कुंभ फोटोग्राफी उत्सव में भाग लेने वाले देश विदेश से आए फोटोग्राफर समझ रहे हमारी प्राचीन संस्कृति ! 



ISD Bureau
ISD Bureau

चिरप्रतीक्षित कुम्भ शाही स्नान को कुम्भ फोटोग्राफी फेस्टिवल में आये 200 से अधिक फोटोग्राफरों ने अपने कैमरे में कैद किया। इस यादगार लम्हे को फोटो में उतारने के लिए फोटोग्राफर रात 2 बजे से ही स्नान स्थल की ओर निकल पड़े थे। मकर संक्रांति के अवसर पर कुम्भ शाही स्नान को अपने कैमरे में कैद करने के बारे में फोटोग्राफरों का कहना है कि यह उनके लिए एक अनूठा अनुभव है जिसे जीवन में एक बार ही जिया जा सकता है।

मकर संक्रांति के इस अवसर पर सभी फोटोग्राफरों ने स्वामी चिदानंद सरस्वती जी के साथ संध्या आरती में भी भाग लिया । इस अवसर पर पूज्यनीय स्वामी चिदानंद सरस्वती जी ने कहा कि अंदर के अँधेरे को उजाले में ले जाना ही सही मायने में संक्रांति है।

कुम्भ फोटोग्राफी फेस्टिवल के आयोजक इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ फोटोग्राफी के डायरेक्टर श्री राजेश गोयल ने बताया कि फोटोग्राफी का इस कार्यक्रम में देश विदेश से आए 200 से ज्यादा फोटोग्राफरों ने भाग लिया । निकोन की फोटोवाक में फोटोग्राफरों ने फोटोग्राफी की बारीकियां भी सीखी और इसी के साथ निकोन ने कैमरा सर्विस कैंप भी लगाया।

फोटोग्राफी फेस्टिवल के सह आयोजक श्री शान्तनु गुप्ता ने कहा कि यह आयोजन फोटोग्राफरों को भारतीय संस्कृति से परिचित कराने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। पश्चिमी सभ्यता के प्रभाव में रहने वाले फोटोग्राफर यहाँ आकर हमारी प्राचीन संस्कृति को समझ रहे हैं। उन्होंने कहा कि अपनी प्राचीन संस्कृति और सभ्यता से परिचित कराना भी फोटोग्राफी उत्सव का एक मुख्य उद्देश्य है।

श्री पुष्कर शर्मा जी ने बताया कि 16 जनवरी को इस फोटोग्राफी फेस्टिवल का समापन है। लेकिन कुम्भ में खीची गयी ये फोटो परामर्थ निकेतन की फोटो गैलरी में पूरे कुम्भ के दौरान लोगों के दर्शनार्थ खुली रहेगी।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज में इस साल कुंभ मेले में पहले शाही स्नान तथा मकर संक्रांति पर्व के अवसर पर गोरखपुर स्थित गोरखनाथ मंदिर में लगने वाला खिचड़ी मेला सकुशल संपन्न होने सांधु संतों को धन्यवाद दिया है।

 

URL : photographers are learning ancient culture of India in Photo festive !

Keyword : Kumbh Photography Festival, Pramarth Niketan Aashram, kumhg mela, IIP


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !

About the Author

ISD Bureau
ISD Bureau
ISD is a premier News portal with a difference.