़ी हिंदुस्तान चैनल और एक बहस के दौरान एक मौलवी ने महिला के साथ मारपीट कर दी थी। टॉक टू मुस्लिम अभियान की टाइमिंग बड़ी संदिग्ध है। इसे शुरू करने वाली अभिनेत्री गौहर खान इस बात का जवाब नहीं दे सकेगी कि ये कैम्पेन आख़िरकार शुरू क्यों किया गया था।

पिछले सात दिन में देश में मुस्लिमों के साथ ऐसी कोई घटना नहीं घटी कि गौहर खान को ये कैम्पेन शुरू करने की जरूरत होती। न किसी मुस्लिम की ह्त्या हुई, न सार्वजानिक स्थान पर किसी मुस्लिम को प्रताड़ित किया गया। फिर ऐसा क्या हुआ कि गौहर को ये कैम्पेन चलाना पड़ा। इस रहस्य्मयी कारण को जानने के लिए आपको 17 जुलाई की शाम में झांकना पड़ेगा। आखिर गौहर खान उस शाम 5:30 बजे के बाद अचानक सक्रिय क्यों हो गई थीं।

17 जुलाई की शाम ज़ी हिंदुस्तान चैनल पर ‘निदा खान’ मामले को लेकर एक बहस शुरू की गई थी। बहस में मौलाना एजाज अरशद कासमी और सुप्रीम कोर्ट वकील फराह फैज मौजूद थे। बहस तीखी होने के बाद मौलवी ने फराह फैज पर हाथ उठा दिया। बहस का वीडियो तुरंत वायरल कर दिया गया। ट्विटर पर मौलवी की करतूत सामने आ चुकी थी। इस मामले में देश की ‘वामी-कामी’ गैंग थोड़ी देर से जागी। ऐसे में डेमेज कंट्रोल के लिए कांग्रेस की कट्टर समर्थक अभिनेत्री गौहर खान को याद किया गया।

मौलवी कांड के तुरंत बाद गौहर खान अपने ट्विटर हैंडल से 17 जुलाई की शाम 4:53 एक ट्वीट करती हैं। ‘हैशटैग टॉक टू मुस्लिम’ के शीर्षक से किया गया ये ट्वीट सोशल मीडिया की दुनिया में भूचाल ले आया। लोगों ने बिना सोचे-समझे इसे रीट्वीट करना शुरू कर दिया। उतावले लोगों ने ये समझने का प्रयास नहीं किया कि आखिर गौहर खान ने ट्वीट क्यों किया। सिर्फ दो घंटे में ये षड्यंत्रकारी ट्वीट पूरे देश में फ़ैल चुका था। इसे वायरल करने में गौहर का साथ देने वाले वही लोग थे जो कठुआ कांड के वक्त प्लेकार्ड गेम खेल रहे थे। ऐसा करने का मकसद मौलवी पर से ध्यान हटाना भर था।

स्वरा भास्कर ने गौहर खान का समर्थन करते हुए लिखा ‘भारत को प्रेम और शांति के लिए खड़ा होना चाहिए। मुस्लिमों से बात करना कोई क्राइम नहीं है। सफ़वी राना ने लिखा ‘भारत की संस्कृति सबसे प्राचीन और बेहतरीन है। मैं एक भारतीय मुस्लिम हूं । मैं आपसे शेक्सपियर, गालिब, मीराबाई और मुगल के बारे में बात कर सकती हूं ।’मुगल, भारत के वो मुस्लिम जिन्होंने देश को आजाद कराने में अहम भूमिका निभाई थी ।’एएमयू में कानून के छात्र वजाहत जिलनी ने लिखा कि विरोध करने वाले नहीं चाहते कि मुस्लिम अपने अधिकारों के लिए खड़े हों।

गौहर खान के इस अभियान का विरोध करने के लिए फिल्म उद्योग के ही कुछ नामचीन लोग सामने आए। पूर्व मॉडल और अभिनेत्री कोएना मित्रा ने इसका प्रतिवाद करते हुए कहा कि यह हैशटैग शर्मनाक है, कौन है जो मुस्लिमों से बात नहीं करता है। ट्विटर को कुछ लोगों ने मजाक बना दिया है। फिल्म निर्माता और सामाजिक कार्यकर्ता अशोक पंडित ने कहा कि फिल्म निर्माता अशोक पंडित ने कहा कि प्लेकार्ड गैंग का नया ट्रेंड चल रहा हैं। इनको एक फिल्म में जौहर में बुराई दिख जाती लेकिन उसे हिजाब और ट्रिपल तलाक का मुद्दा नहीं दिखता। राजनीतिक कार्यकर्ता सुनंदा वशिष्ठ ने भी कहा कि ऐसे अभियान मुस्लिमों के हित में नहीं है और यह उन्हें निचले दर्जे का बनाने का प्रयास है।

