Watch ISD Live Now   Listen to ISD Podcast

Category: जातिवाद / अवसरवाद

0

ब्रह्मेश्वर मुखिया जिन्हें बिहार के लोग आज भी याद करते हैं !

अर्चना कुमारी। आजादी के 75 साल बीतने के बावजूद बिहार की राजनीति जाति के इर्द-गिर्द घूमती रही हैं । आज भी सत्ता उन्हीं को हासिल होता है, जिन के पक्ष में ज्यादा से ज्यादा...

0

भूमिहार समाज से बिहार भाजपा के पहले नेता प्रतिपक्ष बने विजय सिन्हा!

श्री विजय सिन्हा को बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष बनने पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाएँ ।आप भूमिहार समाज से भाजपा के पहले नेता प्रतिपक्ष बने हैं और बिहार के विधायी इतिहास में तीसरे नेता...

0

नव-बौद्ध आंदोलन का पुनर्मूल्यांकन

हिंदू धर्म की उन्नति बौद्ध धर्म के प्रतीकों को एक अवशिष्ट स्थान छोड़ देती है और इसकी क्रांतिकारी क्षमता को कम कर देती है। भारत में बौद्ध धर्म के अनुयायी 14 अक्टूबर 1956 तक...

0

सबसे बड़ा दलित आज ब्राह्मण है!

अज्ञात। आज के जमाने में असली दलित ब्राह्मण हैं। फ्रांसीसी पत्रकार फ्रांसिस गुइटर की रिपोर्ट बताती है कि ब्राह्मण समाज आज सबसे अधिक पिछड़ा है। इस रिपोर्ट के मुख्य बिंदु निम्नलिखित हैं : दिल्ली...

0

बिहार: ब्राह्मण परिवार के 5 लोग फांसी के फंदे पर झूल गये , इनकी जाति की जनगणना कैसे करायेंगे CM नीतीश कुमार ?

बिहार में सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों एक सुर में जाति के आधार पर जनगणना कराने को लेकर सहमत है. जिसके लिए बिहार सरकार 500 करोड़ खर्च करने जा रही है. लेकिन जहां सरकार...

0

यह नव अंबेडकर पंथ है, बौद्ध धर्म कदापि नहीं!

रामेश्वर मिश्रा पंकज। डॉ भीमराव आंबेडकर कुल65 वर्ष 7 माह 23 दिन जीवित रहे। उसमे से 65 वर्ष 6 माह वे सनातन धर्म के अनुयायी रहे। कुल1 माह 23 दिन वे बौद्ध रहे। बौद्ध...

0

इन उच्च जातियों में ऊँचा क्या है ? संविधान जवाब दे!

प्रश्न ये है की ब्राह्मणो को किस आधार पर ऊँची जाती वाला बोल कर सुविधाओं से वंचित किया जा रहा है । आज के दौर में ऐसा क्या है कि ब्राह्मण जाति में जो...

0

यूक्रेन में मारा गया नवीन, भारत की आरक्षण व्यवस्था की भेंट चढ़ गया।

अधिक अंक लाकर भी एडमिशन जब देश में नहीं मिलता तो सवर्ण छात्र बेहतर भविष्य के लिए देश न छोड़े तो क्या करे? यूक्रेन में गोलाबारी में मारे गए भारतीय छात्र नवीन शेखरप्पा के...

0

अगर जातिवाद होता तो राम कभी सबरी के झूठे बेर ना खाते

पंडित अजय शर्मा, काशी। जब अस्पताल नहीं थे तो बच्चे की नाभि कौन काटता था मतलब पिता से भी पहले कौन सी जाति बच्चे को स्पर्श करती थी ? आपका मुंडन करते वक्त कौन...

0

ब्राह्मण-विरोध मूलतः और अंततः हिन्दू समाज को मिटाने की नीति का अंग है!

‘ब्राह्मणवाद’ का सच … चर्च-मिशनरियों की करतूतें… भारतीय राजनीतिक दलों की मूढ़ता… और हिन्दू समाज की दुर्गति। शंकर शरण जी का एक विश्लेषण:- सब से पहले फ्रान्सिस जेवियर (16वीं सदी) ने ब्राह्मणों पर हमला...

0

कोई इस देश को मजहबी आरक्षण की आग से बचाओ!

