केंद्रीय मंत्री ने किया कन्फेडरेशन ऑफ यंग लीडर्स (CYL) वेबसाइट के नए संस्करण को लांच!



Awadhesh Mishra
Awadhesh Mishra

वैश्विक शिक्षा तथा जानकारी देने में हमेशा से अग्रणी रही कन्फेडरेशन ऑफ यंग लीडर्स (CYL) वेबसाइट एक बार फिर अपने नए रंग रूप में लोगों के सामने आई है। नए कलेवर के साथ नए संस्करण में आई कन्फेडरेशन ऑफ यंग लीडर्स (www.cylinternational.com) वेबसाइट को नए सिरे से लान्च किया गया है। केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग एवं नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने शुक्रवार को नई दिल्ली में इस नई वेबसाइट को लॉन्च किया। इस मौके पर CYL के चेयरमैन हिमाद्रिश सुवन, तथा भारत के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न लाल बहादुर शास्त्री के पोते तथा CYL के सीओओ वंश सलूजा भी मौजूद थे। इस वेबसाइट के नए संस्करण के लांच होने के साथ ही हिमाद्रिश सुवन तथा वंश सलूजा ने इस वेवसाइट को विश्व नागरिकता के लिए समर्पित किया।

नए रंग रूप और नए कलेवर में आई कंफेडरेशन ऑफ यंग लीडर्स वेबसाइट न केवल दुनिया में चल नई शैक्षिक जानकारी उपलब्ध कराती है बल्कि यह वेबसाइट युवा नेताओं को आपसी और व्यावहारिक सहयोग के लिए भी जरूरी जानकारी उपलब्ध कराती है। इस वेबसाइट से युवाओं के सगंठनों को ज्यादा लाभ मिलेगा। यह वेबसाइट सूचनाओं के आदान प्रदान के साथ ही युवाओं के संगठनों की आर्थिक स्थिति मजबूत करने में उपयोगी साबित होगी।

गौरतलब है कि देश की क्षमता को दुनिया में प्रसारित करने के लिए सम्मेलनों के आयोजन से लेकर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के सम्मेलन कराने में कन्फेडरेशन ऑफ यंग लीडर्स (CYL) हमेशा आगे रहा है। के आयोजन में अग्रणी रहा है, ताकि भारत की सॉफ्ट पावर क्षमता को रोका जा सके। CYL भारत में विदेशी मिशनों और युवाओं के बीच ट्रैक II डिप्लोमैटिक संवाद का सफलतापूर्वक आयोजन कर चुका है। इस क्षेत्र में काम करने वाला CYL एकमात्र युवा संगठन । राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के सम्मेलनों के आयोजन कराने में इस युवा संगठन ने काफी प्रतिष्ठा अर्जित कर ली है

URL : Union Commerce Minister Suresh Prabhu launched CYL website!

Keywords: cyl website, Commerce Minister, Suresh Prabhu


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !