Watch ISD Live Now   Listen to ISD Podcast

Tagged: Dr Mahender Thakur

0

सूर्य उपासना के पर्व मकर संक्रांति का विशेष संदेश: सफलता प्राप्ति के लिए उद्यम और साहस की आवश्यकता होती है, साधनों की नहीं

भारत दुनिया का एकमात्र देश है जहाँ प्रतिदिन कोई न कोई छोटा या बड़ा उत्सव या त्यौहार होता है। इसी विशेषता को बनाये रखते हुए आज पूरा देश मकर संक्रांति का उत्सव मना रहा...

0

मेधा देशमुख भास्करन की पुस्तक ‘संभाजी महाराज:शिवाजी महाराज के सुपुत्र की शौर्यगाथा’ संभाजी महाराज के शौर्य और पराक्रम की यशोगाथा का एक अनुपम प्रस्तुतिकरण है

पुस्तक: संभाजी महाराज:शिवाजी महाराज के सुपुत्र की शौर्यगाथालेखिक: मेधा देशमुख भास्करनप्रकाशक: प्रभात पेपरबैक्सपृष्ठ: 448मूल्य: 600 रुपये (प्रिंट) जो लोग और समाज अपना इतिहास विस्मृत कर देते हैं उनका भूगोल बदल जाता है। जब भी...

0

‘कास्ट इज नॉट हिन्दू’ (Caste is not Hindu) पुस्तक संदर्भों सहित सिद्ध करती है कि ‘कास्ट सिस्टम’भारतीय परिकल्पना नही है बल्कि उपनिवेशवादी लुटेरों की साजिश है

पुस्तक का नाम: कास्ट इज नॉट हिन्दू (Caste is not Hindu) लेखक: गुरूजी सुंदर राज अनंत, अक्षया सिमरहेन राज, प्रदीप कुमार कुकरेजाप्रकाशक: नोशन प्रेसपृष्ठ: 148मूल्य: 390 (प्रिंट) इतिहास में झाँककर देखे तो पता चलता...

0

भारतवर्ष के आक्रांताओं की कलंक कथाएं

पुस्तक का नाम: भारतवर्ष के आक्रांताओं की कलंक कथाएं लेखक: मेजर (डॉ.) परशुराम गुप्त प्रकाशक: प्रभात प्रकाशनपृष्ठ: 176मूल्य : रू. 250 (प्रिंट) साहित्य का मनुष्य जीवन में बड़ा महत्व है। यह बात अब जाकर...

0

क्या राजा वीरभद्र सिंह की विरासत को नजरअंदाज करके कांग्रेस हिमाचल प्रदेश में स्थिर सरकार दे पाएगी?

पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश में चुनावी गरमाहट शांत हो गई है। कांग्रेस ने 1990 से चलने वाली हर 5 साल में सरकार बदलने की परंपरा को बरकरार रखते हुए भाजपा से सत्ता छीन ली...

0

26/11 मुंबई ब्लास्ट ‘एक फिक्स्ड मैच’ और आरव्हीएस मणि

26/11/2008 देश के लिए एक अविस्मरणीय दिन था। तबसे लेकर 26/11 भारत के इतिहास में एक महत्वपूर्ण तिथि बन चुकी है। आज भी 26/11 ही है। इसी दिन मुंबई के ताज होटल, ट्राइडेंट होटल...

0

राकेश शुक्ला की पुस्तक ‘दिल्ली में हिन्दू राजवंश का स्वर्णिम काल’ तथाकथित दिल्ली सल्तनत के झूठ का पर्दाफ़ाश करने की ओर एक महत्वपूर्ण कदम है

एक छोटी से पुस्तक हाथ लगी जिसका शीर्षक है ‘दिल्ली में हिन्दू राजवंश का स्वर्णिम काल’, इसके लेखक है दर्शनम् के संस्थापक राकेश शुक्ला। राकेश जी ट्वीट दिन भर ट्विटर पर धमाल मचाते रहते...

0

क्या दृष्टि आईएएस कोचिंग के मास्टर दिव्यकीर्ति की मानसिकता हिन्दुओं की आस्था का अपमान करना नही है? भाग -1

आजकल एक ट्रेंड बन चुका है, या यू कहें आदत हो चुकी है, वह आदत है हिन्दू धर्म, संस्कृति का मजाक बनाने की, देवी-देवताओं का अपमान करने की। बिना शास्त्रों को पढ़े कुछ भी...

0

अंशुल पांडे की पुस्तक “द ऑथेंटिक कंसेप्ट ऑफ शिव” भगवान शिव को लेकर प्रमाणिक जानकारी से ‘गागर में सागर’ भरने का उत्कृष्ट प्रयास है

पुस्तक का नाम: द ऑथेंटिक कंसेप्ट ऑफ शिव लेखक: अंशुल पांडेय प्रकाशक: गरुड़ प्रकाशन मूल्य: 499 (प्रिंट) मुंबई का नाम जैसे ही सुनते हैं तो मस्तिष्क में क्या आता है? सपनों की नगरी! बॉलीवुड,...

0

प्रो. रामेश्वर मिश्र ‘पंकज’ की पुस्तक ‘सच्चे मोमिनों का हक़ छीनते बनावटी मुसलमान: एक अराजक चुनौती’ वैचारिक युद्ध में ब्रह्मास्त्र के समान है

पुस्तक का नाम: सच्चे मोमिनों का हक़ छीनते ‘बनावटी मुसलमान’: एक अराजक चुनौतीलेखक: प्रो रामेश्वर मिश्र ‘पंकज’प्रकाशक: सेंटर फॉर सिविलाइजेशनल स्टडी सेंटर, दिल्लीपृष्ठ: 283मूल्य: 399 (प्रिंट) मैं जब यूनिवर्सिटी में अध्ययनरत था तब एक...

