Watch ISD Live Now   Listen to ISD Podcast

Tagged: Homosexuality

0

ओशो ने कहा था समलैंगिकता एक यौन विकृति है, जो पश्चिमी समाज की देन है!

भारत के सुप्रीम कोर्ट ने समलैंगिकता को कानूनी कर दिया है। एक अप्राकृतिक और यौन विकृति को कानूनी जामा पहनाने वाले आखिर किस मानसिकता के शिकार हैं। अपने समय से दशकों आगे चलने वाले...

0

देखते जाइये आगे क्या-क्या होता है, अभी तो समलैंगिकता वैध हुई है बहुत जल्द जगह-जगह गे बार खुलेंगे!

समलैंगिकता पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला अंतिम नहीं है। इस फैसले को सात सदस्यीय संविधान खंडपीठ के माध्यम से पलटा जा सकता है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के राज्यसभा सांसद सुब्रमनियन स्वामी ने...

0

अप्राकृतिक यौनाचार को पल भर में प्राकृतिक बना देने वाले माई लॉर्ड और उनका खेल!

भारत की सुप्रीम कोर्ट ने एक फूंक मारा और आईपीसी की किताब से अप्राकृतिक यौनाचार की धारा 377 फूर्र हो गया। अब कुछ भी अप्राकृतिक नहीं रह गया! पांच जजों की संवैधानिक पीठ ने...

0

होमोसेक्सुअल को कानूनी मान्यता मिलने से सबसे ज्यादा खुशी मौलानाओं को!

सुप्रीम कोर्ट ने जब से भारतीय दंड संहिता की धारा 377 को रद किया है तब से मौलानाओं के चेहरे पर चमक आ गई है। जब ये धारा खत्म नहीं भी हुई थी तभी...

0

‘पंच-मकार’ अब खुलकर कह सकेंगे, आओ कॉमरेड समलैंगिक हो लें!

सुप्रीम कोर्ट ने समलैंगिकता को अवैध बनाने वाली धारा IPC 377 को समाप्त कर दिया है। पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने 377 को मनमाना और अतार्किक बताते हुए निरस्त कर दिया है। इस पर...

0

सुप्रीम कोर्ट ने कहा समलैंगिकता अपराध नहीं है!

सुप्रीम कोर्ट की 5 जजों की संविधान पीठ ने अपने ऐतिहासिक फैसले में आईपीसी की धारा 377 को रद्द कर दिया, जिसके तहत समलैंगिक संबंध(homosexuality) अपराध थे। पाँचों जजों ने हालांकि अलग-अलग फैसले सुनाए...

ताजा खबर