Tagged: left politics

0

मैं आज #SheToo की साजिश का शिकार होते-होते बचा! यह वामपंथियों का कोई ट्रैप था या सिर्फ एक घटना

मैं बेहद शॉक्ड हूं। मैं #SheToo की साजिश साजिश का शिकार होते-होते बचा, या फिर यह बस एक दुर्घटना थी? मैं समझ नहीं पा रहा हूं। मैं चाहूंगा कि सोशल मीडिया पर मौजूद महिलाएं इसमें...

0

आइए वामपंथी महिलाओं के खिलाफ #SheToo अभियान छेड़ें

मैंने आपसब के कहने पर अपने साथ मेट्रो में हुई #MeToo घटना पर मेट्रो में ऑन-लाइन शिकायत दर्ज करा दिया है, लेकिन मेरी जिम्मेदारी इतने पर समाप्त नहीं होती! मैं #SheToo नाम से #Indiaspeaksdaily...

0

ट्रंप को हराने के लिए डेमोक्रेट महिलाएं हुई नंगी! यह है लेफ्ट का चरित्र!

वामपंथियों का पूरे विश्व में अब एक ही चरित्र बनने लगा है येनकेन प्रकारेण जीत हासिल करना। इसके लिए अनैतिक होना हो या निर्दय बनना हो या फिर अमानवीय। अब तो वामपंथी अपनी अनैतिकता...

0

देवी दुर्गा तथा वामपंथियों के झूठ!

किसी भी कथ्य को समझने से पहले उसे पढ़ना और गहराई से समझने के लिये बार बार पढना आवश्यक है। निश्चित ही बिटवीन द लाईंस पढा जाना चाहिये और अनेक अर्थ निकालने चाहिये क्योंकि...

0

महिषासुर दिवस- हिंदू धर्म की नाभि पर वामपंथियों का प्रहार!

यह तर्क हास्यास्पद लग सकता है किंतु ठहरिये ऐसा है नहीं। कुछ विचारधारायें, कुछ संस्थायें, कुछ पत्रिकायें और कुछ व्यक्ति निरंतर ऐसे ही विश्लेषणों, तर्कों और दिवस आयोजनों के अगुआ बने हुए हैं। ध्यान...

0

चर्च का पादरी रेप करे तो पीड़िता को वेश्या बना दो, यदि कोई हिंदू बाबा लड़की के कंधे पर हाथ भी रखे तो उसे बलात्कारी साबित कर दो! और कितना गिरोगे मक्कारों?

देश में वामी और पीडी पत्रकारों के नीचे गिरने की कोई हद ही नहीं बची है। केरल में एक नन के साथ पादरी के बलात्कार का मामला सामने आते ही कांगी-वामी पत्रकार नन को...

0

बड़ी बड़ी पार्टियों में छोटे मोटे बलात्कार होते ही रहते हैं!

वामपंथी स्त्री अधिकारों के मुखर समर्थक माने जाते हैं। यहाँ तक कि उन्हें यह तक गवारा नहीं कि परिवार संस्था में स्त्री कुछ भी सहे, पति और पत्नी की बहस में भी वे पत्नी...

0

मोदी के नेतृत्व में भाजपा के बढ़ते प्रभाव से अपने वजूद को बचाने के लिए लालू यादव ने उसके सामने समर्पण कर दिया जो राष्ट्रवाद के खिलाफ सबसे वीभत्स चेहरा है।

बेगूसराय की राष्ट्रीय पहचान राष्ट्रकवि दिनकर से रही है। विद्यापति के सिमरिया घाट से रही है। देश की सबसे प्रतिष्ठित औद्धोगिक नगरी के रुप में रही है। बिहार के लेलीनग्राद की रही है। मिनी...

0

कामरेड कथा…लव,सेक्स और क्रान्ति!

अतुल कुमार राय। अभी पुष्पा को जेएनयू आये चार ही दिन हुए थे कि उसकी मुलाक़ात एक क्रांतिकारी से हो गयी। लम्बी कद का एक सांवला सा लौंडा। ब्रांडेड जीन्स पर फटा हुआ कुरता...

0

वाह रे वामी मीडिया, यूएई ने केरल के लिए अभी तक आधिकारिक रूप से आर्थिक मदद की घोषणा की भी नहीं और तुम मोदी सरकार को बदनाम करने के लिए 700 करोड़ लौटवा भी दिए!

