कर्नाटक चुनाव के बाद सिंघम मोदी के डर से जयकांत सिकरे फरार! एयरपोर्ट पर देखा गया!

मैं रील लाइफ में विलन था! रे मोदिया तूने मुझे रियल लाइफ में विलन बना दिया! बु..हु.हु..हु! हाथ में छाता लिए, बगल में बैग दबाए सफेद दाढ़ी में वह अभी अकेले में बड़बड़ा ही रहा था कि तड़ाक से उसके मुंह पर एक छन्नाटेदार तमाचा पड़ा! हाथ से छाता और बैग दोनों छिटक गया और वह कुर्सी से नीचे लुढ़क गया! देखा सामने 56 ईंच के सीने वाला सिंघम मोदी खड़ा है!

‘जयकांत तेरे भागने के लिए यह जमीन कम पड़ जाएगी। तू जहां-जहां भागेगा, मैं और मेरा शाह हर उस जगह को जीतते चले जाएंगे! भाग कहां तक भागेगा?’

‘आप यहां भी आ गये? कर्नाटक जीत कर हमें दर-बदर कर ही दिया है! अब क्या इरादा है?’ सिकरे ने गाल सहलाते हुए पूछा।

‘यह मेरा भारत है सिकरे और मैं ही हूं यहां का 56 ईंच शेर सिंघम मोदी! समझा!’

‘ हें..हें..हें..शेर तो हैं, लेकिन जिसने मुझे पालतू बनाया, वह आपकी हेकड़ी निकालने में सफल रहा। कर्नाटक को पूरी तरह से तो नहीं ही जीतने दिया न सिंघम?’ गिरे हुए छाता और बैग को उठाते हुए सिकरे दांत निपोर रहा था।

फटाक! पीछे से एक लात पड़ी और सिकरे मुंह के बल छाता-बैग लिए ही गिर पड़ा।

‘यह शाह की लात है! तुझे जन्मों तक याद रहेगा सिकरे!’ काली दाढ़ी पर हाथ फिराते शाह को देखकर सिकरे का गला सूख गया!

‘सुन मैं शाह हूं! शाह यानी चुनावी दुनिया का शहंशाह! ये सात-आठ कम सीटें क्या मुझे रोकेंगी? देखा नहीं दो सीट के साथ भी हम सरकार बना लेते हैं!’ शाह ने मुस्कुराते हुए कहा।

‘जी हुजूर!’ एक तो करेला और उस पर से नीम चढ़ा! ये सिंघम मोदी कम था, जो शाह भी यहां आ गया! सिकरे रुआंसा होकर सोचने लगा।
इतने में कश्मीरी सेव मसूद और बदबू मारता कम्युनिस्ट मवाली वहां से मुंह छुपाकर जाते दिखे!

‘कहां भाग रहे हो? तुम लोगों के बल पर ही मैंने रील लाइफ से निकल कर रीयल लाइफ में एंट्री की थी और सिंघम को चुनौती देने की गलती की थी, लेकिन आज जब मुझे लात पड़ी है तो बजाय सहलाने के, तुम लोग मुझे अकेला छोड़ कर जा रहे हो?’ सिकरे लात पड़े डोंगे को सहलाते हुए उठा।

‘अरे! तुम मुर्ख हो सिकरे! हम तो हर चुनाव के बाद एक बकरा ढूंढ़ लेते हैं काटने के लिए। कर्नाटक चुनाव में वह बकरा हमंे तुम्हारे रूप में मिला। हम अपने झामपंथी विश्विद्यालय में इसी पर तो पिछले 10 साल से शोध कर रहे हैं!’ कम्युनिस्ट मवाली बोला!

‘अरे! मेरी तरफ से भी दो लात मार दो शाह साहब इसको। इस जैसे मूर्खों के कारण ही हमारी कांगी पार्टी का कर्नाटक में यह गत हुआ है।’ अब शहरी नक्सल कुलैया कुमार प्रकट हुआ।

‘मेरे कारण?’ आश्चर्य चकित सिकरे ने पूछा!