गौहर खान ने अपने आकाओं के कहने पर प्रयास किया था कि मौलवी का पिटाई काण्ड इस ट्वीट के पीछे दब जाए लेकिन ऐसा नहीं हो सका। कई फ़ॉलोअर्स ने गौहर से सवाल करना शुरू कर दिया। उधर मौलवी काण्ड देश में गूंज रहा था और इधर गौहर खान और उनकी टीम अपने अभियान को मैन स्ट्रीम मीडिया तक पहुँचाने में सफल हो गए थे। टीवी चैनलों ने बिना ट्वीट की गहराई में जाए, इस पर बहस करवानी शुरू कर दी थी। आज भी गौहर और उनके समर्थक बता नहीं पा रहे कि उन्होंने ये अभियान क्यों शुरू किया?

गौहर खान कांग्रेस और वामपंथी दलों की कट्टर समर्थक हैं। वे राहुल गाँधी की तगड़ी फॉलोअर हैं और उनके ट्वीट रीट्वीट करती रहती हैं। संजीव भट्ट, शशि थरूर और बरखा दत्त को वे नियमित रूप से फॉलो करती हैं। भाजपा के हर फैसले की कड़ी आलोचना गौहर के ट्वीटर हैंडल पर मिल जाती है। गौहर खान से ये पूछा जाना चाहिए कि उन्होंने एक फर्जी अभियान किस कारण से शुरू किया था। पिछले सात दिनों में देश का कौनसा मुस्लिम प्रताड़ित हुआ जो उन्हें इतना बड़ा अभियान चलाने की जरूरत पड़ गई। गौहर खान अपने प्रेमी से इस बात पर ब्रेकअप कर लेती हैं कि वह इस्लाम स्वीकार नहीं करता। क्या ऐसी महिला को अपने धर्म के लिए किसी भी तरह का अभियान चलाने का अधिकार होना चाहिए।

URL: Nobody knows why started ‘TalkToAMuslim’ campaign?

Keywords: talk to muslim, Gauhar Khan, gauhar khan twitter campaign, Rahul Gandhi, Swara Bhaskar, twitter trend, टॉक टू अ मुस्लिम, गौहर खान, गौहर खान ट्विटर अभियान, राहुल गांधी, स्वरा भास्कर, ट्विटर ट्रेंड,

आदरणीय पाठकगण,

ज्ञान अनमोल हैं, परंतु उसे आप तक पहुंचाने में लगने वाले समय, शोध और श्रम का मू्ल्य है। आप मात्र 100₹/माह Subscription Fee देकर इस ज्ञान-यज्ञ में भागीदार बन सकते हैं! धन्यवाद!  

 
* Subscription payments are only supported on Mastercard and Visa Credit Cards.

For International members, send PayPal payment to [email protected] or click below

Bank Details:
KAPOT MEDIA NETWORK LLP
HDFC Current A/C- 07082000002469 & IFSC: HDFC0000708  
Branch: GR.FL, DCM Building 16, Barakhamba Road, New Delhi- 110001
SWIFT CODE (BIC) : HDFCINBB
Paytm/UPI/Google Pay/ पे / Pay Zap/AmazonPay के लिए - 9312665127
WhatsApp के लिए मोबाइल नं- 9540911078
Vipul Rege

Vipul Rege

पत्रकार/ लेखक/ फिल्म समीक्षक पिछले पंद्रह साल से पत्रकारिता और लेखन के क्षेत्र में सक्रिय। दैनिक भास्कर, नईदुनिया, पत्रिका, स्वदेश में बतौर पत्रकार सेवाएं दी। सामाजिक सरोकार के अभियानों को अंजाम दिया। पर्यावरण और पानी के लिए रचनात्मक कार्य किए। सन 2007 से फिल्म समीक्षक के रूप में भी सेवाएं दी है। वर्तमान में पुस्तक लेखन, फिल्म समीक्षक और सोशल मीडिया लेखक के रूप में सक्रिय हैं।

You may also like...

Write a Comment

ताजा खबर
The Latest