Habits That Can Damage Your Kidneys

India Speaks daily Bureau. It’s hard to notice when we do our kidneys harm. Even if 80% damaged, kidneys can still do their job, and so we rarely realize they’re on their last leg....

0

इरफान हबीब, रोमिला थापर, बिपिन चंद्रा, एस. गोपाल जैसे वामपंथी इतिहासकारों ने मुस्लिम बुद्धजीवियों का ब्रेन-वाश किया: डॉ के के मोहम्मद

देश के जाने-माने पुरातत्वशास्त्री और भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग में उत्तर क्षेत्र के पूर्व निदेशक डॉ. केके मोहम्मद ने दावा किया है अयोध्या में 1976-77 में हुई खुदाई के दौरान मंदिर होने के अवशेष...

जिन्‍हें आप ‘चमार’ जाति से संबोधित करते हैं, दरअसल वह चंवरवंश के वीर क्षत्रिए थे

आज जिन्‍हें आप ‘चमार’ जाति से संबोधित करते हैं, उनके साथ छूआछूत का व्‍यवहार करते हैं, दरअसल वह वीर चंवरवंश के क्षत्रिए हैं। ‘हिंदू चर्ममारी जाति: एक स्‍वर्णिम गौरवशाली राजवंशीय इतिहास’ पुस्‍तक के लेखक...

जब पंडित नेहरू भारत पर दोबारा से शासन करने के लिए लॉर्ड माउंटबेटन को मनाने गए

14 अगस्‍त की रात को ब्रिटेन ने भारत की सत्‍ता कांग्रेस को हस्‍तांतरित कर दिया था। विभाजन के कारण देश में गृहयुद्ध की स्थिति थी। नेहरू इस पर नियंत्रण स्‍थापित करने में असफल साबित...

मुसलमानों में राष्‍ट्रवाद नहीं होता है: रविंद्रनाथ टैगोर

देश का इतिहास कांग्रेसियों और वामपंथियों ने लिखा और उन्‍होंने टैगोर से जुड़े दो तथ्‍यों को इतिहास की पुस्‍तकों से न केवल हटाया, बल्कि इसकी पूरी व्‍यवस्‍था की कि भविष्‍य की पीढ़ी इसके बारे...

महाराणा प्रताप और अकबर: अकबर ने जिसे 10 साल में जीता, महाराणा ने उससे एक साल में छीन लिया

मुगल बादशाह अकबर ने 10 वर्ष लगाकर मेवाड़ के जिन क्षेत्रों को विजित किया था, महाराणा प्रताप ने अपने पुत्र अमर सिंह के साथ मिलकर केवल एक वर्ष में न केवल उन क्षेत्रों को...

कश्‍मीर विवाद: जब शेख अब्‍दुल्‍ला को सरदार पटेल ने संसद के अंदर दी थी धमकी!

कश्‍मीर विवाद पर शेख अब्‍दुल्‍ला को सरदार पटेल की धमकी कश्‍मीर मसले पर पंडित नेहरू शेख अब्‍दुल्‍ला की हर नाजायज मांगों को मान रहे थे और शेख संसद के अंदर खुलेआम धमकी की भाषा बोल...

वामपंथ और चिदंबरम के कालेधन की कॉकटेल से निकली है रवीश की रिपोर्ट

रवीश आप कितना गिरेंगे? स्मृति ईरानी आपकी तरह निर्णय नहीं सुना रहीं, पुलिस रिपोर्ट का हवाला दे रही हैं! दोनों में फर्क है! ‪‬मि. रवीश कुमार, लोकसभा में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने रोहित...

सिक्‍ख धर्म और उनके दस गुरु

सिक्ख धर्म में गुरु नानक से लेकर गुरु गोविन्द सिंह तक दस गुरु हुए हैं जिनके नाम क्रमश: गुरु नानक, गुरु अंगद, गुरू अमरदास, गुरू रामदास, गुरू अर्जुनदेव, गुरू हरगोविन्द, गुरू हरराय, गुरू हरकृष्णराय,...

देश को बांटने और भारत के इतिहास को नष्ट करने के लिए ही हुई थी जेएनयू की स्थापना

पिछले कुछ दिनों से आप सब देख ही रहे हैं कि जवाहरलाल नेहरु विश्वविघालय किस तरह से देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने वालों का अड्डा बन गया है। ‘भारत की बर्बादी तक जंग चलेगी—जंग...

कुरान क्या है? और क्या है इसे लेकर मुसलमानों का विचार?

कुरान क्या है? कुरआन अरबी भाषा का शब्द है। इसका अर्थ है— अक्षरों और शब्दों को सार्थक क्रम के साथ जोड़ कर जबान से अदा करना, जिसे पढ़ना कहते हैं। इस्लाम के मानने वालों...

हिंदू धर्म को जानना है तो पहले वैदिक साहित्य को समझिए!

वेद पूरे भारतीय—यूरोपीय भाषा परिवार के प्राचीनतम साहित्य के रूप में समादृत रहे हैं। इनके रचनाकाल का निर्धारण बड़ी कठिन समस्या रही है। मैक्समूलर ने 1889 में प्रकाशित ‘हिस्ट्री ऑफ एन्शियंट संस्कृत लिटरेचर’ नामक...

बुद्ध का धम्मपद : मन ही चरम सुख या विकार का स्रोत है

धर्मपद धर्म का वह मार्ग है, जिसका बुद्ध के शिष्य अनुसरण करते हैं। बुद्ध ने अपनी शिक्षाओं में मन पर बहुत अधिक जोर दिया है। उन्होंने कहा है, सब प्रवृत्तियों का आरंभ मन से...

भारत में तलवार के बल पर इस्‍लाम का धर्मांतरण अभियान और वामपंथी इतिहासकारों का झूठ

देश की राजधानी दिल्‍ली के वीआईपी इलाके में जिस तुगलक वंश के सुल्‍तान फिरोजशाह तुगलक के नाम पर आज भी सड़क है, वह हिंदुओं के प्रति इतना क्रूर था कि इस्‍लाम न अपनाने पर...

ताजा खबर