Watch ISD Live Now Listen to ISD Radio Now

Tagged: OTT

0

देर रात मुंबई पहुंचेगी उत्तरप्रदेश पुलिस की टीम, निर्माता-निर्देशक की गिरफ्तारी संभव

योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार मृत्युंजय कुमार ने अपने ट्वीटर हैंडल पर लखनऊ पुलिस द्वारा की गई एफआईआर की पुष्टि की।

0

मनोरंजन उद्योग को लेकर इतनी लाचारी तो और किसी भी सरकार में नहीं देखी गई

अली अब्बास ज़फर की वेबसीरीज ‘तांडव’ के चाबुक हिन्दू की पीठ पर बरस रहे हैं। ये दिन ‘एक दिन’ तो आना ही था। मैं इस लेख को लिखते हुए बराबर ये सोचता रहा कि...

1

प्रकाश जावड़ेकर को ऐसे पोस्टर क्यों नहीं दिखाई देते, पूछता है भारत

पहले शिवालय में अश्लील दृश्य, फिर वायुसेना का अपमान और अब हमारे भगवानों के हाथ में बंदूके? देश के सूचना व प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को…

1

अनिल कपूर ने जनता को ज्ञान तो दे दिया लेकिन फिल्म के सीन कौन हटाएगा

ऐसे प्रकरणों में दंड देने का अधिकार केंद्र के पास ही है लेकिन वह पिछले छह वर्ष से फ़िल्मी कलाकारों को लेकर अत्याधिक उदार रहा है।

0

नया सूचना-प्रसारण मंत्री ही ओटीटी के घोड़े की लगाम कस सकता है

केंद्र सरकार का ये आदेश उनके ट्वीटर हैंडल पर होना चाहिए था, जो कि नहीं है। ये खबर उनके हवाले से जारी होनी चाहिए थी, जो नहीं हुई।

0

movie review : संत आसाराम पर ऊँगली उठाती एक नाकाम फिल्म है आश्रम

आश्रम का पहला सीजन देखने के बाद ये कहना होगा कि प्रकाश झा ने भी वही काम किया, जो शाहरुख़ खान क्लास ऑफ़ 83 बनाकर कर गए हैं। वास्तविक घटनाओं पर लिखी कहानी में काल्पनिक चरित्र डालकर परदे पर पेश करना अब एक निकृष्ट परंपरा बनती जा रही है।

0

Film review: शाहरुख़ की फिल्म में दाऊद इब्राहिम का नाम ही बदल दिया गया

हुसैन ज़ैदी एक ख्यात पत्रकार और लेखक हैं। उनकी किताब ब्लैक फ्राइडे पर बनी फिल्म अनुराग कश्यप ने निर्देशित की थी। उन्ही हुसैन ज़ैदी की एक किताब ‘क्लास ऑफ़ 83 : द पनिशर्स ऑफ़...

0

Movie Review : बंगाली सिनेमा का काला जादू सम्मोहित करता है!

आप में से कितने दर्शक पाउली दाम को जानते होंगे। कितने हिन्दी दर्शकों ने पाउली की फ़िल्में देखी होंगी। बंगाली सिनेमा के इस काले जादू का सम्मोहन कितनों को छूकर निकल गया होगा। बंगाली...

0

टाइटल में भगवान का नाम जोड़ दो, फिर मीडिया मुफ्त में फिल्म का प्रचार करेगा

फिल्म रिव्यू कृष्णा एंड हिज लीला इस फिल्म के साथ कृष्ण का नाम न जुड़ा होता तो ये औसत से भी कम प्रदर्शन करती। निर्देशक रविकांथ पेरेपु की फिल्म ‘कृष्णा एंड हिज लीला’ एक...

0

फिल्म रिव्यू : ‘गुलाबो-सिताबो’ अब्स्ट्रक्ट पेंटिंग है, जो ड्राइंगरूम में ही रखी रह जाएगी

फिल्म बनाना इश्क करने की तरह है। किसी फिल्म निर्देशक का ये इश्क दर्शक को हमेशा समझ में आ जाए, जरुरी नहीं है। कोई पेंटिंग दिल के बेहद करीब होती है लेकिन बाज़ार में...

0

जब तक आप प्रति-प्रहार नहीं करेंगे, उनके आक्रमण और विषैले होते चले जाएंगे

सन 2018 में ‘सेक्रेड गेम्स‘ का पहला एपिसोड ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज हुआ और ये निश्चित हो गया कि वेब सीरीज एक ऐसा हथियार बनने जा रही है, जिसके जरिये हिंदुत्व पर सुलभता से...

1

ओटीटी छोटे बजट की फिल्मों के लिए वरदान है तो बड़ी फिल्मों के लिए अभिशाप

चीनी कोरोना वायरस ने भारतीय फिल्म उद्योग को बड़ा नुकसान पहुंचाया है। जिस समय कोरोना भारत में पैर पसार रहा था, दो हिन्दी फिल्मों ‘अंग्रेज़ी मीडियम‘ और ‘बागी-3‘ को बहुत बड़ा नुकसान हुआ क्योंकि...

ताजा खबर