रक्षामंत्री निर्मला सीतारामण पर दिया अमर्यादित बयान राहुल गांधी को पड़ेगा भारी, महिला आयोग ने जारी किया नोटिस !



Awadhesh Mishra
Awadhesh Mishra

वैसे तो कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का अधिकांश बयान ही अनर्गल होता है, लेकिन रक्षामंत्री निर्मला सीतारामण के खिलाफ दिया अमर्यादित बयान अब उन्हीं पर भारी पड़ने वाला है। क्योंकि राहुल गांधी के इस अमर्यादित बयान को लेकर राष्ट्रीय महिला आयोग ने उन्हें नोटिस जारी कर जवाब देने को कहा है। देखना है अब राहुल गांधी किसके पीछे छिपते हैं।

मालूम हो कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जयपुर में अपने एक भाषण के दौरान राफेल के मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि लोकसभा में सीतारमण ने ढाई घंटे भाषण दिए लेकिन उनकी सभी बातें बेकार हो गईं। क्योंकि उन्होंने एक सवाल का भी संतोषजनक जवाब नहीं दिया। अपने भाषण के दौरान राहुल गांधी ने कहा, “प्रधानमंत्री जनता की अदालत से भाग गए और कहा, ‘सीतारमण जी मुझे बचाओ, मैं खुद को भी नहीं बचा सकता, आप हमें बचाओ.’ लेकिन, वे भी अपने ढाई घंटों के भाषण में उन्हें नहीं बचा सकीं.”

राहुल गांधी के इस प्रकार के बयान को केंद्रीय मंत्री स्मृति इरानी ने उनका अहम बताया है। उन्होंने कहा है कि निर्मला सीतारमण के तथ्यपरक जवाब से राहुल गांधी के अहम को चोट पहुंची है, जिससे उन्होंने अपना संयम खो बैठे हैं। उन्होंने राहुल गांधी पर तंज कसते हुए अपने ट्वीट में लिखा है कि आखिर एक सामान्य महिला की राहुल गांधी को ललकारने की हिम्मत कैसे हुई?

जयपुर में राहुल गांधी के भाषण पर एएनआई की प्रधान संपादक स्मिता प्रकाश ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि राहुल गांधी ने अपने भाषण के दौरान कहा ” छप्पन इंच की छाती वाले प्रधानमंत्री जनता की अदालत यानि पार्लियामेंट में एक बार भी नहीं आए। रक्षामंत्री के भाषण की हमने धज्जियां उड़ा दी, छप्पन इंच की छाती वाले प्रधानमंत्री ने एक महिला से कहा मेरी रक्षा कीजिए। ” राहुल गांधी के इस प्रकार के अनर्गल और अमर्यादित बयान से तो यही साबित होता है कि वह अभी तक राजनीतिक रूप से मेच्योर नहीं हुए हैं।

राहुल गांधी के इस प्रकार के बयान को राष्ट्रीय महिला आयोग ने गंभीरता से लिया है। महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि राहुल गांधी का इस प्रकार का बयान महिला विरोधी है। उन्होंने लिखा है कि जिस प्रकार उन्होंने देश की रक्षा मंत्री को कमजोर बताया है इससे साफ जाहिर होता है कि वह एक महिला को कमजोर मानते हैं। रेखा शर्मा के ट्वीट के बाद राष्ट्रीय महिला आयोग ने अपने आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा है कि महिला आयोग कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को इस मामले में नोटिस जारी करेगा। यहां यह बताना जरूरी है कि महिला आयोग ने राहुल गांधी को नोटिस जारी कर दिया है।

राहुल गांधी के इस बयान को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह तथा विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने महिला का अपमान बताया। पीएम नरेंद्र मोदी ने जब राहुल गांधी के इस बयान को महिला विरोधी करार दिया तो राहुल गांधी ने एक बार फिर मोदी पर पलटवार किया। राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी को संबोधित अपने ट्वीट में लिखा है कि बातों को घुमाना बंद करिए और मेरे सवाल का जवाब दीजिए कि जब वास्तविक राफेल सौदे को आपने बदला तो क्या रक्षा मंत्रालय और वायुसेना ने आपत्ति जताई थी? हां या ना में जवाब दीजिए ।
निर्मला सीतारमण के खिलाफ राहुल गांधी के दिए बयान को विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने निचले स्तर का राजनीतिक बयान बताया है।

राहुल गांधी के इस प्रकार के बयान की आलोचना करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने अपने ट्वीट में लिरखा है कि रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा पार्लियामेंट में दिया गया बेहतरीण भाषण ने विरोधियों को चुप्पी साधने पर मजबूर कर दिया। तथ्यों के आधार पर उनका सामना करने में असमर्थ राहुल गांधी महिलाओं का अपमान कर रहे हैं। महिलाओं के खिलाफ अपने इस प्रकार के बयान के लिए राहुल गांधी को देश की नारी शक्ति से माफी मांगनी चाहिए।

URL : woman commission issued notice to Rahul Gandhi to demeaning RM !

Keyword : Rahul Gandhi, demeaning statement, Defence Minister, PM Modi, Rafael issue महिला आयोग, नोटीस जारी


More Posts from The Author





राष्ट्रवादी पत्रकारिता को सपोर्ट करें !

जिस तेजी से वामपंथी पत्रकारों ने विदेशी व संदिग्ध फंडिंग के जरिए अंग्रेजी-हिंदी में वेब का जाल खड़ा किया है, और बेहद तेजी से झूठ फैलाते जा रहे हैं, उससे मुकाबला करना इतने छोटे-से संसाधन में मुश्किल हो रहा है । देश तोड़ने की साजिशों को बेनकाब और ध्वस्त करने के लिए अपना योगदान दें ! धन्यवाद !
*मात्र Rs. 500/- या अधिक डोनेशन से सपोर्ट करें ! आपके सहयोग के बिना हम इस लड़ाई को जीत नहीं सकते !