खुलासा…एयरसेल-मैक्सिस घोटाले का 200 करोड़ चिदंबरम ने प्रणय राय के NDTV में खपाया!

झूठ प्रचारित करने का तमगा लेने वाले एनडीटीवी का असली मालिक प्रणय राय नहीं बल्कि देश के पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम हो सकते हैं? चौंकिए नहीं, मुखबिर ने एनडीटीवी की धोखाधड़ी का जो खुलासा किया है उससे यही लगता है…सच्चाई आनी अभी बाकी है। मालिकाना हक की सच्चाई जब बाहर आए, लेकिन एनडीटीवी और उसके मालिक प्रणय राय के साथ पी चिदंबरम की धोखाधड़ी बाहर आ चुकी है। यह खुलासा आय कर आयुक्त ने ही सीबीआई को पत्र लिखकर किया है। आय कर आयुक्त संजय कुमार श्रीवास्तव ने सीबीआई को पत्र लिखकर यह जानकारी दी है कि पी चिदंबरम ने एयरसेल मैक्सिस मामले में जो 200 करोड़ रुपये घूस ली थी उसे उन्होंने निवेश के रूप में एनडीटीवी में जमा कर रखा है।

इससे स्पष्ट है कि प्रणय राय का एनडीटीवी चैनल पी चिदंबरम की घूस के पैसे से चलता है। खास बात है कि पी चिदंबरम ने यह पैसा अपने नाम से नहीं बल्कि मैक्सिस की सहयोगी कंपनी ऑल एस्ट्रो एसिया नेटवर्क के नाम से किया है। इस मामले में भाजपा के वरिष्ठ नेता सुब्रमनियन स्वामी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि एयरसेल-मैक्सिस मामले में पी चिदंबरम को मिली 200 करोड़ रुपये की रिश्वत उन्होंने एनडीटीवी में निवेश के रूप में जमा करा दिया था।

मुख्य बिंदु

* पी चिदंबरम ने एयरसेल-मैक्सिस से जो 200 करोड़ रुपये घूस ली थी उसे प्रणय राय के एनडीटीवी में निवेश के रूप में जमा किया था

* आय कर आयुक्त ने सीबीआई को पत्र लिखकर पी चिदंबरम की रिश्वत के पैसे एनडीटीवी चैनल में जमा होने की जानकारी दी

ईमानदारी का लबादा ओढ़े प्रणय राय का असली चेहरा तो पहले ही लोगों के सामने आ चुका है लेकिन इस खुलासे से यह भी स्पष्ट हो गया है कि वह हवाला मामले से भी जुड़े हैं। एयरसेल मैक्सिस को विदेशी फंड पाने के लिए पी चिदंबरम ने जो मदद की थी उसके लिए मैक्सिस और टी आनंद कृष्णन ने पी चिदंबरम को 200 करोड़ रुपये की रिश्वत दी थी। जिसे उनके बेटे कार्ति चिदंबरम ने एनडीटीवी के माध्यम से एनडीटीवी लाइफस्टाइल होल्डिंग के 49 प्रतिशत शेयर खरीद लिए। यहां यह समझना जरूरी है कि एनडीटीवी लाइफस्टाइल के शेयर एनडीटीवी ने ही खरीदा जबकि पैसा कार्ति चिदंबरम के माध्यम से पी चिदंबरम का था।

आय कर आयुक्त का कहना है कि एनडीटीवी में जमा हुए 200 करोड़ रुपये की जांच बहुत जरूरी है। मालूम हो कि साढे तीन हजार करोड़ रुपये के लिए एफआईपीबी की मंजूरी दिलाने के लिए ही मैक्सिस तथा उसके मालिक टी आनंद कृष्णन ने पी चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति चिदंबरम के नाम पर एनडीटीवी में 200 करोड़ रुपये जमा कराए थे।

इसी मामले में आय कर आयुक्त ने सीबीआई को 88 पृष्ठ का एक पत्र भेजा है। इस पत्र में सारे साक्ष्य विवरण दिए गए हैं। इस पत्र में उन्होंने एनडीटीवी के मालिक प्रणय राय द्वारा की गई बैंक धोखाधड़ी का सारा काला चिट्ठा भी भेजा है। इस मामले के खुलासे से यह भी साफ हो गया है कि एयरसेल मैक्सिस घोटाला मामले में किसी न किसी रूप में एनडीटीवी भी जुड़ा है। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि उस दौरान मैक्सिस और उसके मालिक तथा एनडीटीवी और उसके मालिक प्रणय राय के साथ सीधा लेन-देन होता रहा है।

तो अब आपको पता चला कि NDTV का प्राइम ‘बकैत पांड़े’, क्यों कांग्रेस की सत्ता लाने के लिए ‘मोदीफोबिया’ नामक बीमारी से पीड़ित होकर विक्षिप्तता के स्तर को पार करता जा रहा है? जनाब उसकी तनख्वाह भी तो अभी तक NDTV में कांग्रेस के ऐसे कई ‘घूस निवेश’ के कारण ही चल रहा है! घर का राशन-पानी और शरीर के अंदर जब कांग्रेसी नमक घुला हो तो उसका सियार की तरह हुआ..हुआ..करना तो बनता है न?

URL: Pranay Rai’s NDTV run Through P Chidambaram’s bribe money

Keywords: NDTV, Prannoy Rai, p chidambaram, cbi, aircel maxis case, chidambaram bribe money, cbi sanjay shrivastav, एनडीटीवी, प्रणय राय, पी चिदंबरम, एयरसेल मैक्सिस केस, सीबीआई, चिदंबरम रिश्वत पैसा, सीबीआई संजय श्रीवास्तव

आदरणीय पाठकगण,

News Subscription मॉडल के तहत नीचे दिए खाते में हर महीने (स्वतः याद रखते हुए) नियमित रूप से 100 Rs डाल कर India Speaks Daily के साहसिक, सत्य और राष्ट्र हितैषी पत्रकारिता अभियान का हिस्सा बनें। धन्यवाद!  



Bank Details:
KAPOT MEDIA NETWORK LLP
HDFC Current A/C- 07082000002469 & IFSC: HDFC0000708  
Paytm/UPI/ WhatsApp के लिए मोबाइल नं- 9312665127

ISD Bureau

ISD is a premier News portal with a difference.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताजा खबरे