Sandeep Deo. संविधान निर्माताओं ने रिलीजन के आधार पर आरक्षण का सख्त विरोध किया था। राज्य सरकारों ने OBC की आड़ में मुस्लिम-ईसाई आरक्षण की बाढ़ इस देश में ला रखी है। पश्चिम बंगाल...

0

तो लखनऊ में लगी तमाम मूर्तियों में कोई मूर्ति तिलक, तराजू या तलवार का भी प्रतिनिधित्व क्यों नहीं करती

दयानंद पांडेय। कांशीराम कभी अयोध्या में राम मंदिर की जगह शौचालय बनवाना चाहते थे। जो लोग कभी अयोध्या में राम मंदिर की जगह शौचालय , अस्पताल और विद्यालय बनाने की बात करते थे ,...

0

हार नजदीक देखकर बौखलाई कांग्रेस ने राष्ट्रपति पर किया जातिगत प्रहार!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाओं में उमड़ रही भीड़ ने शायद कांग्रेस के हताश कर दिया है। हताशा में कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी अनर्गल प्रलाप तो कर ही रहे थे, अब उनके नेता...

2

‘रावण’ से प्रियंका क्या मिली, मायावती ने सोनिया-राहुल की लंका में लगा दी आग

कांग्रेस चाहती थी उत्तर प्रदेश में सपा बसपा गठबंधन में हिस्सेदारी पा कर किसी तरह से मोदी भय के कारण सामने आ रहे भयावह चुनावी बैतरनी पार कर ली जाए। लेकिन बसपा सुप्रीम मायावती...

0

कर्नाटक में 52 आदिवासियों और दलितों से यौन उत्पीड़न होता रहा, कांग्रेस-जेडीएस सरकार सोती रही और ‘पेटीकोट मीडिया’ उसे दबाने में जुटी रही!

कर्नाटक के हासन जिले में 52 दलितों को जानवरों के बाड़े में 3 साल से बंद करके रखा गया था।उनसे गुलामों की तरह 19 घंटे काम कराया जाता था।आरोपी कर्नाटक सरकार के एक मंत्री...

0

खुलासा…यादव और कुर्मी जैसे ‘नवसवर्ण’,ओबीसी के नाम पर सरकारी नौकरी का 97 प्रतिशत हिस्सा गटक गये! बांकियों को मिला बाबाजी का ठुल्लू!

पिछले ढाई दशक में भारत के नव सवर्णों ने सरकारी नौकरियों में जरुरतमंदो के नाम पर दी गई आरक्षण की रेवड़ी चाट ली। जरुरतमंदो तक उसकी हक पहुंचने ही नहीं दिया जो उसके हकदार...

0

जाति के नाम पर फेक न्यूज फैला रहा NDTV एक्सपोज़!

वैसे तो अपने आकाओं का एजेंडा प्रचारित और प्रसारित करने के लिए एनडीटीवी न्यूज चैनल पहले से बदनाम है, लेकिन अब उसने सामाजिक और मजहबी घृणा भी फैलाना शुरू कर दिया है। यह काम...

0

विवेक तिवारी की मौत पर भड़काऊ ट्वीट को लेकर केजरीवाल के खिलाफ एफआईआर दर्ज!

मुख्यमंत्री की कुर्सी से चिपके रहने के लिए अपनी ही आम आदमी पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं का अपमान करने वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने अब देश की हिंदू बहू-बेटियों का अपमान करना...

0

कांग्रेस उम्मीदवारों का नाम नहीं, उसकी जाति का भौंड़ा प्रदर्शन कर चुनाव लड़ेगी!

जिस बिहार में सन 1990 तक कांग्रेस का कमोवेश एकछत्र राज हुआ करता था आज वही कांग्रेस इतने नीचे गिर गई है कि उसे अपने नेताओं के माथे पर जाति लिखना पड़ रहा है।...

0

तो क्या एससी/एसटी विधेयक में बदलाव के कारण लालू यादव डिप्रेशन में हैं?

पिछले तीन दशक से बिहार में यदि किसी एक जाति का दबदबा है तो वो यादव हैं। बिहार में समाजिक न्याय की राजनीति की अगुआई करने वाले यादव अब नव सवर्ण की कतार में...

ताजा खबर