Watch ISD Videos Now Listen to ISD Radio Now

Tagged: Atal bihari Vajpayee

2

आपातकाल और कविताएँ

भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में 25 जून का दिन अपनी पूरी कालिमा के साथ आता है।  इतना काला कि उसके उजास के लिए अगले दिन का इंतज़ार करना होता है।  यह दिन प्रतीक है...

3

अपने ही खिलाफ खबर लिखने वाले पत्रकार को जब अटलजी ने बचाया!

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने कैसे एक पत्रकार को अपने ही खिलाफ खबर लिखने के बावजूद गिरफ्तारी से बचाया, सुनिए उसी पत्रकार की जुबानी….

0

मोदी है तो मुमकिन है।

वर्ष 1971 में तो युद्ध शुरू हो गया था तब भारत कि एयरफ़ोर्स युद्ध में आयी थी, पर आज भारत और पाकिस्तान युद्ध की शुरुवात तो शांति काल में हुई है। पहली बार भारत...

0

राहुल गांधी को बचाने की जो गलती अटलजी ने की थी, वही गलती मोदी कर रहे हैं! परिणाम झूठ, फरेब और देश तोड़ने की साजिशों के रूप में आ रहा है सामने!

लंदन दौरे पर गए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 25 अगस्त को बगैर किसी का नाम लेते हुए मोदी सरकार के एक वरिष्ठ मंत्री पर देश छोड़कर भागने से पहले विजय माल्या से मिलने का...

0

भाजपा के लिए हिंदू चेतना व हित की बात मानो मुखौटा है!

भाजपा और संघ भी नेहरूवाद से भयाक्रांत रही है, और सत्ता में आने के बाद भी उसी मार्ग पर चलती रही है। हिंदू हितैषी वैकल्पिक मार्ग को चुनना, उसकी अंदर की कुंठा का द्योतक...

0

अटल जी ने कश्मीरियों पर भरोसा किया फिर भरोसा तोड़ा किसने? महबूबा और फारूख बताएं!

सुभाष चन्द्र। दिल्ली में अटल जी के लिए आयोजित शोक सभा में महबूबा मुफ़्ती और फारूख अब्दुल्ला ने अटल जी के लिए बड़ी बड़ी बातें बोलीं। अच्छी बात है मगर जो उन्होंने कहा उसने...

0

अटल जी की याद में पुराने लखनऊ के हुसैनाबाद में बनेगा ‘अटल संग्रहालय’!

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर उनकी याद में योगी आदित्यनाथ की सरकार उत्तर प्रदेश में एक भव्य अटल संग्रहालय बनाने की योजना बना रही है। हालांकि संग्रहालय के नाम से लेकर...

0

टुकड़े-टुकड़े गैंग के लिए ‘अटल’ प्रतिज्ञा साकार होते देखना सदमें जैसा है, इसीलिए वे बेचैन हैं!

उन्हें अटल जी से नफरत करने की पूरी आजादी होनी जानी चाहिए! भारत तेरे टुकड़े होंगे का नारा देने के बाद भी देश में अभिव्यक्ति की आजादी को खतरे में बताने वाले, जितनी नफरत...

0

अटलजी ने इंदिरा को कभी दुर्गा नहीं कहा! यह तो वामपंथियों की चाल थी!

यह एक तथ्य है कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी ने इंदिरा गांधी को कभी दुर्गा नहीं कहा था। लेकिन एक षड्यंत्र के तहत इंदिरा गांधी को दुर्गा कहने के बयान को अटलजी...

0

तब वाजपेयी जी प्रधानमंत्री नहीं होते तो राहुल गांधी दो जन्मों तक जेल में होते!

अगर साल 2001 में देश के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी नहीं होते तो कांग्रेस के वर्तमान अध्यक्ष राहुल गांधी को दो जन्म अमेरिका की जेल में काटना पड़ता। आरोप है कि 2001 में राहुल...

0

अटलजी को बदनाम करने के लिए उनके निधन के तुरंत बाद The Wire ने चलाया फेक न्यूज!

