Category: विश्व इतिहास

0

पर्सियन साम्राज्य के पराभव से कब सीखेंगे हिंदू!

पुष्कर अवस्थी। भारत के पश्चिम में, मध्यपूर्व एशिया जो इस्लामिक राष्ट्र ईरान है, वहां आज से 1360 वर्ष पूर्व अग्नि पूजक रहते थे जो ज़रथुष्ट्री धर्म के अनुयायी थे और उन्हें ज़ारोऐस्ट्रीअन कहा जाता...

0

मजदूर दिवसः कम्युनिस्टों की तानाशाही स्थापना का बस एक उपकरण था मई दिवस!

आज पहली मई है। पहली मई को पूरी दुनिया के मजदूर इसे ‘मजदूर दिवस’ या ‘मई दिवस’ के रूप में मनाते हैं। इसकी शुरुआत एक यूटोपिया समाज की रचना को लेकर हुआ था, जिसकी...

0

सोवियत संघ के ढ़हने के 25 साल: गोर्वाच्योब ने सोवियत संघ को तोड़कर ‘स्टालिनवाद’ से आखिर किस बात का लिया था बदला?

26 दिसंबर 1991 को सोवियत संघ टूट कर बिखर गया। दुनिया की एक तिहाई आबादी को तानाशाहीपूर्ण साम्यवादी व्यवस्था के अधीन लाने वाले सोवियत संघ के बिखरने का कारण क्या रहा? परमाणु शक्ति से...

दुनिया में कई ऐसे तानाशाह हुए, जिन्होंने असंख्य मानवों की लाश पर खड़े होकर अट्टहास किया!

दुनिया में ऐसे तमाम तानाशाह हुए हैं, जिनके इशारों पर खून की नदियां बहा दी गईं, जिन्होंने लाखों लोगों को मौत के घाट उतरवा दिया, जिन्होंने असंख्य मानवों की लाश पर खड़े होकर अट्टहास...

समाचार