वामी मीडिया हो, कांग्रेस पार्टी हो या कम्युनिस्ट पार्टी, फेक न्यूज फैलाने में उनका सानी नहीं है। UAE ने अभी तक केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए आर्थिक मदद की घोषणा तक नहीं की है,...

0

टुकड़े-टुकड़े गैंग के लिए ‘अटल’ प्रतिज्ञा साकार होते देखना सदमें जैसा है, इसीलिए वे बेचैन हैं!

उन्हें अटल जी से नफरत करने की पूरी आजादी होनी जानी चाहिए! भारत तेरे टुकड़े होंगे का नारा देने के बाद भी देश में अभिव्यक्ति की आजादी को खतरे में बताने वाले, जितनी नफरत...

0

अटलजी ने इंदिरा को कभी दुर्गा नहीं कहा! यह तो वामपंथियों की चाल थी!

यह एक तथ्य है कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी ने इंदिरा गांधी को कभी दुर्गा नहीं कहा था। लेकिन एक षड्यंत्र के तहत इंदिरा गांधी को दुर्गा कहने के बयान को अटलजी...

0

सोमनाथ चटर्जी की मौत पर वामपंथियों की सियासत!

सोमनाथ चटर्जी जैसे कद्दावर नेता को जीते जी जो सम्मान मिलना चाहिए वो तो मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने कभी दिया नहीं, लेकिन अब जब वे इस दुनिया में नहीं रहे तो उनके पार्थिव शरीर...

0

इमरान खान के लिए भारत की कोई महिला पत्रकार बिना अंगिया पहने चली जाए तो फिर उसका उद्देश्य साक्षात्कार लेना नहीं, बल्कि ‘कुछ और’ है!

वामपंथ ने हमेशा, विरोधियों के चरित्र का हनन किया है, जबकि इनका खुद का चरित्र बहुत गिरा हुआ है। इसलिए मैंने कांगी-वामी के चरित्र का मनोवैज्ञानिक विश्लेषण करने का बीड़ा उठाया है ताकि कांटे...

0

अब सीताराम येचुरी ने लिया रामलीला कराने का फैसला, हो जाइये सचेत!

सीपीआई(एम) के महासचिव सीताराम येचुरी ने एक मात्र मार्क्सवादी शासित राज्य केरल में रामायण माह आयोजित करने का फरमान जारी किया है। पार्टी की राज्य समित ने 17 जुलाई से रामायण माह आयोजित करने...

0

कन्हैया और उमर खालिद की पीएचडी सस्पेंड, देश विरोधियों पर तमाचा !

देश की प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी में 9 फरवरी 2016 को देश को टुकड़े करने वाले देश विरोधी नारे लगाने के मामले के दोषी उमर खालिद और कन्हैया कुमार की पीएचडी निलंबित कर...

0

राष्ट्रद्रोह विवाद पर कन्हैया और खालिद की सजा बरकरार क्या बकैत पांडे अपना ‘मुंह’ करेगा काला?

राष्ट्र विरोधी नारेबाजी मामले में जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) की गठित उच्च स्तरीय जांच समिति ने जेएनयूएसयू के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार और उमर खालिद को कोई राहत नहीं दी है। जेएनयू के जांच...

0

शेहला राशिद, एक जहरीली कम्युनिस्ट!

केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी और आरएसएस पर मोदी की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाने वाली जेएनयू की छात्र शेहला राशिद शोरा एक ऐसी ही जहरीली कम्युनिस्ट हैं जो सरकार के...

0

मजदूर दिवसः कम्युनिस्टों की तानाशाही स्थापना का बस एक उपकरण था मई दिवस!

आज पहली मई है। पहली मई को पूरी दुनिया के मजदूर इसे ‘मजदूर दिवस’ या ‘मई दिवस’ के रूप में मनाते हैं। इसकी शुरुआत एक यूटोपिया समाज की रचना को लेकर हुआ था, जिसकी...

0

‘जिसने भी भाजपा को वोट दिया है उन सबको गोली मार दो!’

दीपक नारायणन नाम के एक फेसबुक यूजर ने अपने पोस्ट में लिखा है कि वह साल 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा को वोट देने वाले हर शख्स को गोली मार देना चाहते...

ताजा खबर