Watch ISD Live Now Listen to ISD Radio Now

Tagged: Ideology Of RSS

0

व्यंग्य…अब जब DNA एक है तो पहले उनका विकास करना तो साहब की जिम्मेदारी है न!

यह साहब की कूटनीति है आप नहीं समझोगे क्योंकि हमारे साहब वहां से सोचना शुरु करते हैं जहां पर पूरी दुनिया की सारे इंसानों की सोच समाप्त होती है क्योंकि उनके दिमाग में 56...

0

संघ परिवार: योद्धा, डाकू या पॉकेटमार?

शंकर शरण। Sangh parivaar pickpocket mentality पॉकटमार मानसिकता…..भीतर से कुछ, बाहर कुछ और। विश्वासपूर्वक कुछ भी उचित कर सकने का मनोबल नहीं। उस की चाह है कि किसी तरह कुछ हाथ आ जाए और बलवान...

0

संघ परिवार: मुस्लिम वोट-लालसा का शिकार

Sangh Parivar Muslim vote कितना दुःखद कि सौ सालों से भारत के हिन्दू तरह-तरह के झूठे नारों से भ्रमित किए जा रहे हैं। हिन्दू धर्म का मूलाधार है – सत्य। इसे छोड़ कर नेतालोग...

0

संघ प्रमुख मोहन भागवतजी को संघ के एक स्वयंसेवक की खुली चुनौती!

1965-85 तक @RSSorg के सक्रिय स्वंसेवक रहे स्वामी हेमानंद अभी USA में रहते हैं। संघ प्रमुख @DrMohanBhagwat. जी के बयान के करण वह बहुत क्षुब्ध हैं। बहुत सारे स्वयंसेवक फोन कर अपनी जिस पीड़ा...

0

लगता है RSS हिंदू धर्म को अब्राहमिक बनाकर ही मानेगा!

Sandeep Deo. वसीम रिजवी ने कुरान की करीब दो दर्जन आयतों को हटाने की बात की तो RSS का संस्कार भारती मनु स्मृति को दलित और महिला विरोधी बताकर उसमें संशोधन की बात कर...

0

संघ-परिवार: एकता का झूठा दंभ

शंकर शरण। उस से पहले तक डॉ. हेगडेवार की दलीय नीति बिलकुल ठीक थी। कि जिस स्वयंसेवक में राजनीति रुचि हो वह कांग्रेस में काम करे। यही चल भी रहा था। सेक्यूलरवादी, हिन्दूवादी, समाजवादी, आदि सभी उस...

0

संघ परिवार और मौलाना वहीदुद्दीन

शंकर शरण। मौलाना वहीदुद्दीन जमाते इस्लामी के नेता और तबलीगी जमात  के सिद्धांतकार थे। अपनी पुस्तक ‘तबलीगी मूवमेंट’  में उन्होंने गदगद होकर तबलीग का इतिहास लिखा है, जो भारत से हिन्दू धर्म-परंपरा का चिन्ह...

0

संघ-परिवार का उतरता रंग

शंकर शरण। इन दिनों संघ-परिवार पर हैरत बढ़ गई है। विशेषकर, शाहीनबाग पर सड़क कब्जा, जामिया-मिलिया से लेकर कई जगहों पर दिल्ली पुलिस पर हमले, लाल किला पर देश-विरोधी उपद्रव, और अब बंगाल में...

0

संघ-परिवार: बड़ी देह, छोटी बुद्धि

शंकर शरण। संघ के सदाशयी लोगों को समझना होगा कि हिन्दू समाज और सच्ची चेतना मूल शक्ति है। कोई संघ/दल नहीं। चेतना ही संगठन का उपयोग करती है। इस का उलटा असंभव है। घोड़े...

0

संघ परिवार: संगठन या सराय?

शंकर शरण। तो यह संगठन किस का है, जिसे हिन्दू समाज पर पड़ती चोटों से तिलमिलाहट नहीं होती? उत्तर है – केवल अपने नेताओं-कार्यकर्ताओं का, बस अपना हितचिंतक। तुलना करें:  चर्च, इस्लामी हितों को...

