Watch ISD Live Streaming Right Now
0

नई दिल्ली विश्व पुस्तक मेला बना सामाजिक मेल जोल और वैचारिक आदान प्रदान का केंद्र भी

जनवरी माह की ठिठुरन भरी सर्दी में भी दिल्ली वासी जोश से लबालब, कोई शांल ओढे, कोई जैकेट पहने तो कोई मफलरों के बोझ तले दबा हुआ सा , सर्दी पर विजय पाने के सारे हथियार इकट्ठे कर पहुंच...

0

नई दिल्ली विश्व पुस्तक मेले में कंटेम्पररी टच के साथ अवतरित हुए राष्ट्र्पिता महात्मा गांधी

आज के समय में साहित्य की परिभाषा दिन ब दिन बदलती जा रही है. लोग किंडल आदि गैजिट्स पर ई बुक्स भी पढ़्ते हैं, इंटरनेट पर भी पूरी पूरी किताबें डाउनलोड के लिये उपलब्ध रहती...

12

ताना जी : द अनसंग वॉरियर – हम इस फिल्म को साथ घर ले आते हैं

150 करोड़ की भव्य लागत से बनी ‘तानाजी : द अनसंग वॉरियर का बॉक्स ऑफिस पर क्या परिणाम होगा, मैं नहीं जानता। मैं ये भी नहीं जानना चाहूंगा कि पहले दिन इस फिल्म ने...

0

साल की फिल्मों का लेखा जोखा : फिल्म उद्योग ने पांच हज़ार करोड़ की कमाई का आंकड़ा छुआ

2019 का साल फिल्म उद्योग को भारी-भरकम आर्थिक लाभ दे गया। हिन्दी फिल्म उद्योग ने इस वर्ष लगभग पांच हज़ार करोड़ का व्यवसाय किया है। इस व्यवसाय में हिन्दी व अन्य भाषाओँ की डब...

1

फिल्म रिव्यू : सलमान ख़ान का कॅरियर अस्त कर देगी दबंग-3

फ़िल्में सांप-सीढ़ी का खेल होती हैं। अच्छी फिल्म किसी एक्टर को रातोरात सितारा बना देती है तो कोई बहुत खराब फिल्म शिखर पर बैठे सितारे को नीचे ला फेंकती हैं। दबंग-3 सलमान खान के...

0

रिव्यू – जुमानजी द नेक्स्ट लेवल – देखने में खूबसूरत और महसूस करने में रोलर कोस्टर राइड

गेम बदल चुका है। जुमांजी की दुनिया में हरियाली लाने वाली मणि चुरा ली गई है। चारों ओर मरुस्थल और बर्फ है। हरियाली का नामोनिशान नहीं बचा है। खिलाडियों को जुमांजी को बचाने के...

12

Akshay kumar, इस देश से तो आपको इतनी सी शिकायत भी नहीं होनी चाहिए!

एक समय था जब अक्षय कुमार की चौदह फ़िल्में लगातार पिटती चली गई। फिर इस राष्ट्रवादी अभिनेता ने सोचा कि अब भारत में रहने का क्या लाभ है। नफे-नुकसान के बारे में गंभीरता से...

1

फिल्म समीक्षा: पति, पत्नी और वो – मनोरंजन, हास्य और सामाजिक सन्देश देती है ये फिल्म

अब फिल्म उद्योग और नियमित फ़िल्में देखने वाले दर्शक जानते हैं कि इन दिनों ‘बी टाउन’ फिल्मों का ट्रेंड चल रहा है और बड़े प्रोडक्शन हाउस अपनी बड़ी फिल्मों की लागत न निकाल पाने...

0

फिल्म समीक्षा: आशुतोष गोवारिकर के फिल्मी करियर का सबसे भद्दा अध्याय है पानीपत

जब इस फिल्म की कॉस्ट सामने आई थी, तभी अहसास हो चला था कि निर्देशक आशुतोष गोवारिकर ने अपने फिल्म करियर का सबसे भद्दा अध्याय शुरू किया है। ‘पानीपत’ को फिल्म के विद्यार्थियों के...

0

हाँग कांग चुनावों मे हुई प्रजातंत्री खेमे की जीत, जम्मू कश्मीर मुद्दे पर भारत को नसीहत देने वाली चीन को बार बार पड़ रही है मुंह की खानी.

हाँग कांग में हाल ही मे संपन्न हुए चुनावों के परिणाम आ चुके हैं और ये परिणाम इस बात को और भी अधिक रेखांकित कर रहे हैं कि हाँग कांग वासी अब प्रजातंत्र की...

0

दिल्ली में बढ़्ते वायु प्रदूषण के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने फिर दी दिल्ली सरकार को चेतावनी

दिल्ली में बढ़्ते वायु प्रदूषण के मामले में देश के सर्वोच्च न्यायालय यानि सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार को एक बार फिर से खूब खरी खोटी सुनाई. प्रदूषण के मुद्दे पर आक्रामक र्रूख अपनाते...

ताजा खबर
The Latest