‘अरे हमारे तो डीएनए में ही द्रोह है। तू अब मेरे किसी काम का नहीं, चल भाग यहां से?’ नक्सली कुलैया ने कहा।

इतने में पप्पू गांधी अखबार में लिखने और टीवी में बकने वाले अपने कुछ ‘पीडियों’ के साथ वहां से गुजरा।

‘पीडियों’ की भौं-भौं से सिंघम मोदी और शाह का ध्यान उधर गया। लेकिन ज्यों ही सिंघम और शाह को उन पीडियो ने साथ देखा, पप्पू को छोड़कर भाग खड़े हुए। पीडियों को भागते देखकर शहरी नक्सल कश्मीरी मसूद, मवाली और कुलैया भी पीछे-पीछे भाग खड़ा हुआ!

‘मम्मी सब मुझे अकेला छोड़ कर भाग गये!’ यह बेईमानी है। पप्पू हाथ-पैर पटक कर रोने लगा।

सिकरे ने जेब में हाथ डाला। उसकी हाथ में एक लॉपीपॉप था।

‘लॉलीपॉप मुझे चाहिए, लॉपीपॉप मुझे चाहिए। नहीं तो मम्मी से कह दूंगा!’ पप्पू ठुनकते हुए सिकरे के लॉपीपॉप की ओर झपटा!

पप्पू के झपटते ही पप्पू के साथ आए चमचे छिब्बल, सिंदवी, सिंथिया, गलकोट, गुलाम सब ने बिना कुछ समझे ही सिकरे को लात-घूंसों से पीट डाला और पप्पू का नाक पोंछते हुए उसे गोद में उठाकर पुचकारते हुए वहां से ले गये!

मार खाकर जमीन पर बेदम और फटेहाल पड़े सिकरे ने सोचा, ‘अच्छा-खासा रील लाइफ में विलन का रोल निभा रहा था। असली लाइफ में हीरो बनने चला था, लतखोर बनकर रह गया!

सिंघम मोदी और शाह मुस्कुराते हुए परिवार के कब्जे से पुड्डुचेरी और पंजाब को मुक्त कराने के अपने अगले मिशन पर निकल गये!

URL: political satire on karnataka election 2018

Keywords: political satire on karnataka election 2018, karnataka election results, bjp breaks congress, karnataka news, karnataka Election Result Live, karnataka latest news, karnataka Election Result 2018, karnataka news today, Karnataka election results 2018, karnataka election news, karnataka News Update, karnataka live News, Bengaluru election Result Live, karnataka polls predictions, karnataka poll predictions, karnataka polls prediction, chief minister of Karnataka, cm of Karnataka, karnataka chief minister, karnataka cm, karnataka new cm, karnataka ministers, karnataka new ministers, karnataka new ministers portfolio, congress Karnataka, bjp Karnataka, karnataka bjp, karnataka congress, राजनीतिक व्यंग्य, व्यंग्य

आदरणीय पाठकगण,

News Subscription मॉडल के तहत नीचे दिए खाते में हर महीने (स्वतः याद रखते हुए) नियमित रूप से 100 Rs डाल कर India Speaks Daily के साहसिक, सत्य और राष्ट्र हितैषी पत्रकारिता अभियान का हिस्सा बनें। धन्यवाद!  



Bank Details:
KAPOT MEDIA NETWORK LLP
HDFC Current A/C- 07082000002469 & IFSC: HDFC0000708  
Paytm/UPI/ WhatsApp के लिए मोबाइल नं- 9312665127

Sandeep Deo

Journalist with 18 yrs experience | Best selling author | Bloomsbury’s (Publisher of Harry Potter series) first Hindi writer | Written 7 books | Storyteller | Social Media Coach | Spiritual Counselor.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

समाचार