शादिया अनस के पासपोर्ट फॉर्म में थी कमियां! बदनाम करने के लिए मोदी-योगी हेटर गैंग ने खेला मुस्लिम कार्ड!

कल से तन्वी सेठ उर्फ शादिया अनस के पासपोर्ट व उसके कारण पासपोर्ट अधिकारी के दंडित किये जाने का मामला गरमाया हुआ है। इस पूरे प्रकरण में जो नए तथ्य सामने आये है उससे यह प्रतीत होता है कि सुषमा स्वराज, भारत मे नही थी बल्कि यह प्रशासनिक निर्णय विदेश मंत्रालय से लिया गया था। यह बात सत्य भी है तब भी इस निर्णय के उत्तरदायित्व से सुषमा स्वराज जी स्वयं को अलग कर नही सकती है।

इसी के साथ शादिया अनस उर्फ तन्वी सेठ की सहकर्मी, जो उसके साथ डेल कम्पनी में कार्यरत थी का यह कथन भी सामने आया है कि वो अपने केरियर ग्रोथ के लिये अमेरिका जाना चाहती थी लेकिन उनका पासपोर्ट आड़े आ रहा था और संभवतः उनका एच वन आव्रजन वीसा के लिए दिया गया प्रार्थनापत्र एक बार अस्वीकार किया जा चुका है। इन्ही कारणों से वे बदली हुई पहचान छुपा कर पूर्व की तन्वी सेठ का ही पासपोर्ट चाहती थी।

साथ मे एक कुलदीप का भी कथन आया है जो शादिया अनस व अनस सिद्दीकी की पासपोर्ट अधिकारी विकास मिश्रा से हुई वार्ता के दौरान उपस्थित था। उसके अनुसार पासपोर्ट के फॉर्म में दिख रही कमियों को जबरदस्ती का मुस्लिम विशेष का मामला बना दिया गया है क्योंकि उनके मुस्लिम को लेकर वहां कोई बात नही हुई थी।

अब जो शादिया अनस उर्फ़ तन्वी सेठ के पासपोर्ट और एक पक्षीय ढंग से पासपोर्ट अधिकारी विकास तिवारी को दंड स्वरूप स्थान्तरण को लेकर सुषमा स्वराज जी पर आक्रोश व्यक्त किया गया है वह तो अपनी जगह है लेकिन इसका कदापि अर्थ यह नही है कि मैं ‘नोटा’ ब्रिगेड में शामिल हो जाऊंगा। इन तमाम गलत निर्णयों के बाद भी वोट तो बीजेपी को ही दूंगा और लोगो से देने का आवाहन भी करूँगा क्योंकि न मुझ को मोदी जी की नीयत पर शक है और न ही भारत व उसके हिन्दू के अस्तित्व रक्षा के लिए कोई भी विकल्प सामने आता दिख रहा है।

अब अभिभावकों से कोई गलती होती है तो क्या उनसे मुंह फेर लिया जाता है? अपना आक्रोश प्रदर्शित करना था वह कर दिया है, तन्वी सेठ की अमेरिकी वीसा की अभिलाषा को चोट देनी थी वो अमेरिका के दूतावास को सूचित कर के कर दिया है और अब हम नई स्फूर्ति से 2019 में मोदी जी को फिर भरपूर तरीक़े से जिताने के लिये तैयार है।

सादिया अनस पासपोर्ट मामले में प्रकाशित अन्य खबरें:

सादिया अनस लखनऊ पासपोर्ट मामले में सोशल मीडिया पर वायरल इंडिया स्पीक्स की रिपोर्ट के बाद विदेश मंत्रालय जवाब के साथ आया सामने! लेकिन सुषमा स्वराज को बचाने में खुद अपने ही बयान में फंसा?

सादिया अनस पासपोर्ट प्रकरण के कारण दुनिया के दूसरे देश यदि भारतीय पासपोर्ट को अविश्वसनीय नजर से देखने लगें तो दोष किसका होगा?

तन्वी सेठ ऊर्फ सादिया अनस का झूठ पकड़ाया, होगा पासपोर्ट रद्द!

सुषमा स्वराज के विक्टिम कार्ड पर लुटियन पत्रकार हिंदुओं को गाली दे रहे हैं! सोचिए यदि सुषमा वाला बयान पीएम नरेंद्र मोदी देते तो ये पत्रकार कब का उनका खाल उतारने पर उतारू हो जाते!

फेसबुक पर एक दिन में सबसे ज्यादा विश्वनीयता खोने वाली नेता बनी सुषमा स्वराज!

सुषमा जी हिन्दू पासपोर्ट अधिकारी को नियमों पर चलने के बाद भी सज़ा क्यों?

URL: Sushma ji, why the Hindu passport officer is punished even after following rules

Keywords: Sushma Swaraj, Inter-faith Couple Gets Passport, Lucknow, passport officer, Vikas Mishra, hindu-muslim, secular media, modi haters, सुषमा स्वराज, पासपोर्ट अधिकारी, हिन्दू, मुसलमान, मोदी हेटर गैंग

आदरणीय पाठकगण,

News Subscription मॉडल के तहत नीचे दिए खाते में हर महीने (स्वतः याद रखते हुए) नियमित रूप से 100 Rs. या अधिक डाल कर India Speaks Daily के साहसिक, सत्य और राष्ट्र हितैषी पत्रकारिता अभियान का हिस्सा बनें। धन्यवाद!  

For International members, send PayPal payment to [email protected] or click below

Bank Details:
KAPOT MEDIA NETWORK LLP
HDFC Current A/C- 07082000002469 & IFSC: HDFC0000708  
Branch: GR.FL, DCM Building 16, Barakhamba Road, New Delhi- 110001
SWIFT CODE (BIC) : HDFCINBB
Paytm/UPI/ WhatsApp के लिए मोबाइल नं- 9312665127

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ताजा खबर