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के तुरंत बाद ‘द वायर के संस्थापक संपादक सिद्धार्थ वरदराजन ने उनके खिलाफ फेक न्यूज चलाकर पूरी भारतीय पत्रकारिता को शर्मिंदा किया है। इससे जाहिर होता है...

0

एक महान नेता की अंतिम विदाई और भावनाओं का ज्वार!

मोनिका। हजारों की भीढ़, लेकिन इस भीढ़ में हर चेहरे पर एक मायूसी थी। अटल जी जाने का गम था, एक टीस थी जो उन्हें उमस भरी गर्मी में यहां तक खीच लाई थी।...

0

आरंभ से अब तक की यात्रा में ‘अटल’ माइलस्टोन!

सदेह ‘अटल’ का अनन्त गमन के लिए विदेह होना तय है, पर उनके प्रति उत्सुकता बिरले है मृत्यु मौन किन्तु अटल, आती है बिन आहट। व्याकूल करती होने और न होने की छटपटाहट किसी...

0

टीवी पर वाजपेयी हमेशा टीआरपी का जरिया रहे…!

जब दुनिया उन्हें उनके ओजस्वी भाषणों और कविता को याद कर रही है मन व्याकुल हो रहा है एक दशक से ज्यादा वक्त से वे मौन क्यों हैं? मौत से उनकी ऐसी ठनी कि...

0

अटलजी को लेकर 14 अगस्त को एम्स निदेशक और प्रधानमंत्री मोदी की क्या बातचीत हुई?

मोनिका, एम्स से इंडिया स्पीक्स के लिए। अटलजी 11 जून से एम्स में भर्ती हैं। अचानक 14 अगस्त को एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया पीएमओ पहुंचे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उन्होंने मिलने का...

0

अटल बिहारी वाजपेयी की कविता: ‘मैं जी भर जिया, मैं मन से मरूँ, लौटकर आऊँगा, कूच से क्यों डरूँ’

ठन गई! मौत से ठन गई! जूझने का मेरा इरादा न था, मोड़ पर मिलेंगे इसका वादा न था, रास्ता रोक कर वह खड़ी हो गई, यों लगा ज़िन्दगी से बड़ी हो गई। मौत...

0

जिनकी वजह से राजनीति की मेरी समझ विकसित हुई, वह अटल हैं!

मैं भी राजनीति से उदासीन एक युवा था। राजनीति को अछूत समझता था। कोई रुचि नहीं थी मेरी राजनीति में। तब पहली बार अटल बिहारी वाजपेयी जी का भाषण सुना था। 1996 में वह...

0

अटल बिहारी वाजपेयी की कविता: ‘सुनो प्रसून की अगवानी का स्वर उन्चास पवन में’!

पंडित मदन मोहन मालवीय द्वारा स्थापित सचित्र साप्ताहिक अभ्युदय में प्रकाशित अटल बिहारी वाजपेयी जी की कविता, 11 फरवरी 1946 नौ अगस्त सन बयालीस का लोहित स्वर्ण प्रभात, जली आंसुओं की ज्वाला में परवशता...

0

अपने पिता का राज खुलते ही अभिव्यक्ति की आजादी के पैरोकार एनडीटीवी वाले पत्रकार श्रीनिवासन जैन ने स्तंभकार को दे डाली धमकी!

अभिव्यक्ति की आजादी के तथाकथित पैरोकार कहे जाने वाले पत्रकार श्रीनिवासन जैन ने अपने पिता पूर्व राजनयिक एल सी जैन के तथ्य का खुलासा होते ही एक स्तंभकार को केस करने की धमकी दे...

0

कारगिल विजय पर पांच साल तक मातम मनाती रही सोनिया गांधी की यूपीए सरकार!

कांग्रेस की नियति रही है कि जिस भी चीज में गांधी-नेहरू परिवार का नाम जुड़ा नहीं होता है उसे वह न तो अपनाती है और न ही अपना मानती है चाहे वह देश के...

ताजा खबर
हमारे लेखक