ईडी का नया खुलासा, किसके पैसे से बाड्रा ने खरीदा था लंदन में बंगला!



Awadhesh Mishra
Awadhesh Mishra

पिछले कुछ दिनों में सोनिया गांधी के दामाद और कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा से ईडी ने तीन दिनों में करीब 24 घंटे पूछताछ की थी। इस पूछताछ के संदर्भ में ईडी ने जो कुछ थोड़ा बहुत खुलास किया है उसके हिसाब से वाड्रा ने लंदन में जो 15 करोड़ का बेनामी बंगला खरीदा था वह पैसे उसे सैमसंग इंजीनियरिंग की दलाली के मिले थे। प्रवर्तन निदेशालय ने राबर्ट वाड्रा की लंदन स्थित बेनामी संपत्ति को खरीदने के लिए जुटाए गए धन की तह तक पहुंचने का दावा किया है। वाड्रा से तीन दिन तक पूछताछ करने वाले ईडी के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार लंदन स्थित आवास (पता – 12, ब्रायंस्टन स्क्वायर) कोरियाई कंपनी सैमसंग इंजीनियरिंग की ओर से दी गई दलाली से खरीदा गया था। दलाली गुजरात के दाहेज में बनने वाले ओएनजीसी के एसईजेड से जुड़े निर्माण का ठेका मिलने के एवज में दिया गया था। ईडी अब इस ठेके की जांच कर रही है।

वाड्रा के लिए ईडी को बदलना पड़ा अपना सालों पुराना नियम

ईडी ने वाड्रा के बंगले और दलाली के बारे में ही खुलासा नहीं किया है बल्कि उसकी पढ़ाई लिखाई के बारे में भी खुलासा किया है। मालूम हो कि ईडी द्वारा हुई पूछताछ कोर्ट में सबूत के तौर पर भी देखा जाता है। इसलिए ईडी आरोपित से जो सवाल पूछता है उसका जवाब उसे खुद लिखकर देना होता है। ईडी ने जब पहले दिन वाड्रा से पूछताछ शुरू की तो इसी नियम को अपनाया। लेकिन वाड्रा ने इसे ही अपना हथियार बना लिया। उन्होंने एक पैराग्राफ ऐसा और इतनी देर में लिखा कि ईडी अधिकारी सिर पकड़ कर बैठ गया। वाड्रा की लिखावट बिल्कुल अपठनीय थी। अंत में वरिष्ठ अधिकारियों से संपर्क कर उसके लिए कंप्यूटर और टाइपिस्ट की व्यवस्था की गई। अब वाड्रा बोलकर अपना बयान लिखाते हैं और टाइपिस्ट टाइप करने के बाद उसका प्रिंटआउट वाड्रा को दिखाकर उस पर दस्तखत कराया जाता है। ताकि कल मुकर न जाएं।

लंदन की बेनामी संपत्ति दलाली के 15 करोड़ रुपये से खरीदी थी

ईडी से मिली जानकारी के मुताबिक सैमसंग इंजीनियरिंग को दिसंबर, 2008 में दाहेज में बनने वाले एसईजेड के लिए ठेका मिला था। इसी ठेका के एवज में सैमसंग ने छह महीने बाद जून, 2009 में संजय भंडारी की कंपनी सैनटेक को 49.9 लाख डॉलर यान करीब साढ़े 23 करोड़ रुपये दलाली के रूप में दी थी। इसी में से संजय भंडारी ने 15 करोड़ रुपये वोर्टेक्स नाम की कंपनी को ट्रांसफर कर दिया था।
ईडी को यकीन है कि इसी दलाली के पैसे से रॉबर्ट वाड्रा ने लंदन स्थित 12, ब्रायंस्टन स्क्वायर की संपत्ति खरीदी थी । 2010 में भंडारी का रिश्तेदार सुमित चड्ढा इस संपत्ति की मरम्मत के लिए वाड्रा को ईमेल भेजकर इजाजत मांगी थी। इतना ही नहीं चड्ढा ने ईमेल से ही वाड्रा को मरम्मत कराने के लिए पैसे का इंतजाम करने को भी कहा था। उसी ईमेल के जवाब में वाड्रा ने मनोज अरोड़ा को इसकी व्यवस्था करने का निर्देश दिया था। गौर हो कि उस घर की मरम्मत करने पर 45 लाख रुपये खर्च हुए थे।

 

URL : robert had bought the london based house with brokerage money!

Keywords: ed, robert vadra, sanjay vandari


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !