Tagged: indian media

0

गो तस्करों और मीट माफिया की समस्या देश भर में भयावह!

राजस्थान के अलवर जिले में गो तस्करी के आरोप में पुलिस कस्टडी में रकबर की हुई मौत हो या ओडिशा के रायडागा जिले में पशु प्रेमी पर्यटकों पर गो तस्करों द्वारा जानलेवा हमला, ये...

0

तिकड़मों का अड्डा बना मीडिया, ‘बार्क’ का टीआरपी तंत्र सबसे बड़ा घोटाला!

जो मीडिया कभी आम जनता के विश्वास का केंद्र माना जाता था आज तिकड़मों का अड्डा बन गया है। दूसरों को नीति, विधि और सुचिता का पाठ सिखाने वाला अधिकांश मीडिया अनैतिकता, गैरकानूनी तथा...

0

पर्दे के पीछे का सच काफी कड़वा है, लेकिन देशहित में बताना जरुरी है!

कल तक मोदीजी और योगीजी को खुलेआम अपशब्द कहने वाले, 2002 के दंगे को गुजरात सरकार प्रायोजित दंगा कहने वाले और अखिलेश यादव को महान नेता बताने वाले गौरव भाटिया अब योगीजी और मोदीजी...

0

कांग्रेस और कम्युनिस्ट प्रवक्ता न्यूज चैनलों को जनता का अल्टीमेटम- सुधरो या मिटो! राष्ट्रवादी पत्रकारिता को जनता सिर आंखों पर बैठाने लगी है!

कांग्रेस और कम्युनिस्ट पार्टियों के प्रवक्ता की तरह व्यवहार करने वाले न्यूज चैनलों की सामत आ गयी है। लोगों का गुस्सा इन न्यूज चैनलों पर फूट पड़ा है। वहीं राष्ट्रवादी पत्रकारिता और हिंदू धर्म...

0

प्रधानमंत्री मोदी का विरोध करते-करते इंडिया टुडे ने अपने नए अंक में किया देश की सेना का अपमान!

देश की सेना ही एक ऐसी संस्था जिसकी मीडिया भी हमेशा से सम्मान करता आ रहा है लेकिन अब उसके सम्मान पर भी आघात किया जाने लगा है। यह चलन तभी से बढ़ा है...

0

मोदी सरकार के खिलाफ नफरत से भरी मेनस्ट्रीम मीडिया गाली गलौज पर उतारू, एक चैनल ने किया स्मृति ईरानी के खिलाफ अपशब्दों का प्रयोग!

क्या पत्रकार खासकर किसी चैनल विशेष के एंकर होने का मतलब अपना आचार-विचार भूल जाना होता है। अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर देश के राष्ट्रपति और केंद्रीय मंत्रियों को गाली देने का लाइसेंस...

0

भारत के प्रति अंतरराष्ट्रीय मीडिया की साजिश का एक विदेशी पत्रकार ने किया खुलासा! कहा, सचेत रहिए, उपनिवेशवादी मानसिकता के पत्रकार भारत की छवि को ध्वस्त करने में लगे हैं!

बरखा दत्त और सदानंद धूमें जैसे उन भारतीय पत्रकारों की मानसिकता से केरोलिन गोस्वामी भलीभांति परिचित हैं। ये लोग द वाल स्ट्रीट जरनल और द वांशिगटन पोस्ट जैसे अंतराष्ट्रीय पत्र-पत्रिकाओं में भारत की तस्वीरों...

0

SC/ST ACT पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले की समझ मीडिया को होती तो जलने से बच सकता था देश!

सुप्रीम कोर्ट के एक आदेश के बाद देश भर के दलित सड़क पर आ गए और कोहराम मचा दिया। थाना से लेकर देश भर में अरबो रुपये की संपत्ति जला कर खाख कर दिया,...

0

क्या भारतीय मीडिया का धंधा फेक न्यूज पर टिका है?

लुटियन बिरादरी में शामिल ‘सरकारी पत्रकारों’ यानी ‘पेटिकोट पत्रकार’ का पूरा धंधा ही फेक न्यूज पर टिका है! मोदी सरकार ने सोमवार रात फेक न्यूज फैलाने वाले ‘सरकारी पत्रकारों’ की सदस्यता छह महीने के...

1

‘पेटीकोट तंत्र’ से पैदा हुए ‘पेटीकोट पत्रकार’!

