Watch ISD Live Now Listen to ISD Radio Now

Tagged: book review in hindi

0

‘रिक्लेमिंग हिन्दू टेम्पल्स: एपिसोड्स फ्रॉम एन ओप्प्रेसिव एरा’ पुस्तक इस्लामिक आक्रांताओं के ‘काले युग’ का काला चिट्ठा है।

पुस्तक का नाम : ‘रिक्लेमिंग हिन्दू टेम्पल्स: एपिसोड्स फ्रॉम एन ओप्प्रेसिव एरा’ लेखक: डॉ चांदनी सेनगुप्ता भाषा : अंग्रेजी प्रकाशक: गरुड़ प्रकाशन पृष्ठ: 227 मूल्य : 299 (प्रिंट) क्या आपने ‘रिक्लेमिंग हिन्दू टेम्पल्स: एपिसोड्स...

0

आत्महीनता के शिकार हिंदुओं के लिए 1882 में पंजाब में भारतीय शिक्षा को लेकर सर्वे करने वाले एक ब्रिटिश ICS अधिकारी जी.डब्ल्यू.लेटनर का एक विश्लेषण

भारत में बड़ी अच्छी विकेंद्रित शिक्षा व्यवस्था है। लगभग प्रत्येक गांव की अपनी पाठशाला है, जो गांव वाले चलाते हैं। इन पाठशालाओं को जमीन आवंटित है, जिनकी आमदनी से पाठशाला का खर्च निकलता है।...

0

इस्लाम सह-अस्तित्व से इंकार करता है

शंकर शरण । इस्लाम के अनुसार अच्छा मुसलमान वह है जो प्रोफेट के सुन्ना का पालन करता है। यही एकमात्र निर्धारक है। यदि इस्लाम को जानना है तो सदैव मुहम्मद की ओर देखें, न...

0

वैद्यराज राजेश कपूर की पुस्तक ‘स्वास्थ्य और समृद्धि का आधार: गोविज्ञान;अभूतपूर्व ज्ञान संग्रह (भाग -1) वास्तव में आधुनिक समय में रोगमुक्त जीवन जीने के लिए गोविज्ञान का अभूतपूर्व खजाना है।

पुस्तक का नाम: स्वास्थ्य और समृद्धि का आधार: गोविज्ञान;अभूतपूर्व ज्ञान संग्रह (भाग -1) लेखक: वैद्यराज राजेश कपूर प्रकाशक: गवाक्ष प्रकाशन सोलन हिमाचल प्रदेश मूल्य: 121 रूपए पुस्तक मंगवाने हेतु : 94181-52238 Whatsapp करें हमारे...

0

इंद्र सिंह डोगरा की पुस्तक ‘आर्य (श्रेष्ठ) भारत’ भारत को भारत की दृष्टि से समझने के लिए एक उत्कृष्ट शोधपरक उद्यम है।

यह सर्वमान्य नियम है कि भविष्य वर्तमान पर टिका होता है और वर्तमान अतीत के अनुभवों पर। अतीत के अनुभव ही इतिहास कहलाते हैं। इतिहास अर्थात ऐसा ही हुआ। यह बात भी सर्वमान्य है...

0

ईसाईयों द्वारा झारखंड में प्रायोजित साजिशों का पर्दाफाश करती डॉ शैलेन्द्र कुमार की पुस्तक ‘ईसावाद और औपनिवेशिक कानूनों के चक्रव्यूह में झारखंड’

ईस्लाम के अनुयायियों द्वारा वर्ष 1990 में भारत का मुकुट कहलाने वाले जम्मू और कश्मीर राज्य की कश्मीर घाटी में वहां के मूल निवासियों अर्थात कश्मीरी हिन्दुओं के पैशाचिक संहार का पर्दाफाश करने वाली...

2

डॉ. शैलेन्द्र कुमार की पुस्तक, ‘ईसावाद और पूर्वोत्तर का सांस्कृतिक संहार’ ईसावाद की गहरी कब्र खोदती है।

यह समाचार सुर्ख़ियों में बना हुआ है कि केरल की एक अदालत ने बहुचर्चित नन रेप केस में कैथोलिक चर्च के जालंधर सूबा के बिशप फ्रैंको मुलक्कल को 14 जनवरी 2022 को निचली अदालत...

0

नई सदी का प्रवेश मार्ग: सनातन वैदिक हिंदुत्व

डॉ महेंद्र ठाकुर । लंबे समय से सनातन धर्म या हिंदुत्व पर पुस्तकें लिखी जाती रही हैं। हाल के वर्षों में इस तरह का लेखन थोड़ा तेज हो गया है। इसका एक और असामान्य...

