Watch ISD Live Now Listen to ISD Radio Now

Tagged: Amitabh Bachchan

0

ऐसे विज्ञापनों से हां मुझे भी धनराशि मिलती है: अमिताभ बच्चन

आईएसडी नेटवर्क। अभिनेता अमिताभ बच्चन एक गुटखा कंपनी के लिए विज्ञापन करने के बाद आलोचनाओं से घिरे हुए हैं। इस पर चुप्पी साधने के बजाय उन्होंने ऐसा जवाब दिया है, जो उनके प्रशंसकों को...

0

‘बेबी बम्प’ से भी पैसा कमाने की अद्भुत कला में बॉलीवुड कलाकारों का मुकाबला नहीं है

स्त्री का मातृत्व एक निजी अनुभूति है। ये अनुभूति उसके और उसके परिवार की निजी थाती होती है।

1

अमिताभ बच्चन को अपना व्यावसायिक साम्राज्य ढहता दिखाई दे रहा है

गत वर्ष 17 नवंबर को बार्क की रेटिंग में अमिताभ बच्चन का ‘कौन बनेगा करोड़पति’ को 3.9 की रेटिंग दी गई थी। गूगल की रेटिंग भी लगभग ऐसी ही दिखाई देती है। सोनी टीवी...

0

फिल्म उद्योग पैरों में बारुद लिए चल रहा है और उसे इस बात की खबर तक नहीं है

बॉलीवुड को लेकर देश के नागरिकों में जो स्वः स्फूर्त सत्याग्रह चल पड़ा है, उसे न केवल केंद्र सरकार, बल्कि खुद बॉलीवुड नज़रअंदाज़ कर रहा है।

7

गोविंदा से ‘जुड़वा’ छीनने वाले सलमान की कुर्सी किसी भी क्षण छीनी जा सकती है

सलमान नंबर वन की कुर्सी को कब्जाए रखना चाहते हैं। कला के क्षेत्र में ये संभव ही नहीं है कि लोकप्रियता को किसी रस्से से बांधा जा सके।

0

हिन्दू भावना को ठेस पहुंचाने के आरोप में अमिताभ बच्चन समेत 7 लोगों पर केस दर्ज!

बिहार के शहर मुजफ्फरपुर में अमिताभ बच्चन समेत सात लोगों पर” कौन बनेगा करोड़पति” शो के दौरान हिंदू भावनाओं को आहत करने के आरोप में परिवाद दर्ज किया गया है। ऐसा नहीं है कि...

2

प्रकाश जावड़ेकर को केंद्र सरकार में मंत्री नहीं होना चाहिए प्रधानमंत्री जी

जनता इस समय केंद्र सरकार से अपेक्षा कर रही है कि एक न्यूज़ चैनल पर असंवैधानिक हमले को लेकर तीखी प्रतिक्रिया दे।

4

केबीसी में पूछे जा रहे सवालों पर दर्शक भड़के, ट्वीटर पर शो की जबरदस्त धुलाई शुरू

नए सीजन के शो में एक सवाल पूछा गया कि इस युवा नेता की आवाज़ पहचानिये। ऑप्शन में हार्दिक पटेल, जिग्नेश मेवानी, कन्हैया कुमार और उमर खालिद के नाम दिए गए।

0

कौन बनेगा करोड़पति हुआ रोडपति, मिले हैं केवल 400 लाइक

ताज़ा रेटिंग्स में आम जनता का आक्रोश सहज ही समझा जा सकता है। 19 सितंबर से 25 सितंबर के डाटा में स्टार उत्सव, स्टार प्लस जैसे चैनल ऊपर दिखाई दे रहे हैं और सोनी सबसे निचली पायदान पर जा पहुंचा है।

0

अमिताभ बच्चन के हाथ में अब सूरज नहीं, काल का कोयला है

केबीसी चलता था तो पड़ोस के घर से उसकी थीम ट्यून का संगीत सुनाई देता था लेकिन कल मैंने ऐसा कुछ महसूस नहीं किया।

2

कंगना व्याघ्र है तो समय उनके भी अपराध लिखने वाला है, जो मौन हैं

वर्तमान परिदृश्य बोलने और न बोलने के लिए भविष्य में हमेशा स्मरण में रहेगा। सुशांत सिंह राजपूत की निर्मम हत्या ने देश को वैचारिक रुप दो भाग में चीरकर रख दिया है।

0

मन में ये खौफ कायम रहेगा कि मेरा बेटा सुशांत सिंह राजपूत न हो जाए

उन पर उंगलियां क्या उठी, उन्हें याद आया कि हम कलाकार हैं और हमारे साथ सरकार को ऐसा नहीं करना चाहिए। आज देश बॉलीवुड से कई सवालों के जवाब मांग रहा है लेकिन देश को आँखें दिखाई जा रही हैं। क्या हिन्दी फिल्म उद्योग का इतिहास इतना साफ़-सुथरा है कि जया बच्चन सरकार से इस मामले में मदद मांग सके।

1

क्या सलमान खान, जया बच्चन नहीं चाहते कि बॉलीवुड को नशे से बचाया जाए

कल ही राज्यसभा में सपा सांसद के बयान का आशय कुछ ऐसा ही था, कि फिल्म उद्योग बड़ी मुसीबत में आ गया है। इस समय मुंबई फिल्म उद्योग में बोलना और न बोलना दोनों ही मुश्किल हो गया है।

0

क्या किसी महिला पर हुए अत्याचार का विरोध करने के लिए उसकी श्रेणी देखनी पड़ती है?

जया बच्चन का स्वभाव ऐसा है कि वे गलत बात कभी स्वीकार नहीं करतीं। एक बार वे अमिताभ बच्चन की फिल्म की स्क्रीनिंग छोड़कर चली गईं थीं। उनको अपने पति अमिताभ बच्चन की फिल्मों का श्रेष्ठ आलोचक कहा जाता है।

0

मनाली में ज्वालामुखी फटा लेकिन अमिताभ को सुनाई नहीं दिया

पोलियो के लिए उनके अभियान, सामाजिक कार्यों में योगदान के लिए उनको हम महानायक कहते थे लेकिन मुंबई में घटे दुःखद घटनाक्रम पर उनका अखंड मौन हमें अब प्रेरित करता है कि उन्हें इस संबोधन के बोझ से मुक्त कर दिया जाए।

ताजा खबर
भारत निर्माण

MORE