0

कंवर खटाना की ‘द गेम बिहाइंड सैफ्रन टेरर’ पुस्तक भगवा आतंकवाद साज़िश का परत दर परत पर्दाफाश करती है

पुस्तक: ‘द गेम बिहाइंड सैफ्रन टेरर’ लेखक: कंवर खटाना प्रकाशक: क्रियेटिव क्रोज पब्लिशर्स पृष्ठ: 349 मूल्य: 690 प्रिंट (पेपर बैक)   अंग्रेजी भाषा में एक पुस्तक हाथ लगी, जिसका शीर्षक है,’द गेम बिहाइंड सैफ्रन टेरर‘।...

0

हिमाचल प्रदेश में चुनावी इतिहास बदल सकती है भाजपा, कांग्रेस का चुनावों से पहले ही आत्मसमर्पण, आम आदमी पार्टी गायब

जैसे-जैसे सर्दियों की ठंडक बढ़ रही है, उसी गति से पहाड़ी राज्य हिमाचल प्रदेश में चुनावी गर्मी भी बढ़ रही है। विधानसभा चुनावों को लेकर हिमाचल प्रदेश का सन 1977 से एक अनोखा इतिहास...

0

जर्मन दार्शनिकों पर भारतीय प्रभाव

जर्मनी के लोगों को बहुत देर से भारत में रूचि हुई, लेकिन जब वे अंततः प्राचीन भारतीय पांडुलिपियों और उनके अनुवादों के संपर्क में आए, तो जर्मन भारत में बहुत रुचि रखने लगे। जर्मन लेखक...

0

ए नेवर एंडिंग कॉन्फ्लिक्ट: एपिसोड्स फ्रॉम इंडिक रेसिस्टेन्स

पुस्तक का नाम: ए नेवर एंडिंग कॉन्फ्लिक्ट: एपिसोड्स फ्रॉम इंडिक रेसिस्टेन्सलेखक: अमित अग्रवालप्रकाशक: गरुड़ प्रकाशनपृष्ठ: 428मूल्य: 599 (प्रिंट) ट्वीट की गति से चलने वाले इस युग में पिछले कुछ वर्षों से इतिहास लेखन के...

0

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ: क्या, क्यों, कैसे?

पुस्तक का नाम: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ: क्या, क्यों, कैसे? लेखक: विजय कुमार प्रकाशक: प्रभात प्रकाशनपृष्ठ: 184मूल्य: 250 (प्रिंट) भारत देश की एक विडंबना है कि यहाँ भारत विरोधी चीजें बहुत तीव्र गति से फैलती...

0

क्या राष्ट्रभाषा हिन्दी के बिना भारत विश्वगुरु या वैश्विक महाशक्ति बन पाएगा?

प्रतिवर्ष 14 सितम्बर हिन्दी दिवस के रूप में मनाया जाता है। तीव्र गति से चलने वाले सोशल मीडिया के इस युग को धन्यवाद कि अब हर घटनाक्रम सार्वजनिक हो जाता है। भाषा अथवा मातृभाषा...

0

‘रिक्लेमिंग हिन्दू टेम्पल्स: एपिसोड्स फ्रॉम एन ओप्प्रेसिव एरा’ पुस्तक इस्लामिक आक्रांताओं के ‘काले युग’ का काला चिट्ठा है।

पुस्तक का नाम : ‘रिक्लेमिंग हिन्दू टेम्पल्स: एपिसोड्स फ्रॉम एन ओप्प्रेसिव एरा’ लेखक: डॉ चांदनी सेनगुप्ता भाषा : अंग्रेजी प्रकाशक: गरुड़ प्रकाशन पृष्ठ: 227 मूल्य : 299 (प्रिंट) क्या आपने ‘रिक्लेमिंग हिन्दू टेम्पल्स: एपिसोड्स...

0

‘5 अगस्त’ हर वर्ष पंचमक्कारों की छाती पर मुंग दलने वाला दिन

अगस्त महीना जब आता है तब जनसामान्य के मन में केवल एक तिथि ही विशेष महत्व की रहती है। वह तिथि है 15 अगस्त। और यह तिथि हमारे मनों में घूमें भी क्यों न?...

0

मानोशी सिन्हा रावल की ‘सैफ्रॉन स्वोर्ड्स : 52 एपिसोड्स ऑफ़ सनातनी वेलोर अगेंस्ट इनवेडर्स’ पुस्तक भारतीय इतिहास के साथ हुए खिलवाड़ को सुधारने का एक उत्कृष्ट प्रयास है।

पुस्तक का नाम: सैफ्रॉन स्वोर्ड्स : 52 एपिसोड्स ऑफ़ सनातनी वेलोर अगेंस्ट इनवेडर्स‘ लेखिका: मानोशी सिन्हा रावल प्रकाशक: गरुड़ प्रकाशन पृष्ठ : 404 भाषा: अंग्रेजी मूल्य: 499 (प्रिंट) यदि मैं पूछूं कुर्मा देवी कौन...

0

क्या हिंदुस्तान में हिन्दू होना गुनाह है?

क्या हिंदुस्तान में हिन्दू होना गुनाह है? बात 2013 की है, उन दिनों मैं जबलपुर में था। 2013 अर्थात देश में कांग्रेस के नेतृत्व में यूपीए की सरकार थी। देश 2014 में होने वाले...

ताजा खबर