सुलभ बनाएगा लोकसभा परिसर में शौचालय: मनोज तिवारी

Manoj Tiwari Sulabh Sauchalaya

सुलभ शौचालय के संस्थापक श्री बिंदेश्वर पाठक भी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के प्रशंसक है और उन पर गर्व करते हैं- ऐसा कहना है नार्थ-ईस्ट दिल्ली से भारतीय जनता पार्टी के सांसद मनोज तिवारी का। सुलभ इंटरनेशनल ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली के सांसद, भोजपुरी गायक व सिने कलाकार मनोज तिवारी का सम्मान किया।

सुलभ शौचालय भारत को भारत में किसी परिचय की जरूरत नहीं और न हीं इसके संस्थापक डॉ बिंदेश्वर पाठक जी को किसी प्रस्तावना की जरूरत है। बिंदेश्वर पाठक वह नाम है जिसने भारत में स्वछता के क्षेत्र में सुलभ नाम से नयी क्रांति ला दी। मनोज तिवारी जी ने कहा कि भारत के 26 राज्यों व कई देशों में अपनी सेवाएँ दे रहा शुलभ शौचालय एक क्रांति है। भारत में समय-समय पर अनेक लोगों ने सर पर मैला ढोने की प्रथा का विरोध किया, किन्तु इस समस्या का समाधान विंदेश्वर पाठक और सुलभ परिवार ने दो गड्ढे वाले शौचालय की खोज कर किया। सिर्फ शौचालय नहीं सुलभ परिवार के द्वारा कई नए स्कूल खोले गए और खोले जा रहे हैं, जिनमें विद्यार्थियों के लिए वोकेशनल ट्रेनिंग जैसे कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं। इनकी संस्था द्वारा मानव मल द्वारा गैस बनाई जा रही जो बिजली के नए विकल्प के रूप में काम आ रही है!

विंदेश्वर पाठक के साथ मुलाक़ात के बाद मनोज तिवारी ने कहा कि पाठक जी जैसे लोगों से आप बहुत कुछ सीख सकते हैं। मनोज तिवारी कहते हैं, लोकसभा परिसर में पाठक जी ने 15 सुलभ शौचालय बनाने का वादा किया है। जिसकी शुरुआत बहुत जल्द हो जाएगी। पाठक जी जैसे लोगों से आप बहुत कुछ सीख सकते हैं। बहुत कम लोग होते हैं दुनिया में जिनका काम बोलता है, बिंदेश्वर पाठक उन्हीं में से एक है!

Comments

comments



Be the first to comment on "मैं अपने लिए इतना ही कहूंगा, हवन करते हाथ जला लिया है: रामबहादुर राय"

Leave a comment

Your email address will not be published.

*