अपनी विफल राजनीति के कारण राफेल डील का विरोध करने को मजबूर राहुल गाँधी!



Arun Jaitley and Rahul Gandhi (File Photo)
ISD Bureau
ISD Bureau

जिस प्रकार राफेल डील पर राहुल गांधी का बोला गया झूठ पकड़ा जा रहा है उससे एक सवाल उठना तो लाजिमी है। आखिर वह राफेल डील पर इतना झूठ बोल क्यों रहे हैं? इस सवाल का जवाब मोदी सरकार के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अपने ट्वीट से दिया है। उन्होंने कहा है कि राहुल गांधी की राजनीतिक विफलता ही उन्हें राफेल डील पर अड़ंगा लगाने को मजबूर कर रही है।

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अपने ट्वीट में लिखा है कि पहले राफेल विमान की खरीद में यूपीए सरकार ने देरी की, जबकि भारतीय वायु सेना की क्षमता बढ़ाने के लिए राफेल विमान की काफी जरूरत है। अब राहुल गांधी इतने संवेदनशील रक्षा सौदे को विवादास्पद बनाने पर तुले हैं। जेटली के मुताबिक राहुल गांधी की विफल राजनीति ने उन्हें भारत की संवेदनशील रक्षा आवश्यकताओं को विवादास्पद बनाने के लिए मजबूर किया है।

वहीं राफेल डील को लेकर राहुल गांधी द्वारा फैलाए जा रहे झूठ के बारे में डसॉल्ट एविएशन कंपनी के सीईओ एरिक ट्रैपियर के आए बयान के बाद केंद्र सरकार के मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि इससे कांग्रेस पूरी तरह एक्सपोज हो चुकी है। उन्होंने लिखा है कि अब तो कांग्रेस को इस प्रकार का झूठ फैलाना बंद कर देना चाहिए तथा देश से माफी मांगनी चाहिए।

मुख्य बिंदु

* राफेल डील पर लगातार पकड़ा जा रहा राहुल गांधी के झूठ ने खोली उनकी पोल

* अपनी राजनीति संवारने के लिए संवेदनशील रक्षा सौदे को बना रहे हैं विवादास्पद

मालूम हो कि जिस राफेल विमानों की कीमतों को लेकर राहुल गांधी लगातार झूठ बोलते रहे हैं उसके बारे में भी ट्रैपियर ने खुलासा कर उनकी बोलती बंद कर दी है। उनका कहना है वर्तमान राफेल विमान की कीमत की तुलना पूर्व में तय राफेल विमानों की कीमत से करना एक प्रकार से मुर्गी और अंडे में तुलना करने के बराबर होगा। जहां तक डसॉल्ट कंपनी से जुड़ा मसला है उसके बारे में उन्होंने कहा कि मुझे 9 प्रतिशत कीमत कम करनी पड़ी क्योंकि यह डील दो देशों की सरकारों के बीच हुई थी।

URL: Rahul Gandhi forced to oppose Rafael Deal due to his failed politics

Keywords: Rahul Gandhi, rafale deal, Rafale controversy, arun jaitley, why rahul oppose rafale, Rahul Gandhi Politics, राहुल गांधी, राफेल सौदे, राफेल विवाद, अरुण जेटली, राहुल का राफेल विरोध, राहुल गांधी राजनीति,


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !

About the Author

ISD Bureau
ISD Bureau
ISD is a premier News portal with a difference.