कुछ लोगों को आपत्ति है कि मैं पत्रकारों को ‘पेटिकोट पत्रकार’ क्यों कहता हूं? ऐसे लोग इतिहास से अनजान और ‘पेटिकोट’ शब्द से असहज हैं! किसी भी चीज के प्रति असहजता अज्ञान और कुंठा...

0

बकैत पांड़े आज तुम्हारी एक साथी गोदी-गोदी खेलते पकड़ी गई!

#ManiShankarAiyar की चमचागिरी में लगी लुटियन मीडिया क्लब की एक महिला टीवी पत्रकार की अपने पेशे और अपने ही साथियों से धोखा आज पूरी दुनिया ने देखा! मणिशंकर अय्यर ने Republic का माइक तोड़ा...

0

प्रधानमंत्री मोदी विरोधी नेताओं और एजेंडा पत्रकारों की छाती पर मूंग दल रहे हैं!

मनीष ठाकुर। वाक्या फरवरी 2011 का है गोधरा कांड का जजमेंट कवर करने के लिए गुजरात जाना हुआ तो किसी कारणवस लगभग 20 दिन वहीं रहना पर गया। उसी दौरान एक शामअहमदाबाद के प्रेस...

1

एनडीटीवी पर एक दिन के बैन पर हल्ला और जी न्यूज के खिलाफ एफ आई आर पर खामोशी क्यों ?

मुझे यह जानकर और सुनकर बिलकुल आश्चर्य नहीं हुआ कि ज़ी न्यूज़ के एंकर सुधीर चौधरी और उनकी टीम रिपोर्टर पूजा मेहता और कैमेरामैन तन्मय पर ममता बेनर्जी सरकार ने धूलागढ़ दंगे पर रिपोर्टिंग...

0

मेरठ हाशिमपुरा दंगों पर फैसला आ गया है क्या आपको मीडिया ने बताया ?

तुफैल चतुर्वेदी। अभी मेरठ दंगे का चर्चित हिस्सा बने हाशिमपुरा पर न्यायलय का फैसला आया है। न्यायालय ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया है। अंग्रेजी मीडिया, विदेशों से चंदा खाने वाले हिन्दू विरोधी...

0

मीडिया हाउस पर क्यों नही हो रहा सर्जिकल स्ट्राइक: आलोक मेहता

पाकिस्तान पर जब से भारत ने सर्जिकल स्ट्राइक किया है, यह शब्द तब से सोशल मीडिया पर सामाजिक बीमारी को जड़ से समाप्त कर देने का मुहावरा बन गया है। लेकिन अब तक किसी...

0

जिस दिवाली में मीडिया को साल भर की कमाई होती है, वही मीडिया हिंदू विरोध में पूरे साल लगा रहता है!

इन दिनों अखबार अपने भारी भरकम स्वरुप में आ रहे हैं। प्रथम दृष्टया तो यूं लगता है जैसे खबरों की बाढ़ नियमित अंक और संस्करण में समा नहीं पा रही है इसलिए ये ढेर...

केजरीवाल सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरेंगे पत्रकार !

नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्टस (इंडिया) ने इंडिय़ा न्यूज के प्रधान संपादक दीपक चौरसिया को आम आदमी पार्टी के नेताओं की तरफ से दी जा रही धमकियों की निंदा की है। दीपक चौरसिया की तरफ...

आतंकवादियों के खिलाफ भारतीय रिपोर्टिंग से हिला; पाकिस्तानी मीडिया !

मीडिया को यूँ ही ही नहीं लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ कहा गया है, यदि मीडिया अपना काम सही ढंग और ईमानदारी से करे तो देश की आधी से ज्यादा समस्याएं समाप्त हो जाएगी. भारत...

0

पत्रकारों को उनका मूल काम याद दिलाना चाहती है मोदी सरकार

एक बात का आप लोगों को एहसास हुआ? मोदी सरकार में #MSM मीडिया की पहुंच न के बराबर हो गई है। जब तक सरकार ने सूची नहीं जारी की, तब तक न तो उन्हें...

0

टी आर पी के खेल में, देश को असहज करता भारतीय मीडिया !

२००२ में गुजरात दंगो में कुछ बिकाऊ पत्रकारों द्वारा की गयी गलत रिपोर्टिंग का सच सामने आ चुका है! किस तरह से नरेंद्र मोदी और अमित शाह के खिलाफ लॉबिंग का खेल रचा गया!...

ताजा खबर