Watch ISD Live Now Listen to ISD Radio Now

Tagged: Bjp VS Congress Leadership

0

मोदी सरकार में नक्सली वारदातों में कमी आने के बाद भी खतरे में है ‘कामी-वामियों’ के लिए लोकतंत्र!

वामियों-कांगियों की कथनी और करनी में ही अंतर नहीं होता उसका विश्लेषण भी समझ से परे ही होता है। वामियों के साथ कांगी भी हर ओर यह शोर मचाने में जुटे हैं कि मोदी...

0

भ्रष्टाचार पर मोदी सरकार का प्रहार, तीन सालों में 33,500 करोड़ की संपत्ति जब्त!

कांग्रेस और वामपंथी पार्टियां मोदी सरकार की आलोचना इसलिए करती है कि भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए कुछ नहीं किया गया है शायद उन्होंने अपनीं आंखें बंद कर रखी है। उन्हें यह नहीं...

0

महात्मा गांधी किसके… जो ज्यादा खादी बेचे उसके!

महात्मा गांधी और खादी का संबंध क्या रहा है यह बात किसी से छिपी नहीं है। अगर गांधी जिंदा होते और उनके सामने यह नारा लगाया जाता कि गांधी किसके? तो वे खुद इसे...

0

शहजाद पूनावाला ने कहा मनमोहन सरकार की करतूत से बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम!

आज जब लोकसभा चुनाव में जाने का वक्त आ गया है तो कांग्रेस मोदी सरकार पर पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमत को लेकर हमला कर रही है। जबकि कांग्रेस बेहतर ढंग से जानती...

0

मोदी सरकार आने के बाद दुनिया की चौथी बड़ी मिलिट्री पावर बना भारत!

आज भारत का डंका पूरी दुनिया में सिर चढ़कर बज रहा है, वह चाहे अर्थव्यवस्था का क्षेत्र हो विदेश नीति का चाहे सैन्य क्षमता का। जब से मोदी सरकार सत्ता में आई है तब...

0

सोनिया-राहुल की काहिली देखिए, रायबरेली में रेल कोच फैक्टरी का शिलान्यास 2007 में किया गया, लेकिन कोच उत्पादन अगस्त 2014 से शुरू हुआ!

कांग्रेस हमेशा नकारात्मक राजनीति करती रही है। सत्ता के मद में चूर रहने वाली कांग्रेस कभी विपक्ष की भूमिका को पचा ही नहीं पाई। इसलिए सत्ता में रहने के दौरान देश का विकास करने...

0

कभी टीवी, सोशल मीडिया और बिकाऊ पत्रकारों के शोर में छुपी हुई ‘सन्नाटे की आवाज’ तो सुनिए!

अमित सिंघल। एक मित्र ने मेरी पहली सितम्बर की पोस्ट पर टिप्पणी करते हुए लिखा कि “बुरा ना मानियेगा लेकिन समर्थक हूँ, अंधभक्त नही” और मोदी सरकार की कई मुद्दों पे आलोचना की। यद्यपि...

0

35 करोड़ का नेहरु गांधी परिवार!

जो कांग्रेस हमेशा नेहरू-गांधी परिवार के महिमामंडन पर फिजुलखर्ची करती आ रही है उसने मोदी सरकार पर फिजुलखर्ची का आरोप लगाया तो परिणाम उलट उसके खिलाफ आया। उनके इस आरोप पर कांग्रेस के पूर्व...

0

कांग्रेस सरकार की तरह यदि मोदी सरकार भी सोती रहती तो उत्तराखंड त्रासदी से भी बुरे हालात हो जाते केरल में आई बाढ़ से!

दो सरकारें, दो प्राकृतिक आपदाएं, दोनों की तीव्रता एक समान। फर्क देखिये। इतनी विनाशकारी बाढ़ में 29 लोग मरते हैं। यदि मौसम विभाग, राज्य और केंद्र का समन्वय नहीं होता, सेना को समय पर...

0

लड़ाई राजनीतिक हो या आंकड़ों की, जब भी मौका आता है मोदी-अमित शाह की जोड़ी जीत के मारक जज्बे के साथ मैदान में उतरती है।

तारीख थी 17 अप्रैल 1999। जयललिता के एनडीए सरकार से समर्थन वापस ले लेने के कारण वाजपेयी सरकार विश्वास प्रस्ताव रखने पर मजबूर थी। पक्ष और विपक्ष नंबर अपने पक्ष में जुटाने की कोशिश...

0

बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर किसके? भाजपा बनाम अन्य !

देश के संविधान के शिल्पी रहे बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर की आज जयंती है। उन्होंने अपनी मेधा और प्रतिभा के बल पर देश का गौरव बढ़ाया और दूनिया भर में कीर्ति प्राप्त की। इसके...

0

कांग्रेस ने देश के बैंकों को दिवालियापन तक पहुंचा दिया था।

पुष्कर अवस्थी। आज कल NPA की बड़ी धूम है और हर जगह उसका ही बोलबाला है। देखा जाये तो सारे पब्लिक सेक्टर के बैंको का एनपीए, 734,000 करोड़ है और उसमे से नीरव मोदी...

0

कांग्रेसी-वामपंथी नेताओं और पत्रकारों का दोगलापन!

जिस व्‍यक्ति के पास हो चीज होगी, वही वह दूसरों को देगा। यही किसी समाज और यही किसी राष्‍ट्र पर भी लागू होता है। समाजवाद और साम्यवाद इसके उल्‍टा सोचता है। वह सोचता है...

0

कांग्रेसियों का दिमाग भी अब ‘अवकाश’ पर!

कांग्रेस के मुखिया को ‘अवकाश’ अच्छा लगता है, इतना कि तमाम प्रकार के अवकाश के बहाने वे ‘अवकाश’ पर ही बने रहते हैं, कभी ‘आराम’ के लिए अवकाश, कभी ‘विदेश घूमने’ के लिए तो...

0

दो पार्टियों के बीच अंतर और लोकतंत्र!

देश की एक पार्टी का अध्यक्ष कार्यकर्ताओं के घर रुकता है, उनके घर खाना खाता है, उनके सुख-दुख में सहभागी बनता है। एक के बाद दूसरी जीत के बावजूद लगातार दौरा करता रहता है।...

ताजा खबर