अदालत ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में रॉबर्ट वाड्रा को दिया झटका, कहा ईडी के सामने पेश हो!

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा को आज दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट से करारा झटका लगा है। कोर्ट ने वाड्रा की अर्जी पर सुनवाई करते हुए उन्हें ईडी के सामने पेश होने को कहा है। कोर्ट के आदेश के मुताबिक रॉबर्ट वाड्रा को अब छह फरवरी को ईडी के सामने पेश होना होगा। सुनवाई को दौरान ईडी ने वाड्रा की दायर याचिका का विरोध करते हुए कहा कि उन्होंने पेट्रोलियम सौदा में भी दलाली खाई है। इसके साथ ही ईडी ने कोर्ट से वाड्रा को अपने सारे बैंक खाते के साथ खरीदी गई जमीनों के विवरण जमा कराने को कहा है। कोर्ट ने वाड्रा को अपने सारे विवरण ईडी के पास जमा कराने को कहा है। इसके साथ ही कोर्ट ने वाड्रा की गिरफ्तारी 16 फरवरी तक नहीं होने का भी आदेश दिया है। मालूम हो कि वाड्रा ने मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में गिरफ्तारी के भय से दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट से अग्रिम जमानत की गुहार लगाई थी।

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार होने के डर से दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में  रॉबर्ट वाड्रा की अग्रिम जमानत की गुहार पर आज हुई सुनवाई के दौरान  प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने विरोध किया। मालूम हो कि वाड्रा ने उसी मामले में अग्रिम जमानत की गुहार लगाई थी जिस मामले में उसके करीबी सहयोगी मनोज अरोड़ा की गिरफ्तारी पर कोर्ट ने छह फरवरी तोक रोक लगा रखी है। यह मामला लंदन स्थित ब्रायंस्टन स्क्वायर स्थित उस संपति की खरीद से जुड़ा हुआ है। गौर हो कि यह संपत्ति 19 लाख पाउंड में खरीदी गई थी और यह संपत्ति रॉबर्ट वाड्रा के नाम है। इसी संपत्ति की खरीद में वाड्रा और मनोज अरोड़ा के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग करने का आरोप है।

गौरतलब है कि ईडी ने लंदन स्थित बेनामी संपत्ति को लेकर मनोज अरोड़ा तथा रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया था। मनी लॉन्ड्रिंग मामले में अपनी संभावित गिरफ्तारी के डर से ही राबर्ट वाड्रा ने दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में अपने लिए अंतरिम जमानत की गुहार लगाई है।

इस मामले में वरिष्ठ पत्रकार उत्कर्ष आनंद ने अपने ट्वीट में लिखा है कि जिस मामले में वाड्रा ने अग्रिम जमानत के लिए कोर्ट का रुख किया है उसी मामले में उनका करीबी सहयोगी मनोज अरोड़ा फंसा हुआ है। ध्यान रहे कि ईडी उससे पूछताछ कर चुकी है। अभी वह अंतरिम जमानत पर बाहर है।

उनके करीबी सहयोगी मनोज अरोड़ा पर लंदन में एक संपत्ति से संबंधित मनी लॉन्ड्रिंग मामले में मुकदमा चलाया जा रहा है। ईडी द्वारा हुई पूछताछ के बाद उसने अपने वकील के माध्यम से यह आरोप लगाया था कि रॉबर्ट वाड्रा के कर्मचारी होने की वजह से उनपर वाड्रा का नाम लेने के लिए दबाव डाला गया था। हालांकि ईडी मनोज के आरोप को निराधार बता चुकी है।

इस संपत्ति की लेनदेन को लेकर सुमित चड्ढा, मनोज अरोड़ा, रॉबर्ट वाड्रा और संजय भंडारी के बीच ईमेल आदान-प्रदान होता रहा है। इसके अलावा वाड्रा के दो बार ज्यूरिख जाने के लिए टिकट का बंदोबस्त भी भंडारी ने ही किया था और उसके लिए एयर टिकट भी वाड्रा को ईमेल से भेजा गया था। आपको बता दें कि ज्यूरिख जाने के लिए दो टिकटों के जो एयर फेयर बताया गया है वह करीब आठ लाख है। सवाल उठता है कि आखिर रॉबर्ट वाड्रा ज़्यूरिख में नकदी से भरे बैग लेकर क्या कर रहे थे।

गौर हो कि पिछले महीने ही राजस्थान हाई कोर्ट ने स्काईलाइट हॉस्पिटैलिटी प्राइवेट लिमिटेड में वाड्रा और उनके सहयोगियों से पूछा था, इस मामले में उनकी मां मौरीन वाड्रा भी शामिल थीं। उन्हें 12 फरवरी को प्रवर्तन निदेशालय के सामने पेश होना है और फर्म द्वारा मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों पर अपना रुख स्पष्ट करना है।

पिछले साल नवंबर के अंत में, एक भूमि सौदे की जांच में पता चला कि एक कंपनी ने बीकानेर में जमीन खरीदने के लिए वाड्रा को उच्च दर पर ऋण दिया था और इसके परिणामस्वरूप, फर्म को आयकर निपटान आयोग से बड़ी आयकर राहत मिली। इसके बाद, प्रवर्तन निदेशालय ने मामले पर निपटान आयोग से कार्यवाही का विवरण मांगा था।

URL : robert vadra files anticipatory bail plea in a delhi court!

Keywords: rober vadra, money laundering case, patiyala house court, ED

आदरणीय पाठकगण,

News Subscription मॉडल के तहत नीचे दिए खाते में हर महीने (स्वतः याद रखते हुए) नियमित रूप से 100 Rs डाल कर India Speaks Daily के साहसिक, सत्य और राष्ट्र हितैषी पत्रकारिता अभियान का हिस्सा बनें। धन्यवाद!  



Bank Details:
KAPOT MEDIA NETWORK LLP
HDFC Current A/C- 07082000002469 & IFSC: HDFC0000708  
Paytm/UPI/ WhatsApp के लिए मोबाइल नं- 9312665127

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताजा खबरे