रजत शर्मा की गलती पर आईना क्या दिखाया, जनाब अपनी औकात दिखा बैठे! भगवान पत्रकारिता को ऐसे संपादकों से बचाए!



ISD Bureau
ISD Bureau

इंडिया टीवी के प्रमुख संपादक रजत शर्मा कभी खुद को धीरूभाई अंबानी का तीसरा बेटा बताते थे, आज के उनके ट्वीट और सोशल मीडिया पर उनकी हरकत को देखकर यही लगता है कि वह सच ही कहते थे! किसी पैसे वाले के सहयोग से एक न्यूज चैनल खड़ा कर लेना और एक बुद्धिजिवी संपादक होने में बड़ा फर्क है! यह फर्क तब और बढ़ जाता है जब किसी संपादक का अहंकार आसमान छूता हो! पूर्व राष्ट्रपति डॉ जाकिर हुसैन और तबला वादक जाकिर हुसैन में कोई फर्क पता न हो वह ‘आपकी अदालत’ ‘सजाता’ है, और जब कोई प्रोफेसर इस पर ध्यान दिलाए तो वह सेंसरशिप लागू कर देता है!

जहां आज सोशल मीडिया पर हर कोई चाहता है कि उसका लिखा हर कोई पढ़े और ज्यादा से ज्यादा लोगों तक उसका मैसेज पहुंचे। ऐसे दौर में रजत शर्मा ने उस व्यक्ति को ही ब्लॉक कर दिया जो उनके एक ट्वीट को वाह ताज लिखते हुए रिट्वीट किया था। यह व्यंग्य रजत शर्मा को अखर गया और उन्होंने लेखक प्रोफेसर आनंद नंगनाथन को ब्लॉक कर दिया, यही नहीं उनके टीवी चैनल इंडिया टीवी ने भी आनंद को ब्लॉक कर दिया।

असल में पूर्व राष्ट्रपति जाकिर हुसैन की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए रजत शर्मा ने उनकी जगह तबला वादक जाकिर हुसैन की तस्वीर लगा दी। इतने बड़े संपादक से ऐसी गलती की उम्मीद नहीं की जा सकती है। जेएनयू के प्रोफेसर और लेखक आनंद रंगनाथन ने ‘वाह ताज’ लिखकर रजत शर्मा पर कटाक्ष किया था, जिसे रजत को सही से लेना था, लेकिन वह बुरा मान गये।

‘आपकी अदालत’ ‘सजाने’ वाले रजत शर्मा को शायद सर्वज्ञानी होने का अहंकार है। वह दूसरों से सवाल पूछ सकते हैं, कोई दूसरा उनकी गलतियों पर टोके उन्हें पसंद नहीं। अहंकार के वशीभूत रजत शर्मा ने आनंद को तत्काल ब्लॉक कर दिया। यही नहीं, उनके न्यूज चैनल इंडिया टीवी ने भी आनंद को ब्लॉक कर दिया। यह साफ-साफ सेंसरशिप है, जिसे रजत शर्मा जैसे संपादकों ने सवाल पूछने वाले आम लोगों पर लगाने का प्रयास किया है।

शायद यही वजह है कि रजत शर्मा, प्रणय राय जैसे पत्रकार और चैनल मालिक जब-तब सोशल मीडिया के खिलाफ आग-बबूला होते रहे हैं, क्योंकि सोशल मीडिया इन्हें बराबर आईना दिखाता रहता है। यह वही रजत शर्मा हैं, जिनको यह तक पता नहीं कि बलात्कारी पीडि़ता का नाम नहीं लेते। कठुआ मामले में इस गलती के कारण इनके चैनल पर दिल्ली हाईकोर्ट जुर्माना लगा चुका है। फिर भी रजत शर्मा को गुमान है कि वह सर्वज्ञानी संपादक हैं। भगवान ऐसे संपादकों से देश की जनता को बचाए!

URL : rajat sharma blocked a writer after retweeting his tweet!

Keyword : rajat sharma, journalist, tweet, sandeep deo


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !

About the Author

ISD Bureau
ISD Bureau
ISD is a premier News portal with a difference.