0

संघियों को महात्मा गांधी होने की बीमारी लगी है!

Sandeep Deo. महात्मा गांधी अली बंधुओं के मंच पर जब गये तो हिंदुओं को खूब कोसा। परिणाम, मोपलाओं ने मालाबार में हिंदुओं का विनाश कर दिया। अलि बंधुओं की नजर में गांधी कभी उनके...

0

काश सनातन धर्म का जरा भी ज्ञान होता मोहन भागवत जी को!

आज एक ख्वाजा साहब के पुस्तक विमोचन में संघ प्रमुख मोहन भागवत पर जमकर सेक्यूलर रंग चढ़ा रहा। गौ तस्करों की जगह गौ रक्षकों को नसीहत देने की पुरानी संघी बीमारी इन्होंने भी व्यक्त...

0

संघ-सत्ताधारियों ने दशकों से केवल नेहरूवादी काम ही किए हैं!

शंकर शरण। बंगाल की घटनाओं ने फिर दिखाया कि बड़ी कुर्सी पर बैठ जाना बल का पर्याय नहीं होता। राष्ट्रीय या राजनीतिक, दोनों सदंर्भों में बल का पैमाना भिन्न होता है। जिस में संघ-परिवार...

0

मिस्टर राहुल गांधी, संघ के स्कूल में यदि आप पढ़ लेते तो इस तरह डिब्बे की तरह नही घनघना रहे होते!

कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी अपनी कुंठा में बार-बार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) पर हमला करते रहते हैं। इस बार उन्होंने संघ द्वारा संचालित स्कूलों की तुलना पाकिस्तानी मदरसों से करके अपने मानसिक दिवालियेपन...

0

1960 के बाद विश्व के सबसे बड़े संगठन RSS के किसी सर संघचालक के भाषणों का यह पहला संकलन है, जो पुस्तक के रूप में पाठकों के समक्ष आया है!

19 दिसंबर, नई दिल्ली के अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहनराव भागवत के प्रभात प्रकाशन से प्रकाशित भाषणों के संकलन ‘यशस्वी भारत’ का लोकार्पण जूनापीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर अवधेशानंद गिरी के...

0

संघ के प्रति एक मुसलिम पत्रकार का पूर्वाग्रह कैसे तारीफ में तब्दील हुआ!

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की निःस्वार्थ सेवा और सामाजिक कार्य हैं ही ऐसे कि कोई भी प्रभावित हुए बिना नहीं रह सकता है चाहे वह पूर्वाग्रह से ही ग्रसित क्यों न हो? लखनऊ स्थित...

0

संघ की पोल खोल -4 : संघ प्रचारकों का पर्दाफाश

संजीव जोशी। कम्युनल, देशद्रोही, पाकिस्तानी, isi का एजेंट, कांग्रेसी दलाल और भाँती भांति कि उपमायें जिन्हें मैं लिख भी नहीं सकता!सोच रहा हूँ कहाँ से शुरू करूँ? २०१२ से फेसबुक मैं हूँ और रेगुलर...

0

संघ की पोल खोल – 3; कम्युनल संघ!

नितिन शुक्ला।‌ संघ एक ऐसा नाम है जो अपने आप में ही कम्युनल है। आप कहीं भी चले जाइए किसी से भी बात कर लीजिए संघ का नाम लेते ही अगर सबसे पहले कोई...

0

संघ में जातिवाद, संघ की पोल खोल-2

‌नितिन शुक्ला। मेरे कई कांग्रेसी मित्र अक्सर कहते थे कि संघ घोर जातिवादी है। उन्होंने ना जाने कौन कौन सी दलीलें दी कि आज तक तक जितने भी सरसंघचालक हुए वह सभी ब्राह्मण थे!...

ताजा खबर
भारत निर्माण

MORE