0

यह पुस्तक लोगों को झकझोरने वाली कृति है।

पुस्तक का नाम: आधुनिक जीवन शैली के रोग, कारण एवं निवारण लेखक: वैद्य राजेश कपूर प्रकाशक: गवाक्ष प्रकाशन, सोलन, हिमाचल प्रदेश पृष्ठ: 160 मूल्य: 300 रूपए यह पुस्तक लोगों को झकझोरने वाली कृति है।...

0

आहुति (महाभारत आधारित पौराणिक रहस्य गाथा खंड 3)

हिन्द युग्म द्वारा प्रकाशित सौरभ कुदेशिया रचित महाभारत आधारित पौराणिक शृंखला की दो पुस्तकें (खंड 1: आह्वान और खंड 2: स्तुति) 2020 में रिलीज होने के बाद से पाठकों को इसके तीसरे भाग ‘खंड...

0

स्तुति (महाभारत आधारित पौराणिक रहस्य गाथा खंड 2)

कल्पना और तथ्यों का मेल दुष्कर होता है, किन्तु सर्व विदित तथ्यों को आधार बनाकर जब तर्क आधारित कोई ऐसी कहानी रची जाए जो पाठकों की कल्पना शक्ति को नए आयाम प्रदान करने के...

0

आह्वान (महाभारत आधारित पौराणिक रहस्य गाथा खंड 1)

लम्बे समय के बाद कल्पना और यथार्थ की चाशनी में बखूबी डूबे हुए कुछेक उपन्यास ऐसे आते हैं जो पाठकों के दिलो-दिमाग पर अपनी गहरी छाप छोड़ते हैं। सौरभ कुदेशिया द्वारा लिखित “आह्वान” ऐसा...

0

सेतु : कथ्य से तत्व तक पुस्तक समीक्षा

कमलेश कमल। लघुकथा अपनी प्रवृत्ति में मुख्यतः क्षण-केंद्रित होती है। किसी संवेदनात्मक क्षण को कितनी संकेन्द्रण शक्ति से कोई लघुकथा अभिव्यंजित करती है– यही उसकी सफलता का निकष होता है। लाघव्य मात्र होने से...

0

रास बिहारी की पुस्तकों में बंगाल के सियासी इतिहास की गहराई से पड़ताल!

केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने बंगाल के सियासी परिदृश्य को केन्द्रबिन्दु बनाकर लिखी गई तीन पुस्तकों ‘रक्तांचल- बंगाल की रक्तचरित्र राजनीति’, ‘रक्तरंजित बंगाल लोकसभा चुनाव-2019’ तथा ‘बंगाल- वोटों का खूनी लूटतंत्र’...

0

कैलाश सत्‍यार्थी की पुस्‍तक में विचार की अमीरी के सूत्र छिपे हैं. रामबहादुर राय

इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय कला केंद्र ने नोबेल शांति पुरस्‍कार से सम्‍मानित श्री कैलाश सत्‍यार्थी की पुस्‍तक ‘‘कोविड-19 सभ्‍यता का संकट और समाधान’’ पर एक परिचर्चा का आयोजन किया। परिचर्चा की अध्‍यक्षता इंदिरा गांधी राष्‍ट्रीय...

0

बंगाल के सियासी इतिहास पर वरिष्ठ पत्रकार रास बिहारी की पुस्तकों का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया लोकार्पण!

एनयूजेआई के अध्यक्ष और वरिष्ठ पत्रकार रास बिहारी ने प्रधानमंत्री को भेंट की अपनी तीन पुस्तकें। कोलकाता प्रवास के दौरान विक्टोरिया हॉल में हुई थी विशेष मुलाक़ात। इस अवसर पर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी...

0

‘ऑपरेशन बस्तर : प्रेम और जंग’/ पुस्तक समीक्षा– डॉ प्रियंका–बेहतरीन कृति

ऑपरेशन बस्तर प्रेम और जंग मनोरमा बुक द्वारा वर्ष 2020 की सबसे बेहतरीन पुस्तक , बुक आफ ईयर के आभूषण से नवाजा गया बेस्टसेलर उपन्यास है कमलेश कमल जी ने बस्तर के गांव,घर और...

0

‘ऑपरेशन बस्तर: प्रेम और जंग’– (पुस्तक समीक्षा )–एक रोमांचक उपन्यास

“हाँ, लाशें भी अपना वज़न रखती हैं, यह बात हमसे और उनसे बेहतर भला कौन समझ सकेगा?” उपन्यास के पहले पृष्ठ पर छपी इस पंक्ति से ही उपन्यास के कथावस्तु की झलक मिलती है।...

0

1960 के बाद विश्व के सबसे बड़े संगठन RSS के किसी सर संघचालक के भाषणों का यह पहला संकलन है, जो पुस्तक के रूप में पाठकों के समक्ष आया है!

19 दिसंबर, नई दिल्ली के अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहनराव भागवत के प्रभात प्रकाशन से प्रकाशित भाषणों के संकलन ‘यशस्वी भारत’ का लोकार्पण जूनापीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरी के...

ताजा खबर